देखिये कैसे बालू के टीले पर ये Mahindra Thar लगभग पलट जाती है

Mahindra Thar ऑफ-रोडिंग के शौकीनों की पसंदीदा गाड़ी है. मॉडिफिकेशन प्रेमी भी इस गाड़ी को उतना ही पसंद करते हैं. लेकिन, भले ही एक गाड़ी कितनी भी काबिल हो, इसे चलाने वाले की काबिलियत भी मायने रखती है. एक अच्छा ड्राईवर एक आम 4×4 के साथ भी बेहतरीन ऑफ-रोडिंग कर सकता है वहीँ गैर-अनुभवी ड्राईवर एक काफी ज्यादा मॉडिफाइड 4×4 के साथ भी मुश्किल में फँस सकता है. साथ ही ऑफ-रोडिंग ट्रिप पर जाने के दौरान कई बातों का ख्याल रखना पड़ता है. नीचे दिए गए Lokesh Swami के इस विडियो में आप इसी बात को देख सकते हैं. आइये विडियो देखकर विस्तार से जानते हैं की आखिर हुआ क्या.

जैसा की आपने विडियो में देखा ही होगा, Mahindra Thar एक बालू के टीले से नीचे उतारते हुए लगभग पलट ही गयी थी. यहाँ हुआ ये की शौकीनों का एक गुट ऑफ-रोडिंग के लिए निकला हुआ था और एक ड्राईवर Thar को एक बालू के टीले से नीचे उतार रहा था. लेकिन, गाड़ी की बॉडी के संतुलन के बिगड़ जाने और सतह की अच्छी जानकारी ना होने के चलते Thar इस टीले से उतारते हुए साइड की तरफ फिसलने लगी और लगभग पलट गयी. ये ऐन मौके पर रुकी और एक बड़ी दुर्घटना होते-होते रह गयी.

Thar Offroad

फिर बाकी लोगों ने मिलकर एक विन्च की मदद से गाड़ी को सीधा किया. काफी मशक्कत और एक लम्बे समय के बाद Mahindra Thar अंत में बालू के टीले के नीचे आ पायी और सबने राहत की सांस भरी. विडियो को देखकर हमें पता लगता है की लोग ऑफ-रोडिंग के दौरान कितनी आम गलतियां कर बैठते हैं. हमें आपको पहले ही बताया है की एक ड्राईवर के अनुभव से कितना फर्क पड़ सकता है. इसलिए आगे बढ़ने से पहले हमेशा आगे के रास्ते को जांच लेना चाहिए. साथ ही अचानक गाड़ी को एक्सीलीरेट करना एवं स्टीयरिंग को देर से मोड़ने के चलते ही Thar एक खिलौने के जैसे फिसल गयी.

Thar Offroad 2

इस वाक्ये से एक और बात सीखने को मिलती है की कभी भी अकेले ऑफ-रोडिंग के लिए नहीं जाना चाहिए. क्योंकि अकेले जाने के दौरान अगर आपकी गाड़ी फँस गयी तो आपको बाकी लोग मदद कर सकते हैं. ऑफ-रोडिंग के दौरान हमेशा अपने पास विन्च, फावड़ा, जूट बैग, टायर इनफ्लेटर, सही औज़ार, एवं हाई लिफ्ट जैक जैसी चीज़ें ज़रूर रखनी चाहिए. ऑफ-रोडिंग किसी भी गाड़ी शौक़ीन के लिए मज़े का अच्छा तरीका होता है लेकिन किसी भी दुर्घटना से बचने के लिए हमेशा सावधानी बरतनी चाहिए. साथ ही कहीं भी फंसने पर घबराना नहीं चाहिए और धैर्य से काम लेना चाहिए.