Toyota Fortuner एवं नई Ford Endeavour फँस गयीं और Pajero पुरानी Endeavour ने इन्हें ऐसे बचाया

बालू में गाड़ी चलाने में काफी मज़ा आता है लेकिन अगर आप ध्यान ना दें तो बालू में बेहद काबिल गाड़ी भी फँस सकती है. पेश है एक विडियो जो कई ऑफ-रोडिंग SUVs को राजस्थान में बालू के टीलों से दो-दो हाथ करते हुए दिखाता है. इस विडियो में आप यह भी देख सकते हैं की बालू में लापरवाही से चलने से फँस जाने का कितना ज़्यादा खतरा बना रहता है.

इस विडियो में शुरुआत में Toyota Land Cruiser Prado, पुरानी और नयी Ford Endeavour, नए जनरेशन वाली Ford Fortuner, Mitsubishi Pajero Sport और Maruti Suzuki Gypsy King जैसी SUVs दिखती हैं. सभी गाड़ियों में 4X4 लगा हुआ है और इनमें लो-रेश्यो ट्रान्सफर केस भी है जो सभी को काफी काबिल गाड़ियाँ बनाता है. जहां गाड़ियों को टीलों पर आसानी से चलते हुए देखा जा सकता है, दो SUVs – एक Ford Endeavour और पुराने जनरेशन वाली Toyota Fortuner बालू में फँस जाती है.

पहले Ford Endeavour के चक्के बालू में फँस जाते हैं और ड्राईवर की कई कोशिशों के बाद भी गाड़ी अपने आप बाहर नहीं निकल पाती. नयी Ford Endeavour थोड़े-थोड़े पॉवर के साथ आगे के चक्कों की दिशा बदलने की कोशिश करने लगती है लेकिन अंत में उसे Mitsubishi Pajero Sport ही आकर बचाती है.

दूसरी फंसने वाली गाड़ी पुराने जनरेशन वाली Toyota Fortuner है. ये गाड़ी लो ब्रेक ओवर एंगल के चलते फँस जाती है. पुराने जनरेशन वाली Fortuner एक टीले से नीचे आने की कोशिश कर रही थी और तभी उसका निचला हिस्सा बालू के ढेर पर आकर लग गया एवं गाड़ी वहीँ फँस गयी. पुराने जनरेशन वाली Fortuner को पुराने जनरेशन वाली Ford Endeavour ने बचाया था और उसे विंच की मदद से खींचा गया.

Fortuner

जहां इन दोनों गाड़ियों को हम विडियो के दूसरे हिस्सों में बिना किसी दिक्कत के बालू के टीलों पर चलते हुए देख सकते हैं, ऑफ-रोडिंग बड़ी बारीक चीज़ है और इसमें गाड़ियाँ बेहद अप्रत्याशित रूप से फँस सकती हैं. जहां बहुत कुछ गाड़ी और ड्राईवर पर निर्भर होता है, अनजान जगहों पर ऑफ-रोडिंग करने से अप्रत्याशित दिक्कतें आ सकती हैं. ऑफ-रोडिंग काफी मजेदार होती है लेकिन आपको ऑफ-रोडिंग के दौरान कुछ बातें दिमाग में रखनी चाहिए.

बिना बैकअप गाड़ी के कभी भी ऑफ-रोडिंग नहीं करनी चाहिए. गाड़ी की काबिलियत और ड्राईवर के अनुभव के बावजूद गाड़ियां आसानी से फँस सकती हैं. ऐसे में बैकअप गाड़ी बचाव का काम करती है. ऑफ-रोडिंग के दौरान टोइंग रस्सी, टायर इन्फ्लेटर, और बालू वाली सीढ़ी जैसी चीज़ें ज़रूर पास रखनी चाहिए. सुनसान जगहों पर फँस जाना बेहद खतरनाक साबित हो सकता है. ऐसे में आपको अपने साथ पानी की कुछ बोतलें एवं कुछ खाने का सामान रखना चाहिए ताकि अगर मदद काफी देर के बाद आये तो भी आप सही हालत में रहें.