TVS Apache 310 vs KTM Duke+RC vs Kawasaki Ninja vs Yamaha R3 के बीच फर्स्ट गियर चैलेंज में कौन जीता [विडियो]

इन्टरनेट पर फर्स्ट गियर चैलेंज एक प्रकार की सनसनी बन गया है. फर्स्ट गियर चैलेंज को करने के लिए आपको अपने बाइक को फर्स्ट गियर में डाल आगे बढ़ना होता है. आप एक्सीलीरेटर को तब तक पूरा खोले रखते हैं जब तक आप इंजन के लिमिट तक ना पहुँच जाएँ. अंत में जो स्पीड होगा वो विजेता का फैसला करेगा. आसान, है ना? हाल में एक यूट्यूब विडियो आया है जिसमें इंडिया की 5 सबसे फेमस स्पोर्ट्सबाइक्स – TVS Apache RR 310, KTM Duke RC 390, Kawasaki Ninja 300 और Yamaha R3 एक दूसरे से भिड़ते हैं. आप विडियो को नीचे देख सकते हैं:

https://youtu.be/w9-la8RpuRo

बाइक्स और उनके स्पीड हैं:

TVS Apache RR 310: 58 किमी/घंटे

KTM RC 390: 56 किमी/घंटे

KTM DUKE 390: 56 किमी/घंटे

Yamaha R3: 66 किमी/घंटे

Ninja 300: 60 किमी/घंटे

Yamaha R3 यहाँ साफतौर पर विजेता है.

Yamaha R3 ने अपने सभी प्रतिद्वाद्नियों से ज़्यादा स्पीड पा ली है. ये कई कारणों से है. इसके 321-सीसी लिक्विड कूल्ड पैरेलल ट्विन सिलिंडर इंजन में छोटे 44-एमएम स्ट्रोक हैं जो उन्हें ज़्यादा रेव करने में मदद करता है. साथ ही इंजन में ट्विन-सिलिंडर लो रेव में कम टॉर्क पैदा करता है जिससे ज़्यादा पॉवर उत्पन्न हो सकता है. इसे एक बेहद लम्बे फर्स्ट गियर के साथ जोड़ने से इसका इंजन बेहद स्मूथ हो जाता है.

Ninja 300 दूसरे स्थान पर आई क्योंकि ये भी एक ट्विन सिलिंडर इंजन बाइक है लेकिन इसका इंजन छोटा है. यही कारण है की Yamaha R3 की स्पीड तक पहुँचने के लिए इसके पिस्टन को ज़्यादा काम करना पड़ता है. बाकी के सिंगल सिलिंडर बाइक्स में लो रेव में ज़्यादा टॉर्क उत्पन्न होता है और हाई रेव में कम पॉवर उत्पन्न होता है. इसके चलते पहले गियर में उनकी स्पीड लगभग बराबर है.

Drag Race 1st Gear

थोड़े छोटे गियर रेश्यो होने के चलते बम्पर से बम्पर ट्रैफिक हालत में चलना आसान हो जाता है. दूसरी ओर, लम्बे रेश्यो होने से आपका इंजन बार-बार बंद हो जाएगा. अगर आप हाईवे पर चल रहे हैं, तो इसका उल्टा सही होता है क्योंकि हाई रेव पर सिंगल सिलिंडर बाइक्स में ज़्यादा वाइब्रेशन मिलता है वहीँ ट्विन सिलिंडर इंजन बेहद स्मूथ होता है.