कितने प्रकार की गाड़ियाँ हैं मार्केट में? पेश है SUV से लेकर हैचबैक तक सारे शब्दों का मतलब

जैसा की हमारे पाठकों को हमारे लेखों से अंदाजा लग ही गया होगा, ऑटो जगत में अधिकांश शब्द अंग्रेजी से लिए गए होते हैं. यहाँ तक की ऑटो, कार्स और बाइक्स खुद अंग्रेज़ी शब्द हैं! आप तक आपकी अपनी भाषा में कार्स और बाइक्स के जगत से जुड़ी सारी जानकारी पहुंचाने की कोशिश में हमें अकसर कई ऐसे ही अंग्रेजी शब्दों का इस्तेमाल करना पड़ता है जिनका हिंदी अनुवाद या तो संभव नहीं या बेहद जटिल है. इसीलिए आज हम आपके सामने लेकर आये हैं कार्स से जुड़े 5 ऐसे बेहद आम शब्द जिनका इस्तेमाल हमारे लेखों में काफी ज़्यादा होता है.

SUV

Tata Nexon Kraz 2

SUV (Sports Utlity Vehcile) आमतौर पर ऐसी कार्स होती है जिसका ग्राउंड क्लीयरेंस काफी ज़्यादा होता है एवं इसमें 4 व्हील ड्राइव होता है जिससे ये मुश्किल जगहों पर भी आसानी से चल सकती है. लेकिन, भारत जैसे कीमत को लेकर संवेदनशील पर SUV प्रेमी बाज़ार में आपको कई गाड़ियाँ मिल जायेंगी जिनमें 4 व्हील ड्राइव नहीं है, फिर भी वो SUV कहलाती हैं, इन्हें हम आमतौर पर सॉफ्ट-रोड SUVs कहते हैं, वहीँ 5-सीटर SUVs को कॉम्पैक्ट SUV कहा जाता है. SUVs आमतौर पर बड़ी भी होती हैं लेकिन 4 मीटर से छोटी गाड़ियों पर कम टैक्स के चलते भारत में आपको सब-4 मीटर SUV भी देखने को मिल जायेंगी.

Fortuner

तो अगर SUV का उदाहरण दिया जाए तो उसमें Maruti Suzuki Gypsy, Mahindra Thar, Toyota Fortuner, Mahindra Bolero (4WD मॉडल), Mahindra Scorpio (4WD मॉडल), और Isuzu D-Max V-Cross जैसी गाड़ियाँ आएँगी. वहीँ सॉफ्ट-रोडर SUVs और कॉम्पैक्ट SUV की बात की जाए तो उसमें Hyundai Creta, Tata Harrier, Hyundai Tuscon, और Honda CR-V जैसी गाड़ियाँ आती हैं. सब-4 मीटर कॉम्पैक्ट SUV में हम Tata Nexon, Ford EcoSport, Maruti Suzuki Vitara Brezza, और अपकमिंग Mahindra XUV300 जैसी गाड़ियाँ शामिल होंगी.

Hatchback/हैचबैक

Maruti Alto 800

इस प्रकार की कार भारत में सबसे ज़्यादा प्रसिद्ध होने के साथ सबसे ज़्यादा बिकती भी हैं. हैचबैक एक छोटी कार होती है जिसमें सेडान की तरह पीछे बूट निकला हुआ नहीं होता. साइज़ में छोटी ये कार्स आमतौर पर बेहद किफायती एवं शहरी यातायात के लिए बेहतरीन होती हैं. हैचबैक्स में भी कुछ प्रकार होते हैं जो मुख्यतः फ़ीचर्स और साइज़ पर निर्भर होते हैं, छोटे हैचबैक्स के उदाहरण में Maruti Suzuki Alto 800, Maruti Suzuki Alto K10, Renault Kwid, Datsun redi-Go वगैराह मिलेंगे.

Swift 2

वहीँ इनसे बड़ी हैचबैक्स को ऊंचाई के हिसाब से टॉल-बॉय हैचबैक कहते हैं और इसके मुख्य उदाहरण में Maruti Suzuki WagonR aur Hyundai Santro जैसे मॉडल शामिल हैं. फ़ीचर्स में आगे बढ़ें तो हमें Maurti Suzuki Swift, Hyundai Grand i10, और Tata Tiago जैसे मॉडल मिलते हैं. वहीँ थोड़ा लक्ज़री की ओर बढ़ें तो हमें Maruti Suzuki Baleno, Hyundai Grand i20, और Volkswagen Polo जैसे मॉडल मिलेंगे. अब मार्केट में हमें कुछ हॉट-हैचबैक भी देखने को मिल रहे हैं जिनमें बाकि सारी चीज़ों को समान रखते हुए हमें ज़्यादा पॉवर मिलता है और इसके उदाहरण Tata Tiago JTP, Maruti Suzuki Baleno RS और Volkswagen Polo GT हैं.

Sedan/सेडान

New Honda Amaze

अब बात एक ऐसे तरह की कार की करते हैं जो कार का नाम लेते हीं सबके दिमाग में आता है, और वो है सेडान. आमतौर पर पारिवारिक गाड़ी मानी जाने वाली सेडान में आपको सबसे ज़्यादा सेगमेंट मिलेंगे. यहाँ भी 4 मीटर से छोटी गाड़ियों पर कम टैक्स लगने के कारण सब-4 मीटर कॉम्पैक्ट सेडान केटेगरी है इसके उदाहरण में हम Honda Amaze, Maruti Suzuki Dzire, Hyundai Xcent, Tata Tiago, Volkswagen Ameo वगैरह को गिन सकते हैं.

New Maruti Ciaz9

इसके ऊपर बढ़ने पर हमें ज़्यादा फ़ीचर्स वाले Honda City, Maruti Suzuki Ciaz, Hyundai Verna, Volkswagen Vento जैसे उदाहरण मिलेंगे. अगर हम थोड़ा लक्ज़री की तरफ बढ़ें तो हमें Hyundai Elantra, Toyota Corolla Altis वगैराह मिलेंगे. टॉप एंड लक्ज़री सेडान की बात करें तो इसमें Mercedes, Audi और BMW जैसी कंपनियों की गाड़ियाँ शामिल हैं.

बाकी का क्या?

इन तीन बड़े सेगमेंट के अलावे कुछ और भी सेगमेंट हैं जैसे, Coupe/कूपे (2 दरवाजों वाली लक्ज़री और स्पोर्ट्स कार्स — Aston Martin, Lamborghini) और Cross/क्रॉस (गाड़ी के दो प्रकारों का मिश्रण — Ford Freestyle, Mahindra XUV500, Maruti Suzuki S-Cross), MPV (बड़ी गाड़ियां जिनमें एक बार में ज़्यादा पैसेंजर बैठ सकते हैं — Maruti Suzuki Ertiga, Mahindra Marazzo, Toyota Innova Crysta)