Army-स्पेक Tata Safari Storme की डिलीवरीज़ हो गयीं शुरू!

Indian Army ने कुछ समय पहले Tata Motors को Safari Storme के लगभग 3,000 यूनिट्स सप्लाई करने का कॉन्ट्रैक्ट दिया था. उसके बाद से ये इंडियन निर्माता Army के लिए गाड़ियों को लगातार टेस्ट कर रही है और अब डिलीवरी भी शुरू हो गयी है. हाल ही में एक ट्रक को ऑलिव ग्रीन रंग से भरे Tata Safari Storme की डिलीवरी करते हुए देखा गया था.

Tata Safari Storme धीरे-धीरे Maruti Gypsy की पुरानी होती फ्लीट, Mahindra MM550 DXB और Hindustan Ambassador को रीप्लेस करेगी. ये SUV आर्मी में स्टाफ़ कार्स के रूप में इस्तेमाल की जायेगी और साथ ही इसे छोटे-मोटे कॉम्बैट के दौरान सेकेंडरी पैट्रॉलिंग गाड़ी के रूप में भी इस्तेमाल किया जाएगा. Tata Motors इन SUVs के लिए ऐड-ऑन आर्मर भी सप्लाई करेगी ताकि ये ब्लास्ट्स और गोलियों से बेहतर ढंग से निबट पाएं.

इसके बदलावों में जवानों को आसानी से संचार का माध्यम देने वाला बोनट पर लगा ऐन्टेना और रियर में पिंटल हुक शामिल है जो दूसरे गाड़ियों को खींचने में मदद करेगा. इस गाड़ी में फ्रंट में अतिरिक्त लैंप भी हैं जो चुनौती भरे जगहों पर रात में आसानी से चलने में मदद करेंगे.

Safari Storme में गाड़ी के साइड में जेरीकैन भी है. ऑलिव ग्रीन रंग की गाड़ियां केवल Indian Armed Forces सवार इस्तेमाल की जा सकती हैं. अगर कोई भी आम गाड़ी इस रंग की है तो उसे रजिस्टर नहीं कराया जा सकता है. ये Army के Safari को आम वर्शन से अलग पहचान देता है. यहाँ तक की व्हील्स पर भी वही ऑलिव ग्रीन कोट है.

अन्दर की ओर, कार आम मॉडल जैसी ही है. इसमें बेज इंटीरियर और फ्रंट और रियर में फ्लेक्सिबल मैप लाइट्स हैं. इस गाड़ी में पॉवर-स्टीयरिंग और एसी स्टैण्डर्ड है और Army-स्पेक वाली गाड़ी मिएँ भी ये उपस्थित होगा. Tata Safari Storme में ड्यूल फ्रंट एयरबैग्स भी हैं जो अभी सर्विस में मौजूद Maruti Gypsy, Mahindra MM550 DXB और Hindustan Ambassador में से किसी भी गाड़ी में नहीं हैं.

इसके पॉवर आउटपुट को भी अपडेट किया गया है लेकिन री-ट्यून किये हुए आंकड़े की जानकारी नहीं है. आम वर्शन में एक 2.2-लीटर Varicor टर्बोचार्ज्ड डीजल इंजन है जो अधिकतम 154 बीएचपी और 400 एनएम का आउटपुट देता है. इसमें एक 6-स्पीड मैन्युअल ट्रांसमिशन और टॉर्क-ऑन-डिमांड ट्रान्सफर केस है.

सोर्स