Suzuki Hayabusa की आवाज़ बनी मुसीबत, ऐसे हुआ पुलिस से सामना

भारत में बाइक्स और कार्स पर आफ्टरमार्केट एग्जॉस्ट लगवाना गैरकानूनी है. लेकिन इअसे कई लोग हैं जो ये काम करने के बावजूद पुलिस की नज़रों से बचे रह जाते हैं. कर्नाटक का ये विडियो एक ऐसे ही रेव प्रेमी बाइकर को दर्शाता है जिसने अपनी बाइक के फोटो शूट के दौरान पुलिस का ध्यान आकर्षित कर लिया.

पुलिस तब पहुँचती है जब बाइकर अपनी बाइक को दिल खोल कर रेव कर रहा था. यहाँ ध्यान दिया जाना चाह्गिये की Hayabusa पर देखा गया एग्जॉस्ट मफलर स्टॉक नहीं है. पुलिस इन लोगों के पास पहुँच कर पूछती है की क्या ये स्टंट कर रहे थे. जब सवाल जवाब का सिलसिला शुरू होता है, तब विडियो में मौजूद इंसान के मुताबिक़ बिना हेलमेट वाले आसपास के कुछ बाइकर्स मौके से चम्पत हो गए.

फिर पुलिस ने कहा की पुलिस ने उन्हें स्टंट करते हुए देखा है और किसी ने उनके खिलाफ शिकायत दर्ज कराई है. बाइकर्स ने इस बात से इनकार किया और कहा की वो पिछले आधे घंटे से बाइक की शूटिंग कर रहे थे. विडियो में यही बाइक आम सड़क पर स्टंट कर रही थी, जो गैरकानूनी है. बाद में पुलिस उन्हें कहती है की उन्हें ऐसी चीज़ की अनुमति लेनी चाहिए और बिना पुलिस के सुरक्षा के ऐसी चीज़ों को नहीं करना चाहिए. बाद में बाइकर्स पर तेज़ आवाज़ वाले एग्जॉस्ट के लिए जुर्माना नहीं लगाया जाता है और वो मौके से निकल जाते हैं.

परफॉरमेंस एग्जॉस्ट से इतनी तेज़ आवाज़ आती है की आम सड़क पर उनके इस्तेमाल पर बैन लगाया गया है. देशभर में अधिकांश पुलिसवाले तेज़ आवाज़ वाले एग्जॉस्ट पर कार्यवाही करने लगे हैं. अपने आफ्टरमार्केट एग्जॉस्ट के लिए मशहूर Royal Enfield उनके लिस्ट में सबसे ऊपर हैं. कई बार पुलिस सुपरबाइक्स को भी रोकती है लेकिन अक्सर वो अपने स्टॉक आवाज़ को इतना तेज़ होने का बहाना बनाकर निकल जाते हैं. पुलिस के पास आमतौर पर आवाज़ मापने वाला यन्त्र नहीं होता जिससे ऐसे लोग बच निकलते हैं.

Hayabusa Busted Featured

लेकिन, ऐसे कई मामले सामने आये हैं जहां सुपरबाइक्स को ट्रैफिक पुलिस ने रोका है और उनपर तेज़ आवाज़ के लिए जुर्माना लगा है. जैसे-जैसे पुलिस को ऐसी बाइक्स और आफ्टरमार्केट एग्जॉस्ट का पता लग रहा है, हम इस बात को लेकर आश्वस्त हैं की भारत में आफ्टरमार्केट एग्जॉस्ट सिस्टम का भविष्य सीमित है. सड़क पर आफ्टरमार्केट एग्जॉस्ट अपनी तेज़ आवाज़ के चलते बड़ी दिक्कतें पैदा करते हैं.

लेकिन सारे आफ्टरमार्केट एग्जॉस्ट गैरकानूनी नहीं होते. ऐसे कई एग्जॉस्ट हैं जो ध्वनि सीमा का पालन करते हैं और साथ ही परफॉरमेंस भी बेहतर करते हैं. लेकिन, वो परफॉरमेंस एग्जॉस्ट जितने कारगर नहीं होते.