Maruti, Mahindra, Chevrolet और अन्य कंपनियों की 17 ऐसी SUVs जो लोगों ने भुला दीं!

जहां आज SUV सेगमेंट इंडिया के मार्केट में सबसे तेज़ी से बढ़ रहा है कुछ ऐसे मॉडल्स भी रहे हैं जो कस्टमर्स को आकर्षित नहीं कर पाए. आज हम आपके लिए इंडिया की ऐसी ही 17 भूली जा चुकी SUVs लेकर आये हैं.

Tata Safari Petrol

चौंकिए मत! 2000 के दशक की शुरुआत में Safari Petrol वाकई आई थी. इस एसयूवी में था 2लीटर, 135 बीएचपी इंजन जो इसे ज़बरदस्त स्प्रिंटिंग केपेबिलिटी देता था. फ़्यूल एफीशिएंसी स्प्रिंटिंग केपेबिलिटी की टक्कर की थी जिसकी वजह से खरीदारों ने ज़्यादा एफीशिएंट 2 लीटर, 90 बीएचपी TCIC डीज़ल की तरफ देखना बेहतर समझा. Safari Petrol जल्द ही Tata की उन गाड़ियों की फेहरिस्त में शामिल हो गयी जो कभी लोकप्रिय नहीं हुईं.

Tata Sierra

90 के दशक की एक और वास्तव में स्टाइलिश कार Tata Sierra है. Estate की तरह, Sierra अपने समय से आगे थी. हालांकि ये वास्तव में सुन्दर दिखती थी, 3-डोर के बॉडी फॉर्मेट के ज़्यादा लेने वाले नहीं थे. इस कार ने कई प्रीमियम फीचर्स की पेशकश की और इसका इंजन भी पर्याप्त ढंग से शक्तिशाली था. Tata Sierra 90 के दशक की एक कार है जिसे हम वास्तव में भारत में फिर से लॉन्च होता देखना चाहते हैं.

Hindustan Trekker

अब बंद हो चुकी Hindustan Motors को Contessa और Ambassador के निर्माण के लिए जाना जाता था. लेकिन, कंपनी Trekker भी बनाया करती थी, ये एक नायब प्रोडक्ट था जिसमें Ambassador के स्पेयर पार्ट्स लगे होते थे. Trekker के लुक्स कुछ ख़ास नहीं थे लेकिन इसमें लैडर ऑन फ्रेम चेसी था. इसके हेडलाइट्स, फ्रंट इंडिकेटर्स, इंजन, और सस्पेंशन सभी Ambassador से लिए गए थे. Trekker ने कमर्शियल मार्केट में अच्छा प्रदर्शन नहीं किया और अब ये उतना दिखती भी नहीं.

Chevrolet Captiva

Captiva 2.0 एक प्रीमियम SUV थी जो अभी भी परफॉरमेंस के मामले में अधिकांश 25-30 लाख रूपए वाले SUVs को कड़ी टक्कर दे सकती है. ये 200 किमी/घंटे से ज्यादा तेज़ जा सकती थी और कॉर्नर्स पर तीसरे गियर में भी ये चक्के घुमा सकती थी. इसका एक आटोमेटिक वर्शन भी उपलब्ध था लेकिन General Motors के इंडिया छोड़ के जाने के फैसले का मतलब है की अगर आप सस्ते में एक गाड़ी खरीद भी लेते हैं, इसे दुबारा बेचना काफी मुश्किल होगा.

Chevrolet Trailblazer

Trailblazer के साथ Chevrolet ने इंडिया में बड़ी अमेरिकन SUVs को लाने की कोशिश की थी. ये कार अपने 2.8-लीटर डीजल इंजन के साथ काफी काबिल थी और ये अधिकतम 197 बीएचपी और 500 एनएम का टॉर्क उत्पन्न किया करती थी! इस कार में Android Auto और Apple CarPlay जैसे गैजेट थे. ये अपने सेगमेंट की सबसे तेज़ कार भी थी.

Chevrolet Forester

इंडिया स्पेक Forester असल में एक रीबैज Subaru थी जिसे यहाँ 2003 में लॉन्च किया गया था. Vectra के जैसे ही Forester अपने समय से आगे थी. इसमें एक बेहतरीन 2-लीटर Boxer इंजन था जो 120 बीएचपी और 178 एनएम उत्पन्न किया करता था. ये क्रॉसओवर एक प्रीमियम ऑफरिंग थी जिसकी कीमत 16 लाख रूपए थी. कहने की ज़रुरत नहीं की इसे ढेर सारे कस्टमर नहीं मिल पाए.

Hyundai Terracan

Hyundai ने 2003 में एक लक्जरी SUV भी लॉन्च की थी. Terracan एक दमदार प्रतियोगी थी जो 2.9-लीटर टर्बोचार्ज इंजन से सुसज्जित थी. इसका इंजन 148 बीएचपी और 343 एनएम उत्पन्न करता था. हालांकि, Terracan अपने समय से थोड़ा आगे थी और इसलिए इसे ज़्यादा ख़रीदार नहीं मिल सके थे.

Hyundai Tucson (फर्स्ट जनरेशन)

हमें पूरा यकीन है कि आप में से कई लोगों को पहली Tucson SUV याद होगी. Tucson का पहला जेनेरशन मॉडल भारत में 2005 में लॉन्च किया गया था. उन दिनों, Tucson देश की लक्जरी सॉफ्ट-रोडर्स में से एक थी. हालांकि, भारतीय बाजार ऐसी कारों के लिए तैयार नहीं था और Tucson को शायद ही कोई ख़रीदार मिले. इसमें कोई आश्चर्य की बात नहीं है कि देश में Tucson का उत्पादन बंद कर दिया गया था. हमें अगली-जेनेरशन की Tucson भी नहीं नसीब हुई. अंत में, इस कार का तीसरी पीढ़ी मॉडल 2016 के अंत में यहां लॉन्च किया गया था.

