ये 5 निर्देश आपको पैरेलल पार्किंग का उस्ताद बना देंगे!

विदेश में कई जगह लाइसेंस पाने के लिए आपको पैरेलल पार्किंग आनी चाहिए. लेकिन इंडिया में नियमों में ढील होने के चलते कई लोग लाइसेंस पाने के बाद ड्राइविंग सीखना शुरू करते हैं. हर डाइवर को पैरेलल पार्किंग आनी चाहिए क्योंकि ये एक बेहद ज़रूरी स्किल है जो गाड़ी सही से खड़ी करने एवं उसे सुरक्षित रखने में मदद करता है. ऐसे लोग जो पहली बार पैरेलल पार्किंग करने की कोशिश करते हैं, अक्सर कम जानकारी होने के चलते हताश हो जाते हैं, और ये ऐसी चीज़ है जो आज के हर मॉडर्न कार पार्किंग में ज़रूरी होती है. इसलिए पेश हैं 5 निर्देश जो आपको अगली बार पैरेलल कार पार्किंग में काम आयेंगे.

जगह ढूंढें

सबसे पहला कदम है ऐसी जगह ढूंढना जहां दो पार्क की हुई कार्स के बीच में पर्याप्त जगह हो. हमेशा इस बात का ध्यान रखें की आपके गाड़ी के लिए पर्याप्त जगह हो. अपना इंडिकेटर चालू रखें ताकि पीछे की गाड़ियों को पता चल सके की आप पार्क करने जा रहे हैं. नियमतः उपलब्ध जगह आपकी कार की लम्बाई से 4 फीट ज़्यादा होनी चाहिए. अनुभव और अभ्यास के साथ आप अपनी गाड़ी और कम जगह में भी खड़ी कर सकते हैं.

सही जगह पर गाड़ी रोकना

एक बार जब आपने गाड़ी पार्क करने की जगह को चिन्हित कर लिया है, आपको अपनी गाड़ी को रोक लेना चहिये. आपकी गाड़ी का पिछला चक्का पीछे खड़ी गाड़ी के बम्पर के समनांतर होना चाहिए. अगर इसमें दिक्कत आ रही है, आप अपनी गाड़ी का आखिरी पिलर पीछे खड़ी गाड़ी के पिछले कोने के समनांतर ला सकते हैं. अगर आप आराम से पार्किंग करना चाहते हैं तो ये सबसे अच्छा पोजीशन है.

पार्किग शुरू करें

एक बार आप सही पोजीशन में आ गए हैं तो अपनी गाड़ी को धीरे-धीरे रिवर्स करना शुरू करें. अगर पार्किंग आपके दाहिनी तरफ है तो स्टीयरिंग व्हील को पूरी तरह से दाहिनी ओर घुमा दीजिये. अगर वो बायीं तरफ है, स्टीयरिंग को पूरी तरह से बायीं ओर घुमा दीजिये. अब ORVMs की मदद से सुनिश्चित कीजिये की आप पार्क की हुई गाड़ी के ज़्यादा करीब नहीं जा रहे हैं. एक बार आप पीछे खड़ी गाड़ी को अपने बायें ORVM में देख पा रहे हैं तो रुक जाइए.

अपनी गाड़ी को सीधी करें

अब आपको अपनी गाड़ी को पहले से पार्क की हुई गाड़ी के सीध में लाना होगा. ऐसा करने के लिए अपने स्टीयरिंग व्हील को सीधा कर लीजिये और दाहिने ORVM में देखते हुए गाड़ी को रिवर्स करना शुरू कर दीजिये. एक बार आपके गाड़ी का अगला कोना आगे खड़ी गाड़ी के पीछे के उल्टे कोने के सीध में है, आपको स्टीयरिंग बायीं या दायीं (हालत के हिसाब से) ओर लॉक कर लें. ये हमेशा पहले कदम के उलटे दिशा में होता है. एक बार जब आप पूरी तरह से मुड़े हुए अगले चक्कों के बाद रिवर्स करना शुर कर देंगे गाड़ी बिल्कुल सीधी होने लगेगी.

और अंत में

एक बार आपकी गाड़ी सीधी हो जायेगी तो आपको आगे और पीछे इतनी जगह छोड़ देनी चाहिए की गाड़ियों के निकलने के लिए पर्याप्त जगह रहे. ऐसे में 2 फीट की दूरी काफी होती है. खाली जगह ये भी सुनिश्चित करती है की आगे या पीछे खड़ी कार निकलते वक़्त आपकी गाड़ी को टक्कर ना मारे.