पेश है इंडिया में रजिस्टर होने वाली पहली Right-Hand-Drive (RHD) Mclaren 720S

कुछ साल पहले के मुकाबले देखें तो इंडिया का सुपरकार मार्केट निश्चित ही तेज़ी पकड़ रहा है. इंडिया के रोड पर पहले भी लिमिटेड प्रोडक्शन कार दिखा करती थीं लेकिन हाल के समय में इंडिया में रजिस्टर हुई लिमिटेड प्रोडक्शन कार्स यहाँ के सड़कों पर दिखने लगी हैं. ये इंडिया की वो पहली Right-Hand-Drive (RHD) Mclaren 720S है जिसपर इंडिया का नम्बर प्लेट लगा होगा. ये कार Pune के एक्सोटिक Poonawalla गेराज की है.

ये इतनी ख़ास क्यों है?

Mclaren 720S एक दुर्लभ कार है और इस सुपरकार के मात्र 400 यूनिट्स बनाये जायेंगे. पहली कार Bengaluru में आई थी और दूसरी Mumbai में. लेकिन इन दोनों कार्स पर Dubai का रजिस्ट्रेशन नम्बर है और ये इंडिया Carnet के ज़रिये आई थीं. Carnet एक स्पेशल परमिशन है जिसे गाड़ियाँ अंतर्राष्ट्रीय बॉर्डर पार करने से पहले लेती हैं. वो कार जो carnet के ज़रिये आती है उसे अंत में अपने देश वापस लौटना ही पड़ता है.

यही बात Adar Poonawalla के इस नए Mclaren 720S को इतना ख़ास बनाती है. इस कार में इंडियन रजिस्ट्रेशन प्लेट लगा होगा और इसे इंडिया में कानूनी तौर पर रजिस्टर कराया जा सकेगा. इसका मतलब है की ये 720S यहाँ हमेशा के लिए रह सकती है.

ऊपर के फोटो इस कार को एक फ़्लैटबेड पर दिखाते हैं. ऑपरेटर्स को इस गाड़ी पर से प्रोटेक्टिव कवर हटाते हुए देखे जा सकते हैं. इस सुपरकार में ऑल-ब्लैक थीम है जो इसे सभ्य और स्टील्थ लुक देता है.

इस कार में 4.0-लीटर V8 ट्विन-टर्बो पेट्रोल इंजन है. इसमें अधिकतम 710 बीएचपी और 770 एनएम उत्पन्न होता है. ये सुपरकार एक काफी सफल ट्रैक मशीन है और इसमें एक्टिव एरोडायनामिक्स हैं जो ऊंचे रफ़्तार पर कार का डाउनफ़ोर्स बढ़ाते हैं. ये बेहद तेज़ है और 0-100 किमी/घंटे मात्र 2.8 सेकेंड्स में पहुँच सकती है. वहीँ इसकी टॉप-स्पीड 341 किमी/घंटे है.

Mclaren 720S तीन अलग-अलग वैरिएंट में उपलब्ध है — स्टैण्डर्ड, लक्ज़री, और परफॉरमेंस. इसके टॉप-एंड वैरिएंट में कार्बन फाइबर के ढेर सारे पार्ट्स हैं. इसमें कार्बन फाइबर का हुड एयर इन्टेक, विनफ मिरर्स, और रियर एयर इन्टेक हैं. इसके लक्ज़री इंटीरियर Alcantara और Nappa लेदर वाले हैं. वहीँ कंट्रास्ट के लिए Zircon silver और ब्रशड iridium ब्राइटवर्क मौजूद है.