क्यों है मिरर चेक करना और हेलमेट पहनना ज़रूरी, देखें इस विडियो में…

इंडिया में अधिकाँश लोग मुड़ने या लेन बदलने से पहले अपने मिरर्स चेक करना भूल जाते हैं. इससे भी बुरी बात ये है की लोग ड्राइविंग या राइडिंग के दौरान अपने ORVMs खुले भी नहीं रखते. पेश है एक उदाहरण जो ये दिखाता है की मिरर बंद रखे के या बिना चेक किये गाड़ी चलाना कितना खतरनाक है.

यहाँ हुआ क्या?

इस छोटे से विडियो में एक खाली रास्ते पर एक तेज़ रफ़्तार आटोमेटिक स्कूटर एक Maruti WagonR में टकरा जाती है. ये कार सबसे बायीं ओर वाले लेन में थी और ये बिना किसी सिग्नल या इंडिकेटर के अचानक से यू-टर्न लेने के लिए मुड़ गयी.

स्कूटर कार के बोनट से टकरा गयी और राइडर दूर जा कर गिर पड़ा. ये एक्सीडेंट कार और स्कूटर के ड्राइवर्स के गलती की वजह से हुआ. जहां कार ड्राईवर बिना किसी इंडिकेटर के तेज़ी से मुड़ा, स्कूटर राइडर खाली सड़क पर काफी तेज़ जा रहा था.

हमें उन्हें आई चोटों के बारे में कोई ख़ास जानकारी नहीं है लेकिन, स्कूटर राइडर ने हेलमेट नहीं पहनी थी और इस टक्कर के बाद उसे गहरी चोटें आई होंगी. कार ड्राईवर सामने वाले की हालत देखने और मदद के लिए रुका. ये विडियो खाली रोड पर चलने के बावजूद मिरर न इस्तेमाल करने के गंभीर खतरों को दिखाता है.

आपको हमेशा मिरर क्यों चेक करना चाहिए?

मिरर आपको आपके पीछे हो रही घटनाओं की एक साफ़ तस्वीर देते हैं. गाड़ियां तेज़ रफ़्तार से चलती हैं और अगर आप सावधान नहीं रहते हैं, एक्सीडेंट्स हो सकते हैं. आपको हर थोड़ी देर पर अपने मिरर चेक करते रहना चाहिए. शुरुआत में हर 5 सेकंड में तीनों मिरर पर एक सरसरी निगाह डालें. समय के साथ ये एक आदत बन जाएगी और आप ध्यान भी नहीं देंगे की आपने कब तीनों मिरर्स को चेक कर लिया. ये आपको अपने आस-पास के चीज़ों के बारे में सतर्क रखता है.

  • लेन बदलने से पहले हमेशा मिरर चेक करें
  • अगर आप खाली सड़क पर जा रहे हैं, आपके पीछे से आ रही तेज़ गाड़ियों के लिए मिरर चेक करें
  • मुड़ने से पहले हमेशा मिरर चेक करें
  • रोड के किनारे पार्किंग से निकलते वक़्त हमेशा मिरर चेक करें
  • ब्लाइंड स्पॉट में गाड़ियों के लिए हमेशा चेक करें, अगर आप मिरर में गाड़ी देख पा रहे थे और अब उसे नहीं देख पा रहे वो गाड़ी आपके ब्लाइंड स्पॉट में हो सकती है.