अब आप आर्मी डिस्पोजल Gypsy को मात्र 1 लाख में खरीद सकते हैं!

इंडियन आर्मी अकसर अपनी पुरानी गाड़ियों को नीलाम कर उन्हें नयी गाड़ियों से रिप्लेस करती है. अब जब ढेर सारे Tata Safari Stormes आर्मी में लाये जा रहे हैं, इंडियन आर्मी ढेर सारे सेकंड हैण्ड Maruti Gypsy SUVs को नीलाम कर रही है. और सबसे अच्छी बात है की वो बहुत सस्ते हैं 1 लाख रूपए से भी कम. इन सेकंड हैण्ड Maruti Gypsy SUVs के बारे में एक और अच्छी बात ये है की जब वो सिविलियन इस्तेमाल के लिए खरीदे जायेंगे तो वो ‘नए गाड़ियों’ के रूप में रजिस्टर किये जायेंगे, तो वो नए ओनर्स को 15 साल की वैधता देगी.

पुणे के आर्मी स्क्रैप डीलर Nilesh Zende के दसियों Gypsys ली हैं और अब वो उन्हें वहां बेच रहे हैं. इस गाड़ियों को देश के किसी भी हिस्से में भेजा जा सकता है जहां वो नयी गाड़ियों की तरह रजिस्टर होंगी. इनमें से कई गाड़ियाँ चल सकती हैं लेकिन उन्हें रजिस्टर कराने के लिए रीस्टोर कराना होगा. आप Zende से 9421252599/8208338220 पर संपर्क कर सकते हैं. अपने Facebook पोस्ट में Zende ने कहा:

मेरे पास पुणे में बिक्री के लिए आर्मी डिस्पोजल Gypsy 1999 से 2008 मॉडल Gypsy है. अच्छी बॉडीलाइन, सारे पार्ट्स मौजूद हैं. कुछ चलंत हालत में भी हैं. कीमत 1 लाख रूपए से शुरू होकर 2 लाख रूपए तक जाती है. कीमत Gypsy के मॉडल और हालत पर निर्भर है. अगर आप पुणे से NOC और रजिस्ट्रेशन चाहते हैं तो ये कीमत सही है. इसे 15 साल की वैधता के साथ नए गाड़ी की तरह रजिस्टर किया जाएगा.

जिन आर्मी Maruti Gypsys को Mr. Zende बेच रहे हैं वो Gypsy King MG410W सॉफ्ट टॉप वैरिएंट है. 1.3 लीटर, नैचुरली एस्पिरेटेड पेट्रोल इंजन के साथ ये मॉडल 80 बीएचपी और 110 एनएम उत्पन्न करता है. इस इंजन के साथ 5 स्पीड मैन्युअल गियरबॉक्स और हाई एंड लो रेंज वाला 4 व्हील ड्राइव ट्रान्सफर केस स्टैण्डर्ड है. जहां Gypsy बेहद रफ एंड टफ एवं भरोसेमंद मशीन है, ध्यान दिया जाना चाहिए की आपको इस गाड़ी को रीस्टोर करने में लगभग 1 लाख रूपए खर्च करने पड़ेंगे. लेकिन, एक बार पूरी तरह से रीस्टोर होने पर, Gypsy कई सालों तक टिकी रहती है.

Maruti Gypsy का प्रोडक्शन अगले साल खत्म हो जाएगा क्योंकि अभी वाले रूप में गाड़ी Bharat New Vehicle Safety Assessment Program (BNVSAP) क्रैश टेस्ट सेफ्टी नियम का पालन नहीं करती. चूंकि इंडियन आर्मी ने अब Tata Safari Storme चुन लिया है, Maruti के पास अब Gypsy का सबसे बड़ा खरीददार नहीं है. इसका मतलब है की Maruti अपने Gypsy को BNVSAP का पालन करने योग्य नहीं बनाएगी, जिससे इसकी ज़िन्दगी लगभग खत्म होने वाली है. ऐसे माहौल में वो शौक़ीन जो आर्मी डिस्पोजल Gypsy खरीदेंगे उन्हें अगले 15 सालों तक के लिए लगभग 3-4 लाख रूपए लगाकर एक बेहतरीन गाड़ी मिलेगी. (2 लाख कार के लिए और 1-2 लाख रेस्टोरेशन के लिए). नयी Gypsy की ऑन-रोड कीमत लगभग 7 लाख रूपए के आसपास है.