180 किमी/घंटे पर चल रही सुपरबाइक बाल-बाल बची, देखिये इतने तेज़ रफ़्तार से खतरे! [विडियो]

इंडिया के रोड दुनिया में सबसे असुरक्षित रोड्स में से एक माने जाते हैं. इंडिया की सड़कों पर एक्सीडेंट के आंकड़े उन्हें बेहद असुरक्षित एवं अप्रत्याशित बनाते हैं. आपको समय-समय पर भारत की सड़कों पर तेज़ स्पीड पर चलने के नतीजे देखने को मिलते हैं. पेश है एक और विडियो जो दर्शाता है की आपको देश की सड़कों पर तेज़ रफ़्तार पर क्यों नहीं चलना चाहिए.

अप्रत्याशित सडकें!

पहला विडियो रोड पर एक Kawasaki Ninja ZX-10R को बेहद तेज़ रफ़्तार पर चलते हुए दर्शाता है. बाइक का स्पीडोमीटर एक खाली हाईवे पर 200 किमी/घंटे की रफतार से ज्यादा की रफ़्तार दर्शा रहा होता है जब अचानक ही बीच वाले डिवाइडर पर झाड़ियों में से एक कुत्ता निकल सड़क पार करने लगता है. बाइक उससे बाल-बाल बचती है. कुत्ते को देखने के बाद, राइडर स्पीड कम करने के लिए ब्रेक लगाना शुरू करता है लेकिन इतने तेज़ रफ़्तार से नीचे आने में समय लगता है. राइडर कुत्ते के पास पहुँचने तक अपनी स्पीड को लगभग 162 किमी/घंटे तक लेकर आ पाता है. अगर बाइक कुत्ते से इस तेज़ रफ़्तार पर भी टकरा गयी होती तो एक बड़ा हादसा हो सकता था.

भारत की सड़कों पर सिर्फ जानवर ही ऐसी हरकतें नहीं करते. सड़क पर चल रहे लोग भी बिना उसके खाली हुए उसे पार करने की कोशिश करते हैं. एक दुसरे सुपरबाइक से लिया गया दूसरा विडियो इसी चीज़ को दर्शाता है. इस विडियो को एक BMW S1000RR से लिया गया है जो एक खाली हाईवे पर 180 किमी/घंटे की रफ़्तार से ऊपर चल रही है. राइडर को बीच वाले लें पर चलते हुए देखा जा सकता है और दोनों तरफ पर्याप्त जगह खाली है. अचानक ही दो पैदल यात्री रोड पार करने की कोशिश करने लगते हैं और उन्हें देखते ही राइडर ब्रेक लगाता है. यहाँ भी बाइक के धीमे होने में समय लगता है क्योंकि वो बहु तेज़ रफ़्तार पर है. बाइक 95 किमी/घंटे तक आ जाती है और दोनों पैदल यात्रियों के बीच से निकल जाती है.

असुरक्षित भारतीय सडकें

S1000rr Near Miss Highway Featured

भारत की सडकें बेहद असुरक्षित होती हैं. हम अक्सर जानवर, मवेशी, या पैदल यात्रियों को सड़क पार करते हुए देखते हैं. ऐसी गाड़ियां भी होती हैं जो रोड की उलटी दिशा में चल रही होती हैं या बिना इंडिकेटर जलाए मुड़ती हैं. एक सुरक्षित स्पीड लिमिट में चलना बेहद ज़रूरी होता है ताकि आपातकाल में स्पीड तुरंत ही कम की जा सके.

सुपरबाइक्स बेहद पॉपुलर हैं और उनके रोड लीगल होने के बावजूद वो बेहद कम समय में काफी तेज़ रफ़्तार ग्रहण कर लेती हैं. अधिकाँश सुपरबाइक्स सुपरकार्स से तेज़ होती हैं और वो पहले गियर में ही 100 किमी/घंटे से ऊपर पहुँच जाती हैं. ऐसे में खुले हाईवे पर इनकी स्पीड को नियंत्रण में रखना बेहद मुश्किल हो जाता है. लेकिन, इन विडियोज़ को देखने के बाद स्पीड लिमिट में चलना बेहद ज़रूरी हो जाता है. रोड पर सुपरबाइक चलाना बेहद चुनौतीपूर्ण होता है और हमारा सुझाव है की स्पीड के दीवाने अपनी गाड़ियों को ट्रैक पर ले जाएँ जहां वो उन्हें अच्छे से चला सकते हैं.

सोर्स