Rajiv Bajaj ने कहा 250 सीसी Harley उलटी दिशा में कदम, लेकिन क्यों

प्रतिष्ठित अमरीकी मोटरसाइकिल निर्माता Harley-Davidson ने हाल ही में भारत जैसे उभरते बाजारों में कम क्षमता वाले मॉडल लॉन्च करने की अपनी योजना की घोषणा की थी. ये आगामी लो-कॉस्ट, लो-डिस्प्लेसमेंट वाले, Harley Davidson मॉडल, सम्मानित अमेरिकी ब्रांड को भारतीय दोपहिया बाज़ार में मजबूत आधार स्थापित करने में मदद करेंगे. हालांकि, हाल ही के एक इंटरव्यू में, Bajaj Auto Ltd के Managing Director Rajiv Bajaj ने Harley से बाज़ार के मुख्यधारा वाले हिस्सों में प्रवेश करने से किसी भी प्रकार के खतरे को ख़ारिज किया है. बल्कि Bajaj ने आनेवाली Harley-Davidson 250 – 500 सीसी बाइक्स को ‘pipsqueak’ कहा है.

Rajiv Bajaj बताते हैं कि एक ब्रांड को किस तरह अपनी ताकत के साथ खेलना चाहिए. Rajiv कहते हैं कि उन्होंने अपनी असफलताओं से सीखा है कि एक ब्रांड को हमेशा अपनी ‘लक्ष्मण रेखा’ के भीतर होना चाहिए, जिसका मूल रूप से मतलब है कि हमें हमेशा अपनी विशेषता के साथ ही रहना चाहिए. Harley के मामले में, उनकी विशेषता ग्रह पर सबसे बड़ी और जोरदार मोटरसाइकिलों में से एक बनाने में है. दूसरी तरफ, एक 250 सीसी मोटरसाइकिल, इस मामले में, Street Glide या Street 750 की तुलना में कहीं से भी बड़ी या जोरदार नहीं होगी. Street 750 के मामले में भी, जो कि भारत की तरह बाजारों के लिए विकसित एक कम लागत वाला मॉडल है, Harley-Davidson को गुणवत्ता नियंत्रण के साथ कई चुनौतियों का सामना करना पड़ा. इसके बावजूद ज्यादातर खरीदारों ने एंट्री लेवल Harley का स्वागत किया और इस पर अपने पैसे खर्च करने के लिए तैयार थे.

“कोई कभी भी अपने प्रतिस्पर्धी को नज़रअंदाज़ नहीं कर सकता है और ख़ास कर जब वो प्रतिस्पर्धी Harley हो, पर में तभी अपनी बात पर अड़ा रहूँगा कि मैंने अपनी खुद की ग़लतियों से सीखा है कि जिस पल एक ब्रांड अपनी ‘लक्ष्मण रेखा’ से बाहर निकलती है, उसके लिए चीज़ें मुश्किल हो जाती हैं.”

हालाँकि, ऐसी टॉप-डाउन अप्रोच शायद आनेवाली 250 सीसी मॉडल के केस में काम ना करे. एक लो-कॉस्ट Harley होने के बावजूद, Street 750 एक काफी बड़ी मोटरसाइकिल है और Harley Davidson मोटरसाइकिल्स की बोल्ड विशेषताओं को बरकरार रखने में कुछ हद्द तक सफल है. दूसरी ओर, 250 सीसी मॉडल, किसी भी तरह से पारम्परिक Harleys की तरह बड़ी और ज़ोरदार नहीं होगी. बल्कि इस अमरिकन कम्पनी के लिए एंट्री-लेवल मॉडल्स की कीमतें अधिक रखे बिना अपनी अंतराष्ट्रीय क्वॉलिटी स्टैण्डर्ड बनाए रखना काफी मुश्किल होगा.

जैसा की Rajiv Bajaj ने कहा, उन्होंने पिछले अनुभवों से सीखा है कि किसी को अपनी लक्ष्मण रेखा को पार नहीं करना चाहिए. Bajaj Auto Ltd, जो अपनी Pulsar रेंज की मोटरसाइकिलों के लिए जानी जाती है, ने Discover रेंज के साथ निचले सेगमेंट पर हावी होने की कोशिश की थी. हालांकि, हर बजट के अनुरूप कई रूपों को लॉन्च करने के बावजूद, Discover को केवल एक कम प्रतिक्रिया मिल सकी. इसी तरह, Bajaj Auto Ltd ने लो-कॉस्ट कम्यूटर मोटरसाइकिल्स को बेचने में भी अपना हाथ आजमाया है. जबकि CT100 ने कुछ खरीदारों को आकर्षित किया है, लेकिन ये Hero Splendor और Passion जैसे पारंपरिक खिलाड़ियों की तरह प्रतिक्रिया के लिए काफी असफल रही है. इसलिए, कंपनी ने अब अपना पूरा ध्यान प्रदर्शन-केंद्रित उत्पादों पर स्थानांतरित कर दिया है.

यहां तक ​​कि अगर आप कार उद्योग को भी देखें, तो Maruti Suzuki, जो निस्संदेह मार्केट लीडर रहा है, अपनी Grand Vitara SUV और Kizashi सेडान के साथ प्रीमियम कार खरीदारों को उत्साहित करने में काफी असफल रहा है. जबकि Harley की टॉप-डाउन दृष्टिकोण Maruti की रणनीति के बिल्कुल विपरीत है, उनकी 250 सीसी पेशकश, Harley मॉडल के पारंपरिक गुणों की कमी के कारण खरीदारों को उत्साहित करने में असफल हो सकती है.

 

सोर्स – CNBC