This Gujarat Businessman Gifts 600 Maruti Altos, Celerios To His Employees इस व्यापारी ने दिवाली के तोहफे के तौर पर अपने करमचारियों को भेंट कीं 600 Maruti Altos और Celerios  

इस व्यापारी ने दिवाली के तोहफे के तौर पर अपने करमचारियों को भेंट कीं 600 Maruti Altos और Celerios  

गुजरात के व्यापारी Savji Dholakia पिछले कुछ सालों से अपने करमचारियों को महंगे और आलीशान तोहफे — अक्सर कार्स — देने के लिए मशहूर हुए हैं. इस साल दिवाली के मौके पर पर इस हीरों के व्यापारी ने अपनी कंपनी में काम कर रहे लोगों को 600 कार्स भेंट की हैं. प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने खुद यह कार्स कंपनी के करमचारियों को भेंट कीं.

600 कार्स!

Savji Dholakia 2

हर साल सूरत का यह व्यापारी और Hare Krishna Exporters कंपनी का मालिक अपने करमचारियों को तोहफे में कार्स या घर भेंट करता है. इस साल भी उन्होंने भारत सरकार के ‘Skill India Incentive Ceremony’ के दौरान अपने यहाँ काम कर रहे 600 लोगों कार्स तोहफे में दी. प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने एक संक्षिप्त भाषण में इन करमचारियों को बधाई दी और कुछ को खुद कार्स की चाबियाँ दीं.

पिछले साल Savji ने 1,200 Datsun Redi-Go अपने करमचारियों को भेंट कीं थीं. इस साल उन्होंने 600 Renault Kwid, Maruti Suzuki Celerio, और Alto तोहफे के रूप में दीं हैं. यह उपहार देने के लिए Hare Krishna Exporters मालिक ने एक बहुत ही बड़े समारोह का आयोजन किया जहाँ सभी कार्स को एक ही जगह इकठ्ठा किया. सभी कार्स सफ़ेद रंग की हैं और सब पर भारतीय राष्ट्रीय ध्वज तिरंगे की एक स्ट्रिप है. इस सितम्बर Savji ने अपने यहाँ 25 साल से काम कर रहे 3 करमचारियों को Mercedes-Benz GLS SUVs तोहफे के तौर पर दीं थीं.

Savji अपने आलीशान और महंगे उपहारों के लिए जाने जाते हैं और हर साल अपने यहाँ काम कर रहे लोगों को महंगे तोहफों से लाद देते हैं. अभी तक वह अपनी कंपनी में काम कर रहे 5,000 लोगों में से 4,000 को उपहार दे चुके हैं. Savji हीरों का निर्यात करने वाले एक व्यापारी हैं और उनका भारत में हीरों का सबसे बड़ा धंधा है.

Savji Dholakia

Hari Krishna Group के संस्थापक और अध्यक्ष Savji Dholakia ने कहा,

यहाँ Hari Krishna Exports में हमारा मानना है कि किसी भी कंपनी के कर्मचारी उसकी तरक्की और मजबूती का आधार होते हैं. हमारे करमचारियों द्वारा किये गए परिश्रम की हम कद्र करते हैं और उनके इस ज़ज्बे के लिए हम उनका धन्यवाद करना चाहते हैं. Skill India Incentive Ceremony हमारे यहाँ काम कर रहे लोगों को भविष्य में भी इसी तरह परिश्रम करने के लिए प्रेरित करेगा.’’

कार्स के अलावा Savji Dholakia अपने करमचारियों को घर और पैसा भी तोहफे के तौर पर भेंट कर चुके हैं. अभी तक इस बात की पुष्टि नहीं की गयी है कि इतनी साड़ी कार्स इस प्रकार कैसे खरीदी गयीं. मगर पिछले साल Dholakia ने उपहार दी गयीं कार्स लोन पर लीं थीं और EMI हर महीने खुद ही बैंक में जमा कर दी थीं. मगर अगर उपहार पाने वाले किसी कर्मचारी ने 5 साल की लोन की समय सीमा से पहले नौकरी छोड़ी तो कंपनी ने भी EMI भरना बंद कर दिया था.

Savji Dholakia 3

औसतन अगर हर कार की गुजरात में ऑन-रोड कीमत 3.5 लाख रूपए बैठती है तो इस बार तोहफे में दी गयीं कार्स की कीमत बैठती है 21 करोड़ रूपए! Savji Dholakia सूरत में 1977 में आये थे और तब से 6,000 करोड़ रूपए का धंधा खड़ा कर चुके हैं.

 

×

Subscibe our Newsletter