Tata Sumo से Mahindra Scorpio; 11 कार्स और SUVs जो पूरी तरह से इंडियन हैं

Tata, Maruti और Mahindra जैसी ब्रांड्स की दशकों पुरानी उपस्थिति ने इंडिया की ऑटो इंडस्ट्री को एक अलग पहचान दी है. पेश हैं इन ब्रांड्स की ऐसी ही कुछ कार्स जिन्होंने एक प्रकार से इंडिया के कार कल्चर को आकार दिया है.

Tata Indica

Tata Indica

आज मार्केट में डीजल कार्स बेहद मशहूर हो चुके हैं लेकिन इंडिया की पहली डीजल हैचबैक होने का खिताब Tata Indica के नाम है. Indica के आईडिया पर काफी अवरोधों को झेलने के बाद Ratan Tata ने ये सुनिश्चित किया की Indica डीजल मार्केट में आये. Indica भले ही बाद में टैक्सी मार्केट में ज्यादा फेमस हुई हो, लेकिन यही वो कार थी जिसने Tata को कार मार्केट में एंट्री दिलाई और इस मुकाम पर ला खड़ा किया की आज Tata अपने Harrier जैसे मॉडर्न कार लॉन्च करने के काबिल बनी है. इसके साथ ही ये वो पहली कार थी जिसे पूरी तरह से इंडिया में ही विकसित कर यहीं बनाया जाता था.

Tata Sierra

Tata Sierra India

कॉम्पैक्ट SUV केटेगरी आने से बहुत पहले एक ऐसी गाड़ी लॉन्च हुई थी और वो थी Sierra. बुच लुक्स, 3 डोर SUV फॉर्म फैक्टर और 4X4 के साथ Sierra एक बेहतरीन मशीन थी. लेकिन ये कभी चल नहीं पायी क्योंकि इंडिया के लोग इतनी नायब गाड़ी पैसे खर्च करने को तैयार नहीं थे. Sierra 2 लीटर डीजल और टर्बो डीजल इंजन के साथ मार्केट में उतारी गयी थी.

Tata Safari

Safari Diesel India

एडवेंचर का पर्याय बन चुकी Tata Safari अपना काम बखूबी करती थी. ये शायद इंडिया की पहली आक्रामक लुक्स वाली SUV थी. इसे 1998 में लॉन्च किया गया था और ये एडवेंचर शौकीनों की पहली पसंद थी. Mahindra Scorpio के आने के बाद भले ही ये थोड़ी फ़ीकी पड़ गयी, लेकिन इसकी अभी भी अपनी अलग फैन फॉलोविंग है.

Maruti Vitara Brezza

Maruti Vitara Brezza India

जब Maruti ने Vitara Brezza को लॉन्च किया था, सब लोगों ने इसकी सफलता को कम कर आँका. इस गाड़ी ने Maruti को SUV सेगमेंट में एक प्रकार से स्थापित किया. इसके साथ ही इसने प्रीमियम मिड-साइज़ SUV का एक पूरा मार्केट खोल डाला. इस गाड़ी को इंडिया में डिजाईन कर बनाया गया था. कई मार्केट्स में एक्सपोर्ट की जाने वाली Brezza को निर्माण भी इंडिया में ही होता है.

Mahindra XUV500

Xuv500

ये प्रीमियम SUV एक प्रकार से लो-एंड SUVs की Audi या BMW है. Mahindra XUV500 ब्रांड के रफ एंड टफ गाड़ियों से अलग थी और इसने हर किसी को चौंका दिया था. ये फिट और फिनिश में काफी प्रीमियम थी और इसके हेडलैंप ने इसे इसका फेमस आक्रामक लुक दिया, जो आज भी काफी प्रख्यात है.

Mahindra Scorpio

Mahindra Scorpio

ये अपने लुक्स के चलते ओरिजिनल रफ एंड टफ SUV थी. Mahindra Scorpio को 2002 में लॉन्च किया गया था. इसे AVL Austria और एक जापानी कंसलटेंट की सलाह से डिजाईन किया गया था लेकिन डिजाईन के अधिकांश पार्ट्स कंपनी ने ही बनाए थे. कीमत कम रखने के लिए इसपर केवल 23 इंजिनियर्स की टीम ने काम किया था. लेकिन इसके डिजाईन को देख ऐसा कभी महसूस नहीं हुआ!

Mahindra E2O

Mahindra Reva E2o India

ये प्रोडक्ट शायद एक कंपनी के कभी ना रुकने वाली रचनात्मकता का सुबूत है. Mahindra की आगे बढ़ते रहने की भूख ने कंपनी की पहली इलेक्ट्रिक गाड़ी E2O को जन्म दिया. E2O के साथ ही Mahindra इंडिया में पूरी तरह इलेक्ट्रिक कार बेचने वाली इकलौती कंपनी बन गयी है.

Tata Nano

Tata Nano India

इंडियन कार्स का ज़िक्र करते हुए आप Tata Nano को नहीं भूल सकते. घोषणा के वक़्त इस लखटकिया कार ने दुनियाभर में सुर्खियाँ बटोरी थीं. ये छोटी और कॉम्पैक्ट थी जिसके चलते ट्रैफिक में इसे चालान बेहद आसान बन जाता था. पूरी तरह से इंडिया में डिजाईन की गयी ये कार इस लिस्ट पर अपनी जगह की हकदार है.

Tata Sumo

Sumo India

इंडियन निर्माता की एक और आइकोनिक पेशकश Tata की इस SUV के चलते जनता को इस सेगमेंट से प्यार हो गया था. इसे पहले एक पैसेंजर गाड़ी के रूप में मार्केट किया गया था जो कई लोगों को लम्बी दूरी तक ले जाने में सक्षम थी. पूरी तरह से इंडिया में बनी ये अपने समय के लिए एक वैल्यू फॉर मनी गाड़ी थी. ये एक बेहद सफल SUV थी जो लॉन्च के बाद Toyota Qualis को टक्कर दिया करती थी.

DC Avanti

Dc Avanti

DC Avanti इंडिया की पहली पूरी तरह स्वदेसी स्पोर्ट्स कार है. हालांकि ये कार हर किसी को पसंद नहीं आये पर ये अपने आप में एक बहुत बड़ी पहल है. DC ने फैसला किया की उन्हें आम जनता के लिए एक किफायती स्पोर्ट्स कार बनानी है और ये उसी का नतीजा था. इस गाड़ी में 248 बीएचपी और 350 एनएम वाला 2.0 लीटर इंजन इसे पॉवर देता है.

Reva-i

Reva India

Reva I एक ऐसी कार है जिसपर इंडिया को गर्व होना चाहिए. ये कंपनी इंडिया में इलेक्ट्रिक कार का कांसेप्ट लेकर आई और ग्लोबल मार्केट के लिए एक इंडिया में ही डिजाईन और विकसित की गयी थी. ये इंडिया में बनायी गयी थी और दुनिया के बाकी मार्केट्स में एक्सपोर्ट की गयी थी. हालांकि ग्लोबल मार्केट ने इस कार को कुछ ख़ास पसंद नहीं किया लेकिन इलेक्ट्रिक व्हीकल होने के नाते इसपर जो रीबेट्स मिलते थे उसके चलते ये काफी महंगी नहीं थी.