Bolero में पुलिस और Scorpio में तस्कर, पूरा फ़िल्मी धर-पकड़ सीन!

इंडिया में शराब की तस्करी एक बड़ा क्राइम है और हर महीने कई ऐसे दोषी पुलिस द्वारा पकड़े जाते हैं जो गाड़ी एवं अन्य माध्यमों से शराब स्मगल करते हैं. पेश है Rajasthan का एक हाई ड्रामा विडियो जिसमें तस्करों को पकड़ने के लिए बिछाए गए पुलिस के एक जाल में से एक Mahindra Scorpio भागती हुई नज़र आ रही है. तो इस विडियो में कुछ यूँ हुआ:

Mahindra Scorpio स्मगल

इस विडियो में एक सफ़ेद Mahindra Scorpio एक अज्ञात टोल प्लाज़ा के सबसे बायें तरफ वाली लेन से आती हुई नज़र आ रही है. जैसे ही कार लेन में घुसती है, आम कपड़े में पुलिसकर्मी बैरिकेड के मदद से लेन ब्लॉक करने की कोशिश करने लगते हैं. Scorpio को रोकने के लिए पुलिसकर्मी आगे और पीछे बैरिकेड लगाते हैं. इस विडियो में आप दो Mahindra Boleros को भी देख सकते हैं जो Scorpio को ब्लॉक करने के लिए पोजीशन लेती हैं.

जैसे ही Scorpio के ड्राईवर को लगता है की वो पुलिस द्वारा ब्लॉक हो रहा है, वो SUV को रिवर्स में ले जाकर एक U-टर्न लेने लायक जगह पा जाता है. हालांकि Bolero फिर Scorpio का पीछा करने लगती है, इस बात की खबर नहीं है की क्या Scorpio पकड़ी गयी. लेकिन Scorpio में Bolero के मुकाबले ज़्यादा पॉवर है और उसकी तेज़ स्पीड और एक्सीलीरेशन उसे ऐसे रोड्स पर एडवांटेज देती है. लेकिन ऐसे मामलों में पुलिस हमेशा ही बैकअप के ज़रिये रोडब्लॉक लगा सकती है.

शराब की तस्करी इंडिया के शराबबंदी वाले राज्यों में काफी आम है. Gujarat एक ड्राई स्टेट है और तस्कर अक्सर Rajasthan जैसे पडोसी राज्यों से शराब लाने के लिए गाड़ियों वगैरह का इस्तेमाल करते हैं. ये एक वैसा ही मामला लगता है जहां पुलिस को इसकी सूचना पहले ही मिल गयी थी और वो तस्करों को रंगे हाथ पकड़ना चाहते थे. तस्करों को शराब के साथ पकड़ने पर उनके जुर्म को सिध्द करने के लिए पुलिस के पास पर्याप्त सुबूत रहता है.

ये भी नहीं पता है की क्या ये ऑपरेशन Rajasthan पुलिस का था या Gujarat पुलिस का. अक्सर ऐसे ऑपरेशन राज्यों की पुलिस साथ मिलकर अंजाम देती है ताकि बेहतर तालमेल के ज़रिये तस्करों को आसानी से पकड़ा जा सके.

सोर्स, न्यूज़