बेटों ने गिफ्ट की अपने पिता को Royal Enfield, देखिये विडियो…

एक Royal Enfield के बारे में सबसे अच्छी बात ये है की हर जनरेशन की यादें इससे जुडी हैं. इन बाइक्स को शायद सड़क पर सबसे आसानी से पहचाना जा सकता है, ये मार्केट में कई जनरेशन से हैं और समय के साथ बेहतर होती गयी हैं. नीचे आप एक दिल को छू जाने वाला विडियो देख सकते हैं जहां दो भाइयों ने मिलकर अपने पिता को एक सरप्राइज दिया. बेशक, ये एक Royal Enfield है जो उनके पिता के लिए सरप्राइज था.

ये तब शुरू होता है जब दोनों बेटे अपने पिता के ऑफिस पहुँचते हैं. वो अपने पिता के आँखों पर पट्टी बांधते हैं. जल्द ही दूसरा बेटा आता है और पट्टी पहने हुए अपने पिता को उनके ऑफिस से बाहर ले जाने लगता है. उनके पिता इस बात को जान कर खुश हैं की उनके बेटों ने उनके लिए सरप्राइज प्लान किया है. दोनों भाई को ऑफिस में लोगों को शांत रहने के लिए सिग्नल करते हुए देखा जा सकता है. आखिरकार कुछ समय बाद ये तीनों ऑफिस के बाहर आ जाते हैं और एक Royal Enfield मोटरसाइकिल के पास रुक जाते हैं जो उनके पिता के लिए एक सरप्राइज गिफ्ट है. दोनों भाइयों के साथ अब उनकी माँ भी आ जाती है जो आकर पिता के आँखों के सामने से पट्टी हटाती हैं.

जल्द ही पिता को ये एहसास होता है की उन्हें एक नयी मोटरसाइकिल गिफ्ट की गयी है, और वो भी एक Royal Enfield. भावनाओं को प्रकट करने के लिए सही शब्दों की तलाश में वो कुछ देर तक निशब्द खड़े रहते हैं. उनके चेहरे पर एक बड़ी मुस्कान खेल रही है. फिर उनका एक बेटा उन्हें नयी Royal Enfield की चाबी पकड़ाता है. ख़ुशी के मारे वो अपने दोनों बेटों को गले से लगा लेते हैं. अपने पिता की ख़ुशी को देखते हुए एक बेटा रो पड़ता है. आखिर में विडियो के अंतिम सेकेंड्स में पिता को अपनी नयी Royal Enfield पर बैठ एक राइड के लिए जाते हुए देखा जा सकता है.

Royal Enfield की शुरुआत 1901 में Enfield Cycle Company से हुई थी. ये मोटरसाइकिल्स हमारे देश में आज़ादी से पहले से हैं और आज भी अपने सिंपल डिजाईन और रेट्रो अपील के चलते काफी पॉपुलर हैं. जैसा हमने कहा, इन मोटरसाइकिल्स के बारे में सबसे अच्छी बात है की वो कई जनरेशन से टिकी हुई हैं. इसी वजह से कई लोगों की इच्छा रही है की वो इसके मालिक बनें. यही कारण है की ऊपर के विडियो में एक Royal Enfield इतनी भावनाओं के बहने का कारण बनती है. और चूंकि ये दो बेटों द्वारा गिफ्ट की गयी है तो ये सोने पर सुहागा वाली बात हो जाती है.