Maruti अब Swift के टॉप-एंड वैरिएंट में ऑफर करेगी AMT ऑटोमैटिक ट्रांसमिशन

इंडिया की सबसे बड़ी निर्माता Maruti Suzuki Limited ने Swift के टॉप-एंड वैरिएंट में ऑटोमैटिक मॉडल्स लॉन्च कर दिए हैं. Maruti ने साल के शुरुआत में नयी Swift लॉन्च की थी और ये अभी से ही मार्केट की तीसरी सबसे ज़्यादा बिकने वाली कार बन गयी है.

शुरुआत में Maruti टॉप-एंड Z+ वैरिएंट में Auto-Gear Shift (AGS) ऑटोमैटिक ट्रांसमिशन ऑफर नहीं करती थी. लेकिन, कस्टमर्स से फीडबैक मिलने के बाद, ब्रांड के आया वैरिएंट लॉन्च कर दिया है जो सबसे महंगा मॉडल बन गया है. Swift पेट्रोल ZXI+ की कीमत 7.76 लाख रूपए ही वहीँ डीजल ZDI+ ऑटोमैटिक वैरिएंट की कीमत 8.76 लाख रूपए है.

Maruti Suzuki India के Senior Executive Director (Marketing & Sales) R. S. Kalsi ने कहा,

“Swift ने पहले ही कस्टमर्स को संतुष्ट किया है. अपने लेटेस्ट बदलाव के साथ नयी Swift कस्टमर्स को और भी ज़्यादा पसंद आएगी. AGS को Swift के कस्टमर्स काफी पसंद करते हैं. हमें कस्टमर फीडबैक मिला था जिसमें वो टॉप एंड वैरिएंट में AGS की सुविधा चाह रहे थे. इसलिए अब हम टॉप-एंड ZXI+ और ZDI+ वैरिएंट में AGS ला रहे हैं. ये Swift ब्रांड को और भी ज़्यादा मजबूत करेगा और Maruti Suzuki के फेमस टू-पेडल टेक्नोलॉजी को और पॉपुलर करेगा.”

अपने नए अवतार में Maruti Suzuki Swift कई वैरिएंट ऑफर करती है. कार पेट्रोल और डीजल दोनों वैरिएंट में उपलब्ध है और दोनों ही इंजन AMT ऑटोमैटिक ट्रांसमिशन के साथ आते हैं जिन्हें Maruti ने AGS का नाम दिया है. Z+ वैरिएंट में प्रिसिशन कट टू-टोन अलॉय व्हील्स, कैमरा वाला रिवर्स पार्किंग सेंसर, एवं Android Auto और Apple CarPlay सपोर्ट वाला स्मार्ट टचस्क्रीन इंफोटेनमेंट सिस्टम है.

दो नए वैरिएंट के आने के साथ, नयी Swift ऑटोमैटिक अब V, Z और Z+ वैरिएंट में उपलब्ध है जिससे इसके कुल 6 वैरिएंट हो जाते हैं. ये कस्टमर्स को ज़्यादा ऑप्शन देगा. बेस वैरिएंट में अभी भी ऑटोमैटिक ट्रांसमिशन नहीं है.

Swift का 1.2-लीटर पेट्रोल इंजन अधिकतम 81.8 बीएचपी और 113 एनएम उत्पन्न करता है. वहीँ 1.3-लीटर डीजल इंजन अधिकतम 74 बीएचपी और 190 एनएम उत्पन्न करता है. Maruti Swift के सभी वैरिएंट में अब ABS और ड्यूल एयरबैग सिस्टम स्टैण्डर्ड है.