Tata Motors के बढ़ते सेल्स के पीछे क्या है राज़?

पिछले कुछ सालों में Tata Motors के पैसेंजर कार बिज़नेस ने काफी लम्बा सफ़र तय किया है. साल 1991 में Tata ने पैसेंजर कार बिज़नेस में Sierra के साथ शुरुआत की थी. आज ये कंपनी मुख्यधारा मार्केट के लगभग सभी सेग्मेंट्स में उपस्थित है. लेकिन Tata Nano के लॉन्च के कुछ समय बाद तक कंपनी के दिन कुछ अच्छे नहीं बीते थे. लगभग सभी ने इस कार को फ्लॉप करार दिया था और अब कंपनी इस बात पर विचार कर रही है की क्या इसका प्रोडक्शन बंद कर दिया जाए.

लेकिन, फिर कंपनी ने काफी कुछ सीखा और बेहतर भी किया. कुछ पुरानी साख अभी भी इससे चिपकी है लेकिन बेहतर सेल्स के आंकड़े कंपनी के लिए ख़ुशी की कहानी बयां करते हैं. उनकी लेटेस्ट लॉन्च, Nexon कॉम्पैक्ट SUV इस सेगमेंट में एक हिट है. उनके कांसेप्ट कार्स जैसे Tata H5X SUV, 45X hatchback, और Geneva Auto Show में पेश की गयी EVision कांसेप्ट ने भी पब्लिक में काफी उत्साह पैदा किया.

तो ये हैं मुख्य कारण की Tata की कार्स फिर से क्यों सभी को भा रही हैं.

बेहद वैल्यू फॉर मनी

Tata की हाल की सभी गाड़ियां वैल्यू फॉर मनी में काफी आगे हैं. Tata के प्रोडक्ट्स में फ़ीचर्स, स्पेस, परफॉरमेंस, और किफ़ायत का बेहतरीन मिश्रण रहता है. उदाहरण के लिए Tata Tigor इस देश की सबसे सस्ती सेडान है. इंडिया जैसे प्राइस सेंसिटिव मार्केट में प्राइसिंग का एक अहम रोल होता है. इस फील्ड में Tata ने पूरी तरह से बाज़ी मार ली है.

खूबसूरत नए डिजाईन

आज Tata Motors सभी सेग्मेंट्स में सबसे अच्छे डिजाईन ऑफर करती है. Tata की सभी लेटेस्ट और अपकमिंग कार्स को Pratap Bose के काबिल लीडरशिप वाली डिज़ाइनर्स की टीम डिजाईन करती है. Tata की नयी कार्स इतनी अच्छी दिखती हैं की वो वो विदेशों में भी आराम से घुल-मिल जाएँगी. और सिर्फ यही नहीं, मार्केट में दूसरे मॉडल्स से दीगर Tata की कार्स कांसेप्ट से काफी मिलती जुलती हैं. Tata Hexa और Nexon इसके उदाहरण है. यही बात Tata H5X SUV और 45X hatchback के प्रोडक्शन वर्शन के बारे में उमीदें जगाती है.

ऊपर के सेगमेंट वाले फ़ीचर्स

Tata की सभी लेटेस्ट कार्स फ़ीचर्स से भरी होती हैं और ये फ़ीचर्स आमतौर पर ऊपर वाले सेगमेंट के कार्स में पायी जाती हैं. उदाहरण के लिए, Tata Nexon में ड्राइविंग मोड्स हैं और ये एक ऐसा फ़ीचर है जो सिर्फ महंगी गाड़ियों में होता है. यहाँ तक की Hexa में भी काफी प्रीमियम ऑडियो सिस्टम है जिसमें 10 स्पीकर्स और एक सब-वूफ़र है. इसकी साउंड क्वालिटी प्रीमियम कार्स जैसी है.

किफायती मेंटेनेंस

बाकी सारे ब्रांड्स के मुकाबले Tata कार्स को मेन्टेन करना काफी आसान होता है. हम ऐसा इसलिए कह रहे हैं क्योंकि इसकेस्पेयर पार्ट्स की कीमत काफी कम होती है और कंपनी का सर्विस नेटवर्क काफी बड़ा है.

क्वालिटी लेवल बेहतर हुई है

पहले Tata Motors की क्वालिटी के ऊपर काफी आलोचना होती थी. उसके बाद से चीज़ें बहुत बेहतर हुई हैं. कंपनी के क्वालिटी लेवेल्स अब प्रतिद्वंदियों से कदम-से-कदम मिला कर चलते हैं.

जगहदार

Tata कार्स में हमेशा से काफी जगह रही है. और अभी के कार्स में भी ये बदला नहीं है. आज के सभी Tata मॉडल्स में जगहदार केबिन और बढ़िया बूट स्पेस है.

बढ़िया बिल्ड

Tata के सभी लेटेस्ट कार्स को उनके बेहतर बिल्ड के लिए सराहा गया है. यहाँ तक की 2016 के अंत में NCAP द्वारा टेस्ट की गयी Zest ने भी 4 स्टार्स की रेटिंग पायी. जहां NCAP ने अभी तक Tiago को टेस्ट नहीं किया है, कई क्रैश हादसे इसकी बेहतर बिल्ड क्वालिटी की ओर इशारा करते हैं.

बढ़िया नयी कार्स जल्द आ रही हैं

इस बात की पूरी संभावना है की Tata Motors जल्द ही नयी कार्स के लॉन्च के साथ अपने प्रोडक्ट पोर्टफोलियो को और भी बेहतर बनाएगा. इसमें प्रोडक्शन स्पेक वाला H5X और 45X शामिल है. जहां H5X Jeep Compass को टक्कर देगी, 45X Maruti Baleno से दो-चार होगी.

किफायती परफॉरमेंस कार्स

Tata इंडिया में जल्द ही कुछ परफॉरमेंस कार्स लॉन्च करने वाली है. ये जल्द लॉन्च होने वाली कार्स Tiago और Tigor पर आधारित होंगी और JTM — Jayem और Tata Motors का जॉइंट वेंचर — के तहत बनेंगी. इन कार्स में ज्यादा पॉवर और परफॉरमेंस ट्यूनड सेटिंग्स होंगी. पूरी संभावना है की Tata Tiago JTP और Tata Tigor JTP इस देश की सबसे सस्ती परफॉरमेंस कार्स होंगी.

बेहतरीन स्ट्रीट प्रेसेंस

जहां Tata अपने नए छोटी कार्स के साथ अच्छा परफॉर्म कर रही है इसके SUVs की स्ट्रीट प्रेसेंस हमेशा से ही अच्छी रही है. इसका एक उदाहरण है Tata Hexa, जो ब्रांड का लेटेस्ट फ्लैगशिप है. Hexa की स्ट्रीट प्रेसेंस बेहतरीन है और इसका श्रेय इसके बोल्ड स्टांस और साइज़ को जाता है.