Tata Harrier पर आधारित 7-सीटर H7X SUV की कुछ नई जानकारियां आईं सामने!

Tata Motors ने अपनी बहुप्रतीक्षित Harrier SUV का पूर्ण अनावरण कर दिया है. इस ब्रैंड की यह नई 5-सीटर SUV Jaguar-Land Rover प्लैटफॉर्म पर आधारित पहली गाड़ी होगी. Tata अपनी इस Harrier की कीमतों का खुलासा जनवरी 2019 में करेगी. वहीं कंपनी ने इस गाड़ी के 7-सीटर संस्करण पर काम अभी से शुरू कर दिया है.

Tata के एक कर्मचारी ने Harrier के केवल मीडिया के लिए आयोजित किए गए आधिकारिक ड्राइव कार्यक्रम के अवसर पर Harrier के 7-सीटर संस्करण (जिसका कोड-नेम H7X है) के बारे में कुछ जानकारियां उजागर की. इस गाड़ी को 2019 के अंत में भारतीय बाज़ार में उतारे जाने की उम्मीद है और इसे टेस्टिंग के दौरान सडकों पर भी देखा गया है.

Tata H7x Render

जैसे Harrier को युवा ग्राहकों पर लक्षित किया जाएगा, वैसे ही H7X के निशाने पर एक अधिक सीटों वाली फैमिली कार खरीदने के इच्छुक ग्राहक होंगे. H7X भी Harrier के जैसे ही Omega Arc प्लैटफॉर्म पर आधारित होगी लेकिन इसमें दो सीट वाली एक अतिरिक्त कतार के लिए जगह बनाई जाएगी. Tata इस गाड़ी की कुल लम्बाई में 200 एमएम का इज़ाफा करेगी. इस गाड़ी की लम्बाई में किए जाने वाले इजाफे से इसका व्हीलबेस भी प्रभावित होगा. बताते चलें कि लम्बाई के मामले में यह कार अपनी प्रतिद्वंद्वी Mahindra XUV से अच्छी-खासी बड़ी है. H7X की लम्बाई में 200 एमएम के इजाफे का मतलब सड़क पर एक विशालकाय गाड़ी जिसके पीछे वाली सीटों की कतार पर बैठी सवारी के लिए एक खुली-खुली जगह. H7x की रूफ-लाइन Harrier की तुलना में ज्यादा चपटी और सीधी होगी. इससे यह भी सुनिश्चित होगा की गाड़ी की सीटों की आखिरी कतार पर बैठी सवारी को भी बढ़िया हैडरूम मिलेगा.

गाड़ी की लम्बाई में इज़ाफे का मतलब यह हुआ कि Tata इसमें सामान रखने के लिए भी भरपूर जगह देगी. अधिकतर 7-सीटर गाड़ियों में सीटों की तीनों कतारें खुली होने की स्थिति में बूट स्पेस की कमी होती है. उदाहरण के लिए Mahindra XUV 500 तीनों सीटों की कतारों के खुले होने की स्थति में सिर्फ 93-लीटर की बूट स्पेस मुहैय्या कराती है जिसमें शायद ही कोई बड़ा सामान रखा जा सकता है. लेकिन H7X में एक बेहतर स्तर का बूट स्पेस दिए जाने की उम्मीद है ताकि इसकी छत पर कैरियर लगाने की आवश्यकता ही न पड़े.

Tata Harrier में Fiat का एक 2.0-लीटर Multijet डीज़ल इंजन लगाया गया है जो 140 पीएस की अधिकतम पॉवर और 350 एनएम टॉर्क पैदा करता है. Tata ने Harrier की माइलेज के बारे में कोई आधिकारिक जानकारी नहीं मुहैय्या कराई है लेकिन Jeep Compass इस ही इंजन के एक री-ट्यून्ड संस्करण से तुलनात्मक रूप से कहीं अधिक पॉवर लेती है. पॉवर के निचले स्तर के कारण Tata को इस गाड़ी से बेहतर माइलेज निकालने का मौका मिलता है. H7X में भी अपने लॉन्च पर इस ही इंजन का इस्तेमाल किए जाने की उम्मीद है लेकिन इस बात की पूरी-पूरी सम्भावना है की Tata इस इंजन में थोड़े बदलाव कर H7X के ज़्यादा वज़नी होने के लिहाज़ से इस इंजन से अधिक पॉवर निकाले.

इस गाड़ी के लॉन्च पर Tata इसमें एक 6-स्पीड मैन्युअल ट्रांसमिशन देगी. लेकिन संभव है कि लॉन्च के वक्त ही H7X का ऑटोमैटिक संस्करण भी उपलब्ध हो. Tata ने इस गाड़ी के दोनों संस्करणों में AWD (आल-व्हील ड्राइव) या 4X4 (4-व्हील ड्राइव) विकल्प की सम्भावना से साफ़ इनकार किया है लेकीन बर्फीली और रेतीली सतहों के मुकाबले के लिए इस गाड़ी में टेरेन रेस्पोंस सिस्टम दिया जाएगा.