This Super-Rich Sikh Has Rolls Royces To Match Every Color of His Turbans इस अमीर सरदार के पास हैं हर रंग की पगड़ी से मेल खाती Rolls Royces

इस अमीर सरदार के पास हैं हर रंग की पगड़ी से मेल खाती Rolls Royces

लंदन स्थित सिख उद्यमी Reuben Singh ने इस साल की शुरुआत में एक अंग्रेज द्वारा टिप्पणी पर अपनी शानदार प्रतिक्रिया साझा करने के लिए Twitter का सहारा लिया था. अंग्रेज ने ‘पट्टी’ कहकर उनकी पगड़ी का मज़ाक उड़ाया था. Reuben Singh को टिप्पणी करने वाले ने चुनौती दी थी कि वे पूरे सप्ताह अपनी पगड़ियों के रंग से मेल खाते रंग की कार्स लेकर आयें. Singh ने इसका अपने अंदाज में जवाब दिया और चुनौती पर खरा उतरने के लिए पूरे हफ्ते अपनी पगड़ियों के रंग की Rolls Royces में सफ़र करते हुए दिखे.

Reuben Singh With His Rolls Royce 1

इस चुनौती पर Reuben Singh की प्रतिक्रिया की तस्वीरें Twitter सहित विभिन्न सोशल मीडिया वेबसाइटों पर फ़ैल गईं और साल भर में यह भारतीय समुदाय के लिए गर्व का विषय बन गया. कई लोग पगड़ी की चुनौती पर उनकी प्रतिक्रिया की प्रशंसा भी कर रहे हैं.

Reuben Singh को एक समय ब्रिटेन का Bill Gates कहा जाता था और वह फ़िलहाल 2005 में स्थापित एक ब्रिटिश संपर्क केंद्र कंपनी AlldayPA के CEO हैं. वह एक बुटीक प्राइवेट इक्विटी फर्म Isher Capital के भी CEO हैं. हालांकि Singh का यहाँ तक का सफ़र काफी उतार चढ़ाव वाला रहा है.

Reuben Singh ने 1990 के दशक में Miss Attitude ब्रांड शुरू किया था और तब वह सिर्फ 17 वर्ष के थे. यह उस समय ब्रिटेन का सर्वाधिक लोकप्रिय फैशन ब्रांड बन गया. दुर्भाग्यवश अपने व्यवसाय में क़र्ज़ की वजह से उन्हें अपने Miss Attitude को मात्र 1 पौण्ड (लगभग 94.56 रुपये) में बेचने के लिए मजबूर होना पड़ा.

Singh ने 2005 में AlldayPA कंपनी की शुरुआत की लेकिन उन्हें 2007 में दिवालिया घोषित होने के बाद अपनी कंपनी से बाहर कर दिया गया. दिवालिया होने के एक साल बाद Reuben Singh ने एक बार फिर अपना करियर बनाया और AlldayPA के फिर से मालिक बन गए. साल 2015 में उन्हें इस “कॉल आंसरिंग सर्विस” कंपनी का CEO नियुक्त किया गया. अब यह कंपनी 500 लोगों को रोजगार देती है.

Reuben Singh With His Rolls Royces

जहाँ Reuben Singh की कहानी वास्तव में उतार-चढ़ाव से भरी है, उनकी शिखर पर वापसी किसी चमत्कार से कम नहीं है. आज सफलता के नए मुकाम पर बैठे होने के कारण ही वह एक अंग्रेज़ की नस्लभेदी टिप्पणी का करारा जबाव देने में सफल हुए.

इस चुनौती पर विजय पाने के लिए Reuben Singh ने जिन Rolls Royces का इस्तेमाल किया उनमें Ghost Series II से लेकर Phantom VII Drophead जैसी कार्स तक शामिल थीं. याद रहे कि Drophead एक समय भारत की “सबसे महंगी कार” थी जिसकी कीमत 8.38 करोड़ रुपये थी. यह “सबसे महंगी कार” का ख़िताब फ़िलहाल Phantom VIII LWB के पास है जिसकी आधिकारिक कीमत 11.35 करोड़ रुपये है.

×

Subscibe our Newsletter