New Suzuki Swift को मिले क्रैश टेस्ट में 5 स्टार. क्या यही है सबसे सेफ कार?

Suzuki Swift की बिक्री Australia में भी होती है और यह भारत में बेची जाने वाली Maruti Swift से काफी हद तक मेल खाती है. हम ऐसा इसलिए कह रहे है क्योंकि Australia-स्पेक Swift में ट्विन एयरबैग्स है, और European वर्शंस में ऐसा नहीं होता और उनमें 6 एयरबैग्स होते हैं. नयी Suzuki Swift को Australia की A-NCAP क्रेश टेस्टिंग एजेंसी द्वारा किये गए टेस्ट में 4 स्टार और 5 स्टार सेफ्टी रेटिंग मिली है (टेस्ट किये गए मॉडल के अनुसार). यह Euro-स्पेक Swift को मिली 3 स्टार रेटिंग से बेहतर है. मगर याद रहे की Euro NCAP की रेटिंग काफी हद तक ज्यादा सख्त भी होती है. यहाँ तक की यह दुनिया की सबसे ज्यादा सख्त क्रैश सेफ्टी टेस्ट के रूप में जानी जाती है .

Australia-स्पेक Swift जिसे 4 स्टार्स मिले है, उसके फीचर्स में ट्विन एयरबैग्स, ABS+EBD, इलेक्ट्रॉनिक स्टेबिलिटी कंट्रोल, सीट बेल्ट रिमाइंडर्स स्टैण्डर्ड फीचर्स के तौर पर शामिल है. और जिस मॉडल को पूरी 5 स्टार रेटिंग मिली है, उसमें Autonomous emergency braking (AEB) और lane support systems (LSS) जैसे एक दो अतिरिक्त सेफ्टी फीचर्स भी हैं.

Maruti ने भारत में Swift के साथ ट्विन एयरबैग्स and ABS को स्टैण्डर्ड रखा है. यह कार जल्द लागू होने वाले नए Bharat New Vehicle Safety Assessment Program का पालन भी करती है , जिसमें सेफ्टी स्टैंडर्ड्स और भी ज्यादा सख्त हैं, एवं October 2019 से भारत में बिकने वाली सभी कार्स को इसे फॉलो भी करना होगा.

Maruti को भारत में Swift की 1 lakh बुकिंग्स भी मिल चुकी हैं और यह कार अपने लॉन्च होने के 2 महीने के अंदर ही एक ज़बरदस्त हिट बन कर उभरी है. यहाँ बेची जाने वाली Swift 1.2 लीटर पेट्रोल और 1.3 लीटर टर्बोचार्ज्ड डीजल इंजन के साथ उपलब्ध है. 5 स्पीड मैन्युअल ट्रांसमिशनस दोनों ही इंजन्स पर स्टैण्डर्ड है एवं इसमें 5 स्पीड AMT का ऑप्शन भी है.

भारत के सभी शौक़ीन उम्मीद कर रहे हैं की Maruti अपने Swift Sport को भारत में भी लॉन्च करेगी. Australia में पहले से ही उपलब्ध Swift Sport 1.4 लीटर टर्बोचार्ज्ड पेट्रोल इंजन के साथ आती है जो 140 बीएचपी और 230 एनएम का आउटपुट देता है . पहले से  ज़यादा से पावरफुल यह कार, 6 स्पीड मैन्युअल और आटोमेटिक गियरबॉक्स ऑप्शंस एवं और भी ज्यादा स्टिफ सस्पेंशन सेटअप के साथ आती  है.