Tata Nexon ओनर की Indica लगभग 3 लाख किमी चल चुकी है: Tata Cars हैं सदा के लिए?

जब Tata Motors ने एक साल पहले Nexon लॉन्च की थी, मध्य प्रदेश के एक परिवार ने इसे बिना किसी विलम्ब के खरीद किया था. हमने इस परिवार के एक सदस्य Yash Verma से संपर्क किया, इन्होंने हाल ही में फेसबुक पर लिखा था की वो हमेशा एक Tata ओनर क्यों रहेंगे. यहाँ उन्होंने अपने परिवार के पुराने कार के बारे में बात की थी, ये कार एक 2006 Tata Indica v2 टर्बो है, इस कार के लगभग 2.80 लाख किलोमीटर चलने के बाद भी Yash आज भी इस कार को चलाते हैं.

Tata Nexon Tata Indica Mp 1

Cartoq ने Yash Verma से उनके अभूतपूर्व Indica और उनके परिवार के Tata Motors के कार्स से लगाव के बारे में बात की और उन्होंने ये बताया:

2006 Tata Indica Turbo हमारे परिवार की पहली गाड़ी थी. जब से हमने ये कार खरीदी है इसे लगभग 2.80 लाख किलोमीटर चलाया गया है. आमतौर पर हम इस कार को शहर में या अपने गृहनगर जाने के लिए इस्तेमाल करते थे. इसे हमारे ड्राईवर ने 7 सालों तक चलाया. बाद में, मेरे पपप ने इसे कुछ समय के लिए चलाया. पिछले दो सालों से मैं इसे अपने 50 किलोमीटर दूर स्थित कॉलेज आने-जाने के लिए इस्तेमाल कर रहा हूँ. Indica अभी भी शहर में बिना एसी के 18 किमी/लीटर का माइलेज देती है. एसी चलाने के बाद Indica Turbo लगभग 16 किमी/लीटर का माइलेज देती है. मैंने हाल में ही इसके सारे शॉकर्स बदलवाए थे और इसका एक मेजर सर्विस एक अधिकृत Tata सर्विस स्टेशन पर हुआ था. ये अभी भी एक बेहतरीन कार है और ये नयी कार्स से ज़्यादा पेपी है.

Tata Nexon Tata Indica Mp 2

Tata Indica V2 टर्बो की ओडोमीटर रीडिंग

उन्होंने उस Nexon के बारे में भी बात की जो उनके परिवार ने पिछले साल खरीदी थी. Yash ने अपनी Nexon SUV के बारे में ये कहा,

हमने पिछले साल Nexon खरीदी थी और इसे अब तक लगभग 24,000 किलोमीटर चला चुके हैं. Nexon को अक्सर ड्राईवर या मैं ही चलाता हूँ. हमने इसमें 2,500 किलोमीटर की एक ट्रिप भी की है और सप्ताहांत में इसमें लगभग 300 किलोमीटर चलते हैं. ये हाईवे पर लगभग 21 किमी/लीटर का माइलेज देती है. Nexon ब्रांड का एक बेहतरीन प्रोडक्ट है और इसे चलाना बेहद आरामदायक है. इसका परफॉरमेंस ज़बर्दस्त है और इसमें एक ही दिक्कत है. वो दिक्कत है सर्विसिंग की, वो पहले से बेहतर हुई है लेकिन उसमें अभी भी बेहतरी की ज़रुरत है. मुझे दोनों कार्स बेहद पसंद हैं.

Indica V2 टर्बो को सबसे पहले अक्टूबर 2005 में मार्केट में उतारा गया था, ये उसी 1.4-लीटर 4-सिलिंडर डीजल इंजन वाले आम V2 के नैचुरली एस्पिरेटेड वर्शन के साथ बेचीं जाती थी. Indica V2 टर्बो को 2013 तक बनाया गया था, उसके बाद V2 की जगह Vista ने ले ली.

Tata Nexon Tata Indica Mp 3

Indica टर्बो डीजल को दो वर्शन में बेचा जाता था, इसका आम वर्शन 62 बीएचपी और 122 एनएम उत्पन्न करता था. ज़्यादा पॉवरफुल टर्बो डीजल इंजन में एक इंटरकूलर था और ये 68 बीएचपी और 127 एनएम उत्पन्न करता था. Indica V2 टर्बो में एक 5-स्पीड मैन्युअल ट्रांसमिशन था.

चूंकि ये Indica V2 टर्बो अभी तक चल रही है, इसलिए कोई आश्चर्य की बात नहीं है की Yash Sharma के परिवार ने बेझिझक Nexon खरीद ली. Nexon कंपनी की लेटेस्ट गाड़ी है और इस गाड़ी के साथ Tata Motors ने बेहद प्रतिस्पर्धी कॉम्पैक्ट SUV सेगमेंट में एंट्री ली.

Tata Nexon Tata Indica Mp 4

Nexon में दो टर्बोचार्ज्ड इंजन ऑप्शन, नायाब डिजाईन, और कई ड्राइविंग मोड मिलते हैं. इसका 1.2-लीटर टर्बो पेट्रोल इंजन 5,000 आरपीएम पर 108 बीएचपी और 1,750 आरपीएम पर 170 एनएम उत्पन्न करता है. वहीँ दूसरी ओर, इसका 1.5-लीटर टर्बोडीजल इंजन 3,750 आरपीएम पर 108 बीएचपी और 1,500 आरपीएम पर अधिकतम 260 एनएम उत्पन्न करता है. दोनों ही इंजन का साथ एक 5-स्पीड मैन्युअल या एक AMT गियरबॉक्स निभाता है. जहां पेट्रोल इंजन का माइलेज 17.88 किमी/लीटर है वहीँ डीजल का माइलेज 23.97 किमी/लीटर है.