शराब के नशे में गाड़ी चलाने वालों की आई शामत, हैदराबाद पुलिस ने उठाया एक नायाब कदम

शराब पीकर गाड़ी ना चलायें. ये एक ऐसा संदेश है को दुनियाभर के मोटर चालकों को करोड़ों बार दिया जा चुका है. लेकिन, अभी भी लोग इसे नहीं मानते हैं. भारत में भी ट्रैफिक पुलिस कई तरीकों से सड़क पर शराब के नशे में गाड़ी चलाने की रोकथाम की कोशिश कर रही है. लेकिन इस बार हैदराबाद पुलिस ने इस दिक्कत से निबटने के लिए एक नायाब तरीका ढूंढ निकाला है.

Hyderabad Police Anti Drink And Drive

हैदराबाद पुलिस ने अब शराब के नशे में गाड़ी चलाने वाले लोगों के ऑफिस या कंपनी में पत्र भेजना शुरू कर दिया है. इन पत्रों को कंपनी के मानव संसाधन डिपार्टमेंट को भेजा जाएगा जिसमें ये सूचना दी जायेगी की उनके कर्मी को शराब के नशे में गाड़ी चलते हुए पकड़ा गया है और वो फिलहाल गिरफ्त में हैं. ये पत्र नियम तोड़ने की जगह और तारीख की जानकारी भी देगा.

Cyberabad ट्रैफिक पुलिस के उप-कमिश्नर ने कहा,

    हमारा इरादा कंपनी को परेशान करना या उसके खिलाफ कार्यवाही करना नहीं है है बल्कि हम सभी कर्मियों को नशे में गाड़ी चलाने के बारे में सूचित करना चाहते हैं.

ऐसा पहला पत्र हैदराबाद के Gachibowli में एक IT कंपनी को भेजा गया था, जिसके कर्मियों को नशे में गाड़ी चलाते हुए पकड़ने के बाद दिन की सज़ा दी गयी थी.

कानूनी रूप से गाड़ी चलाते हुए आपके खून में 0.03% या 30 मिलीग्राम/100ml शराब की मात्र रह सकती है. अगर गाड़ी चला रहे इंसान के खून में इससे ज़्यादा शराब पायी जाती है तो उसे मोटर वाहन अधिनियम के धारा 185 के तहत जुर्माना या 6 महीने तक की सज़ा या दोनों झेलना पड़ सकता है. आंकड़े बताते हैं की गाड़ी चलाने के दौरान इंसान के शरीर में थोड़ी शराब भी बेहद घातक साबित हो सकता है. शराब के नशे में इंसान के एक्सीडेंट की संभावना 2.5 गुना ज़्यादा बढ़ जाती है.

क्या है इसका उपाय?

अक्सर लोग अपने दोस्तों के साथ सामाजिक मौकों पर शराब का सेवन करते हैं. ऐसे हालत में थोड़ा इंतज़ार करना सही होता है ताकि आप कानूनी रूप से ड्राइविंग करने की हालत में वापस आ सकें. पर अगर समय कम है तो सबसे अच्छा उपाय है की आप ऐसे इंसान को ड्राइव करने को कहें जो नशे में ना हो, और अगर ये भी संभव नहीं है तो टैक्सी लेकर अपने गंतव्य तक पहुँचने का विकल्प हमेशा मौजूद रहता है. नशे में गाड़ी चलाकर आप ना केवल अपनी ज़िन्दगी को खतरे में डाल रहे हैं, बल्कि आप रोड पर चल रहे बाकी लोगों की ज़िन्दगी भी खतरे में डाल रहे हैं. इसलिए, हमेशा इस बात को सुनिश्चित करें की गाड़ी चलाते हुए आप कभी भी शराब के नशे में ना हों.