Tata Nexon ने 4 स्टार्स के साथ पास किया Global NCAP क्रेश टेस्ट

Tata Nexon का आख़िरकार Global NCAP ने परीक्षण कर लिया है. भारत में बनी इस SUV ने क्रेश टेस्ट में काफी अच्छा प्रदर्शन किया और इसे व्यस्क सुरक्षा के मामले में मिले हैं 4 स्टार्स और बच्चों के सुरक्षा मानक में 3 स्टार्स. Nexon की बाहरी डिजाईन और बॉडी को ‘स्थिर’ करार दिया गया है.

ये रेटिंग्स इस सब-4 मीटर SUV को 64 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ़्तार पर इस पर किये गए फ्रन्टल ऑफसेट टेस्ट के दौरान दी गयीं थीं. ये परीक्षण Global NCAP की जर्मनी के म्युनिक स्थित ADAC टेस्ट लैब में किया गया था. Tata Nexon SUV में स्टैण्डर्ड सेफ्टी फीचर्स की भरमार है जैसे की ड्युअल फ्रंट एयरबैग्स, प्री-टेंशनर्स युक्त सीटबेल्ट्स, ISOFIX चाइल्ड सीट माउंट्स, और ABS. Global NCAP द्वारा किया गया क्रेश टेस्ट दर्शाता है की इस SUV को सबसे अधिक नुक्सान इसके आगे के हिस्से और इंजन में हुआ है. गाड़ी के केबिन को अधिक नुकसान नहीं पहुंचा है और इसका ए-पिलर भी बिलकुल सही-सलामत है.

टेस्ट के नतीजे यह भी दर्शाते हैं की Nexon चालक और आगे बैठने वाले यात्री के सर और गर्दन को बेहतरीन सुरक्षा उपलब्ध कराती है. इतना ही नहीं, किसी दुर्घटना में यह SUV उनकी छाती के लिए भी पर्याप्त रूप से सुरक्षित कराती है. टेस्ट यह भी दर्शाता है की Nexon रियर सीट पर बैठे बच्चे के लिए भी सुरक्षित है. इसके साथ ही ISOFIX फॉरवर्ड फेसिंग सीट भी थोड़े ज्यादा उम्र के बच्चों को पर्याप्त सुरक्षा उपलब्ध कराती है.

Nexon Compact SUV के Global NCAP क्रेश टेस्ट में प्रदर्शन पर बात करते हुए Global NCAP के सेक्रेटरी जनरल डेविड वार्ड ने कहा की, ” Tata Nexon को दिए गए 4 स्टार्स दर्शाते हैं की इस भारतीय कार निर्माता ने वाकई एक बेहतरीन और मजबूत गाड़ी का निर्माण किया है. इसके सेफ्टी पार्ट्स की बेहतरीन परफॉरमेंस भारत में अक्टूबर 2017 से नए मॉडल्स पर लागू हुए सुरक्षा और क्रेश टेस्ट मानकों से कहीं ज्यादा है. ये काफी उत्साहजनक है की Tata कंपनी चालक और यात्रियों की सुरक्षा पर इतना ध्यान दे रही है और दुसरे कार निर्माताओं को इससे सबक लेना चाहिए. भारत की पहली 5-स्टार कार के लिए प्रतिस्पर्धा अब बड़ने की उम्मीद है!”

Institute of Road Traffic Education (IRTE) के अध्यक्ष रोहित बलुजा कहते हैं, “मैं Nexon Compact SUV के बेहतरीन प्रदर्शन पर Tata को बधाई देना चाहूँगा. ये दर्शाता है की देश के भीतर भी पूर्ण रूप से सुरक्षित कार्स का निर्माण किया जा सकता है. Tata के इस बेहतरीन प्रदर्शन और भारत सरकार द्वारा लागू नए क्रेश टेस्ट मानकों के बाद हम देखेंगे की कार्स की सुरक्षा पर कहीं अधिक ध्यान दिया जायेगा और यह भारतीय सड़कों को और अधिक सुरक्षित बनायेंगे.”

सोर्स – Global NCAP on Youtube