Tata Tiago से Renault Kwid तक; कार्स जो कस्टमर्स नज़रन्दाज़ कर देते हैं!

इंडिया में कार की सेल्स दिन प्रतिदिन बढती जा रही है और चूंकि अब ज़्यादा लोग कार खरीद सकते हैं, इंडियन कार इंडस्ट्री सिर्फ आगे ही जायेगी. लेकिन इंडियन कस्टमर्स की चॉइस के चलते सड़क पर एक ही जैसे कार्स की भीड़ लगी होती है. तो आइये एक नज़र डालते हैं 8 ऐसी कार्स पर जिनके बारे में आपको अपनी अगली कार खरीदने से पहले ज़रूर सोचना चाहिए.

Renault Kwid

जहां Renault Kwid इंडिया के सड़कों पर अब जाकर आम बनने लगी है, Maruti अभी भी इस सेगमेंट पर राज करती है और जुलाई 2018 में हर एक Kwid के सेल्स के मुकाबले 5 से ज़्यादा Alto बिके (23,371 Alto के मुकाबले 5,015 Kwid). लेकिन, अपने SUV जैसे डिजाईन के साथ Kwid एक ज़्यादा आकर्षक कार है. साथ ही Kwid के हाई स्पेक्स वाले वैरिएंट में Alto के मुकाबले ज़्यादा फ़ीचर्स हैं. Renault Kwid में 25.2 किमी/लीटर पर Alto के 24.7 किमी/लीटर के मुकाबले ज़्यादा माइलेज भी मिलता है.

Tata Tiago

जुलाई में Maruti WagonR के 14,339 यूनिट्स बिके वहीँ Tiago के 8,009 यूनिट्स. लेकिन, Tiago में पेट्रोल और डीजल दोनों इंजन ऑफर होते हैं और रियर सीट पैसेंजर्स के लिए इसमें ज़्यादा जगह भी है. साथ ही पेट्रोल Tiago 3 किमी/लीटर का ज़्यादा माइलेज भी देती है. और तो और, Tiago ज़्यादा मॉडर्न दिखती है वहीँ Wagon R का बॉक्सी डिजाईन थोडा पुराना दिखता है, वहीँ Tiago थोड़ी सस्ती भी है.

Volkswagen Polo

जुलाई में बिके हर Volkswagen Polo के मुकाबले Maruti के 13 Baleno बिके. लेकिन, Polo में Baleno के मुकाबले ज़्यादा फ़ीचर्स और बेहतर बिल्ड क्वालिटी मिलती है. साथ ही, Polo GT TSI में Baleno RS के मुकाबले बेहतर ड्राइविंग एक्सपीरियंस मिलता है. अगर आपको मजेदार ड्राइविंग वाली कार चाहिए तो Polo बेहतरीन चॉइस है.

Volkswagen Ameo

Volkswagen ने जुलाई में Ameo के केवल 401 यूनिट्स बेचे वहीँ Maruti Dzire के 25,647 यूनिट्स बेचे गए. लेकिन, Ameo डीजल अपने DSG गियरबॉक्स के साथ माइलेज पर केन्द्रित एक सेगमेंट में ज़्यादा स्पोर्टी है. अगर आप स्मूथ और स्पोर्टी ड्राइविंग अनुभव की तलाश में हैं, और डीजल कार ही लेनी है तो Ameo अच्छा ऑप्शन है.

Ford EcoSport

Ford EcoSport ने इंडिया में कॉम्पैक्ट SUV क्रान्ति शुरू की थी. लेकिन, Maruti Brezza के 2016 में लॉन्च होने के बाद से वो Ford से ज़्यादा बिकती है. जुलाई में Brezza की सेल्स 14,181 यूनिट्स की रही वहीँ Ecosport ने 4,040 यूनिट्स बेचे. लेकिन Ford EcoSport में ज़्यादा फ़ीचर्स हैं और इसमें पेट्रोल इंजन का ऑप्शन भी है. EcoSport S एक बेहद बेहतरीन ऑप्शन है. 121 बीएचपी और 170 एनएम के आउटपुट के साथ ये एक फैमिली कार होने के साथ ही ड्राइविंग अनुभव के लिए भी बेहतरीन है.

Renault Duster

Duster वाले सेगमेंट में Hyundai Creta पूरी तरह से हावी है. जुलाई 2018 में Hyundai की Creta के सेल्स 10,423 यूनिट्स थे वहीँ Duster के सेल्स 587 यूनिट्स के थे. लेकिन, जिन लोगों को शहर में चलने के लिए रोज़ के लिए एक SUV चाहिए उनके लिए ऑटोमैटिक Duster की कीमत बस 9.95 लाख रूपए से शुरू होती है वहीँ Creta ऑटोमैटिक 13 लाख रूपए के आसपास से शुरू होती है.

Tata Hexa

Tata Hexa फिलहाल ब्रांड की फ्लैगशिप गाड़ी है. लेकिन, जुलाई में Mahindra के XUV500 की सेल्स 2,766 यूनिट्स की रही वहीँ Hexa की सेल्स मात्र 838 यूनिट्स थीं. लेकिन, Tata SUV बड़े परिवारों के लिए बेहतरीन कार है क्योंकि इसमें आसानी से 7 लोग बैठ सकते हैं. Mahindra और Jeep Compass के मुकाबले Hexa बेहद सस्ती भी है. इसकी कीमत लगभग 12.5 लाख रूपए के करीब शुरू होती है.

Ford Endeavour

फुल साइज़ SUV सेगमेंट में Toyota Fortuner बेताज बादशाह है. जुलाई 2018 में Toyota के 1,856 यूनिट्स के मुकाबले Ford अपने Endeavour के सिर्फ 471 यूनिट्स बेच पायी. लेकिन, Fortuner की तुलना में Endeavour काफी बड़ी है और इसमें 7 लोगों के बैठने की जगह है वहीँ इसका ज़्यादा पॉवर वाला 3.2-लीटर इंजन इसे Fortuner से ज़्यादा पावरफुल भी बनाता है. Ford की बढती हुई सेल्स नेटवर्क का मतलब है की Endeavour मेन्टेन करना भी बेहद आसान है.

सेल्स आकंड़े —  Auto Punditz