[Video] Royal Enfield Bullet 500 vs KTM Duke 200 in Tug-of-War: Torque Showdown [Video] Royal Enfield Bullet 500 vs KTM Duke 200 किसमें है ज़्यादा Torque

[Video] Royal Enfield Bullet 500 vs KTM Duke 200 किसमें है ज़्यादा Torque

Royal Enfield Bullet को टॉर्क शहंशाह के नाम से जाना जाता है, क्योंकि ये कम आरपीएम पर काफी टॉर्क पैदा कर सकती है. खासकर से ज़्यादा लो-एंड टॉर्क के लिए इसमें हेवी क्रैंक लगा है. Bullet 350/500 ऐसी गाड़ी है जो 60 किमी/घंटे के काफी नीचे होने के बावजूद आसानी से टॉप-गियर में चल सकती है. इसका लो एंड टॉर्क एक कारण है की दूसरे मोटरसाइकिल्स के साथ खींचतान प्रतियोगिता में Bullet पसंद की गाड़ी है. पेश है एक उदाहरण:

जैसा की आप विडियो में देख सकते हैं, KTM Duke 200, जिसका 200 सीसी, लिक्विड कूल्ड इंजन अधिकतम 25 बीएचपी का पॉवर और 19.8 एनएम का टॉर्क उत्पन्न करता है, Royal Enfield Bullet 500 के साथ खींचतान प्रतियोगिता में मुंह की खाता है. Bullet में 500 सीसी, 4-स्ट्रोक, एयर कूल्ड इंजन है जो 27.2 बीएचपी और 41.3 एनएम उत्पन्न करता है. और इसका सारा टॉर्क सिर्फ 3,500 आरपीएम पर उपलब्ध है वहीँ Duke का टॉर्क 8,000 आरपीएम पर.

वहीँ यहाँ दूसरा फैक्टर Royal Enfield मोटरसाइकिल का वज़न भी है जो उसे स्थिर रखता है और ज़्यादा ट्रैक्शन देता है खासकर फिसलन भरी सतह पर. लेकिन ऐसे मोटरसाइकिल्स के बीच ऐसी खींचतान कुछ भी नहीं बताती. ऐसे प्रतियोगिता में एक बाइक का दूसरे को हराना बहुत साड़ी बातों पर निर्भर करता है जैसे, वज़न, पॉवर, टायर की हालत, throttle open position एवं और भी बहुत कुछ. ये विडियो मनोरंजन के अलावे और कुछ नहीं करता.

वहीँ ऐसे कॉन्टेस्ट मोटरसाइकिल्स के इंजन को भारी नुक्सान पहुंचा सकते हैं. आमतौर पर क्लच पहला ऐसा पार्ट होगा जो डैमेज होगा. ऐसे स्टंट को बार-बार दुहराने से बुरे हालातों में इंजन भी सीज़ हो सकता है. कहने का मतलब ये है की अगर आपको एक भरोसेमंद मोटरसाइकिल चाहिए तो ऐसे स्टंट्स से डोर रहिये. बिने प्रोटेक्टिव गियर के किये गए ऐसे स्टंट गहरी चोट भी पहुंचा सकते हैं. ये विडियो सबूत है, जहां इसमें KTM Duke 200 का राइडर अपनी मोटरसाइकिल से गिर जाता है, और लगभग उससे कुचला भी जाता है. हमें उम्मीद है की आप ऐसे स्टंट करने के सारे जोखिमों को अच्छे से समझें.

×

Subscibe our Newsletter