Maruti Grand Vitara XL7

Maruti Grand Vitara XL7 इस देश की सबसे बड़ी कार निर्माता का शायद सबसे बड़ा फ्लॉप है. Grand Vitara XL7 एक 7-सीटर है और इसमें एक 2.8-लीटर V6 पेट्रोल इंजन है जो अधिकतम 168 बीएचपी और 236 एनएम उत्पन्न करता था. इस SUV में 4 व्हील ड्राइव सिस्टम भी था.

Maruti Grand Vitara

XL-7 को Grand Vitara से रिप्लेस किया गया था, जो एक छोटी SUV थी जिसमें एक 2.4-लीटर 4 सिलिंडर पेट्रोल इंजन था. इसका मोटर अधिकतम 164 बीएचपी और 225 एनएम उत्पन्न करता था. इसमें एक फुल-टाइम 4×4 था जिसमें हाई और लो रेश्यो ऑप्शन थे.

Mahindra Invader

अपने फैशनेबल लुक के चलते Mahindra Invader कईओं का ध्यान खींचा करती थी. ये गाड़ी Mahindra Bolero पर आधारित थी लेकिन ये सादे से Bolero के मुकाबले काफी दिलचस्प नज़र आती थी. इसमें पार्शियल सॉफ्ट रूफ एवं साइड-फेसिंग रियर सीट्स था. ये गाड़ी एडवेंचरर्स के लिए बनी थी और फैक्ट्री फिटिंग बुलबार के साथ आया करती थी. Invader को कई तरह के कस्टम वर्शन में लॉन्च किया गया था और ये शौकीनों एवं सेलिब्रिटीज के बीच काफी फेमस हुआ करती थी. इसमें एक 2.5-लीटर इंजन लगा था जो अधिकतम 63 बीएचपी का पॉवर और 117 एनएम का टॉर्क उत्पन्न करता था.

Mahindra Legend

Mahindra Legend को एक तरह से हम Mahindra Thar का पूर्वज कह सकते हैं. ये SUV Mahindra MM-540/550 पर आधारित थी और इस टू-डोर, ओपन-टॉप SUV सब का ध्यान खींचा करती थी. इस गाड़ी में Willys Jeep का चेसी लगा था जो इसे और बढ़िया बनाता था. Legend में 2.5-लीटर डीजल इंजन लगा था जो अधिकतम 58 बीएचपी का पॉवर उत्पन्न करता था.

 Premier Rio

ये है इंडिया की सबसे पहली सब-4 मीटर compact SUV, जो की इंडिया की सड़कों पर काफी कम दिखती है क्योंकि इंडिया में इन गाड़ियों की बिक्री बहुत कम हुई थी. Rio को ऑफर किया गया था 1.5 लीटर पेट्रोल, 1.5 लीटर और 1.3 लीटर टर्बो-डीज़ल इंजन के साथ. ये गाड़ी सबसे सस्ती सब-4 मीटर compact SUV भी है.

SsangYong Rexton

Rexton इंडिया में Ssangyong का सबसे पहला प्रोडक्ट था और इसे यहाँ Mahindra & Mahindra द्वारा लॉन्च किया गया था. Rexton में 7 सीट्स मिलती थीं और इसमें एक 2.7-लीटर इंजन था. Rexton को कभी भी कस्टमर्स नहीं मिले और इसे कम डिमांड के चलते बंद कर दिया गया. Mahindra इसे लेटेस्ट जनरेशन Rexton से रिप्लेस करने वाली है जिसे यहाँ Mahindra XUV700 के नाम से बेचा जाता था.

Renault Koleos

Koleos उस वक्त Renault का तत्कालीन फ्लैगशिप प्रोडक्ट थी. ये 5-सीट सॉफ्ट-रोडर इंडिया में Renault की कार रेंज में सबसे ऊपर थी. ये गाड़ी थोड़ी महँगी थी क्योंकि इसे एक कम्प्लीटली बिल्ट यूनिट (CBU) के रूप में इम्पोर्ट किया गया था. Koleos की बिक्री मंद थी जिसने इसे इंडिया की सड़कों पर दुर्लभ बना दिया. इस गाड़ी में एक 2 लीटर टर्बो-डीज़ल इंजन 2 स्टेट्स ऑफ़ ट्यून के साथ आता था. मैनुअल और ऑटोमैटिक दोनों गियरबॉक्स ऑप्शंस ऑफर किये गए थे.

Force One

मेगास्टार Amitabh Bachchan एक वक़्त Force One के ब्रांड एम्बेसडर थे. लेकिन, One असल में पुराने जनरेशन वाली Endeavour पर आधारित थी और इसे ज़्यादा कस्टमर नहीं मिले. इसमें एक 2.2-लीटर टर्बोचार्ज्ड डीजल इंजन था जो अधिकतम 139 बीएचपी और 321 एनएम उत्पन्न करता था.

Nissan X-Trail

X-Trail देश में Nissan India की पहली SUV थी. इसका बॉक्सी देस्गिन इसे काफी बुच लुक देता था और इसमें फ़ीचर्स की एक लम्बी फेहरिस्त थी. ये ऑफ-रोडिंग में बेहद सक्षम थीं और इसमें एक ताकतवर 2-लीटर डीजल इंजन था जो अधिकतम 150 बीएचपी और 320 एनएम उत्पन्न करता था.