Piaggio Vespa 150 और Aprilia SR150 हैं भारत के पहले ABS से लैस स्कूटर

भारत सरकार द्वारा जल्द लागू किये जाने वाले नए सुरक्षा नियमों के अनुसार 125-सीसी से ज्यादा पावरफुल इंजन से लैस हर दो-पहिया गाड़ी में एंटी-लॉक ब्रेकिंग सिस्टम (ABS) अनिवार्य कर दिया जायेगा. यह नया नियम 1 अप्रैल 2019 से लागू होगा. इन दो-पहिया वाहनों में मोटरसाइकिल और स्कूटर दोनों ही शामिल हैं. ऐसे में ऑटो निर्माताओं ने अभी से अपने नए उत्पादों में ABS उपलब्ध कराना शुरू कर दिया है पर अभी तक यह फीचर सिर्फ मोटरसाइकल्स तक ही सीमित है. पर अब पहली बार भारत में यह अति-आवश्यक फीचर स्कूटर्स में भी देखा गया है.

हाल ही में Piaggio Vespa 150 और Aprilia SR 150 को इस नए फीचर के साथ भारतीय बाज़ार में देखा गया है. दोनों ही ब्रांड Piaggio समूह के अंतर्गत आते हैं और जल्द ही ग्राहकों के लिए खरीद के लिए उपलब्ध होंगे. मगर अभी इन स्कूटर्स के आधिकारिक लॉन्च से जुड़ी कोई भी जानकारी सामने नहीं आई है. यह पहली बार है कि भारत में सस्ते स्कूटर्स में ABS उपलब्ध किया गया है.

Aprilia Sr150 Abs

दोनों ही स्कूटर्स में पहले से ही फ्रंट-व्हील पर डिस्क ब्रेक दिया जा रहा है. नए संस्करण में रियर व्हील पर अभी भी ड्रम ब्रेक ही मिलेंगे. इसी के साथ इन स्कूटर्स में सिंगल-चैनल ABS उपलब्ध कराये जायेंगे क्योंकि नए नियम के अनुसार ड्यूल-चैनल की अनिवार्यता नहीं है. बताते चलें कि सिंगल-चैनल ABS बस फ्रंट-व्हील में काम करता है और यह सुनिश्चित करता है कि अचानक ब्रेक लगने पर स्कूटर फिसले नहीं.

कई बार दो-पहिया वाहनों पर अचानक ब्रेक लगाने से पहिये जाम हो जाते हैं और वाहन नियंत्रण से बाहर चली जाती है. ABS सुनिश्चित करता है कि ऐसा ना हो. बताते चलें कि रियर-व्हील लॉक होने पर दो-पहिया वाहन को नियंत्रित करना आसान होता है पर फ्रंट-व्हील लॉक होने पर दुर्घटना तय है. इस अनिवार्य ABS से पूरी दुनिया में बदनाम भारतीय सड़कों पर दुर्घटनाएं काफी कम होंगी.

पिछले साल सरकार ने BS-III वाहनों की बिक्री पर रोक लगा दी थी जिस कारण भारतीय वाहन निर्माताओं नें BS-IV नियमों के तहत अपने उत्पाद बनाना शुरू कर दिया. इसी के साथ पिछले साल दो-पहिया वाहनों में ऑटोमैटिक हेडलैंप भी अनिवार्य कर दिए गए थे जो यह सुनिश्चित करते हैं कि अँधेरी रातों में भी आप वाहनों को देख सकें.

Piaggio Vespa Abs

नया ABS सिस्टम जुड़ने के साथ ही भारत में दो-पहिया वाहनों की कीमत भी बढ़ेगी. हमारा अनुमान है कि इस नए फीचर के कारण इन वाहनों की कीमत 5,000 रूपए से 7,000 रूपए बढ़ जाएगी. जहाँ कीमतों की इस बढ़ोतरी से सेल्स में कोई कमी नहीं आने की उम्मीद नहीं है वहीँ ग्राहकों को तो तकलीफ तो होगी ही. मगर यह फीचर काफी आवश्यक है और सड़क पर हादसे कम कर काफी लोगों की जान बचाएगा. तो ज्यादा पैसे खर्च करने में कोई हर्ज़ नहीं.

यह भी बताते चलें कि 125-सीसी से कम ताकतवर इंजन वाले दो-पहिया वाहनों में कॉम्बी-ब्रेकिंग सिस्टम (CBS) 1 अप्रैल 2019 से अनिवार्य होगा. CBS यह सुनिश्चित करता है कि ब्रेकिंग पॉवर फ्रंट और रियर व्हील में समान रूप जाये. हमारे हिसाब से यह एक आवश्यक सुरक्षा फीचर है.