Tigers vs. Bikers; Staring Death in the Eye - Tigers बनाम Bikers; मौत से कुछ यूँ हुआ सामना…

Tigers बनाम Bikers; मौत से कुछ यूँ हुआ सामना…

Maharashtra के Tadoba वन आभ्यारण में Chandrapur से एक Hero MotoCorp Splendor पर गुज़र रहे दो लोग दो बाघों द्वारा घेर लिए गए, और उनमें से एक बाघ काफी आक्रामक लग रहा था. ये पूरा वाक्य देख रहे Maruti Gypsy और एक दूसरी 4-व्हीलर पर सफारी पर आये लोगों ने इस पूरे वाकये को देखा और इसे कैमरे में कैद कर लिया, और आखिर में जब एक बाघ (जो आक्रामक दिख रहा था) बाइकर्स के काफी करीब आ गया तब वो बीच बचाव में उतर आये. यहाँ आप देख सकते हैं की बाघ के सामने में कैसे बाइकर्स ने एक ऐसे वक़्त पर बहादुरी का परिचय दिया जब बात आसानी से हाथ से निकल सकती थी.

ये विडियो दिखाता है की बाइकर एक कच्चे रोड के बीच में रुक गए हैं, और देखने से लगता है की ये Maharashtra के Nagpur के पास Tadoba Andhari वन आभ्यारण से गुजरने वाली कई सारी सड़कों में से एक है. Tadoba और साथ में लगा Pench वन आभ्यारण बाघों का एक प्रमुख इलाका है और यहाँ सफारी पर आने वाले लोग आस पास कई सारे बाघों को देख पाते हैं.

आगे और पीछे दोनों ओर से एक एक बाघ से सामना होने पर बाइकर कच्चे रोड के बीच में रुक जाते हैं. Gypsy में बैठे सफारी पर आये लोग इस पूरे वाकये को रिकॉर्ड कर लेते हैं और forest ranger और Gypsy ड्राईवर लगातार बाइकर्स को लगातार निर्देश दिए जा रहे हैं — और उन्हें हिलने से मन कर रहे हैं.

लगभग 3 मिनट बाद, आगे वाला बाघ जो काफी उत्सुक/आक्रामक नज़र आ रहा था बाइकर्स के बिल्कुल करीब आ जाता है. Gypsy का ड्राईवर तुरंत गाड़ी आगे ले जाता है और उसे एक ऐसे जगह तक ले जाता है ताकि गाड़ी बाइकर और बाघों के बीच में आ जाए और बाइकर्स को इस मुसीबत से बाख निकलने का एक मौका मिले. Forest Department ड्राईवर की चतुरता ने बाइकर्स की जान बचा ली, और शायद वो इस दिन को कभी भूल नहीं पाएंगे.

ये सामन भयावह तो है ही ये जंगल के रोड पर बाघों के पाए जाने वाली एक ऐसी जगह — जिसे सिर्फ Forest Department के कर्मी इस्तेमाल करते हैं — से गुजरने के अनेक खतरों को बताता है. हालांकि अभी ये साफ़ नहीं है की ये बाइकर्स जो आस पास के गाँव में रहने वाले लोगों में से एक हो सकते हैं आखिर जंगल के इस रोड पर पहुंचे कैसे. अभी के लिए, कोई ऐसी खबर नहीं है की इन बाइकर्स ने कोई नियम तोड़ा हो. लेकिन, वन आभ्यारण के अन्दर के ऐसे कई सारे रोड — जो कोर या बफर एरिया के नाम से जाने जाते हैं – पर निजी गाड़ियों की आवाजाही पर निषेध रहता है. और मेंटेनेंस और सफारी ट्रिप के लिए ऐसे रोड्स पर सिर्फ Forest Department को आने जाने की अनुमति रहती है.

×

Subscibe our Newsletter