3 ऐसे तरीके जिससे आप गिरी हुई बाइक को आसानी से उठा पाएंगे…

अगर आपने कभी भी एक या दो हज़ार किलोमीटर तक गाड़ी चलायी है, इस बात के आसार हैं की आप कम से कम एक बार गिरे ही होंगे. अब बाइक से गिरना और उसे वापस ठीक से खड़ा करना दो अलग अलग चीज़ें हैं, खासकर के अगर बाइक भारी हो. ज़मीन पर गिरे एक भारी बाइक को उठाना तकनीक पर निर्भर करता है. पेश है एक विडियो जो बिना अपने आप को चोट पहुंचाए हुए गिरी हुई बाइक को उठाने के तीन रचनात्मक तरीके दिखाता है, अगर बाइक लगभग 300 किलो की भी हो तो कोई फर्क नहीं पड़ता. ध्यान से देखिये.

जैसा की विडियो दिखाती है, इसमें सिर्फ ताकत ही नहीं बल्कि तकनीक, और अपने शरीर का चतुर इस्तेमाल शामिल है. इस विडियो में जो आदमी बाइक को उठाता है वो उस भारी भरकम बाइक को उठाने के बजाय सिर्फ उसे धक्का दे रहा है. अपनी पीठ को सीधा रखना काफी ज़रूरी है क्यूंकि हेवी-लिफ्टिंग से आपकी पीठ अकड़ सकती है. कई लोग गिरी हुई मोटरसाइकिल उठाने के चक्कर में स्लिप-डिस्क का शिकार भी हो चुके हैं.

अगर आप Royal Enfield Bullet या Himalayan या काफी बड़ी Triumph Tiger 800 जैसी एक टूरिंग-मोटरसाइकिल खरीदने का मन बना रहे हैं तो ये बात ज़रूर याद रखें की मज़बूत pannier और क्रैश गार्ड बाइक के गिर जाने की परिस्थिति में काफी उपयोगी साबित होते हैं. एक तो वो गिरी हुई बाइक को एक आसान कोण पर रखते हैं जिससे आप बिना ज्यादा मुश्किल के बाइक को आसानी से उठा सकते हैं. दूसरी बात ये की वो गिरते वक़्त आपके पैरों को चोटिल होने से बचाते हैं. तो ऐसे सामान के लिए पैसे खर्च करना जो आपको चोटिल होने से बचा सकें बहुत ज़रूरी है.

और तो और, हाई-क्वालिटी राइडिंग-गियर का कोई विकल्प नहीं होता. जब आप रोड पर होते हैं, और इस बात से मतलब नहीं की आप कौन सी बाइक पर हैं, तो अच्छे क्वालिटी का क्रैश हेलमेट (ISI स्वीकृत) पहनना ज़रूरी है ही. ग्लव्स, राइडिंग जैकेट, एंकल गार्ड, और रीडिंग बूट ऐसे इक्विपमेंट हैं जो क्रैश की स्थिति में आपको बचायेंगे. तो राइडिंग गियर पर कंजूसी मत कीजिये, और यही बात पीछे बैठे सवारी पर भी लागू होती है.

×

Subscibe our Newsletter