Maruti & Honda 2-4 Years Away From Launching Hybrid Cars in India Maruti और Honda जल्द लॉन्च करेंगे इंडिया में अपनी पेट्रोल हाइब्रिड कार्स और SUVs

Maruti और Honda जल्द लॉन्च करेंगे इंडिया में अपनी पेट्रोल हाइब्रिड कार्स और SUVs

Maruti Suzuki और Honda की हाइब्रिड कार्स हैं लांच से 2-4 साल दूर

Maruti और Honda इंडियन मार्केट के लिए तैयार कर रहे हैं फुल-हाइब्रिड कार्स. इन कार्स का लांच अभी कम से कम 2-4 साल दूर है. Maruti और Honda की नयी पेट्रोल-हाइब्रिड कार्स डीज़ल कार प्राइसेज़ पर बेचीं जाएँगी. यानी इन्हें चलाने के लिए ज़रूरी इलेक्ट्रिक मोटर और बैटरीज दोनों में हैवी लोकलाइजेशन होगा. हाइब्रिड की ओर शिफ्ट ज्यादा सख्त फ्यूल एफ़िशीएन्सी स्टैंडर्ड्स की वजह से है जो की 2022 से लागू हो जायेंगे. कॉर्पोरेट एवरेज फ्यूल एफ़िशीएन्सी (CAFE) 2022 से 113 ग्राम CO2/km होगा. यानी दोनों कंपनियों को ये मुश्किल टारगेट अचीव करने के लिए हाइब्रिड की ओर शिफ्ट होना होगा. मौजूदा CAFE टारगेट कहीं रिलैक्स्ड 138 ग्राम CO2/km है.

Maruti के हेड ऑफ़ इंजीनियरिंग सी.वी. रमन ने कहा, “हम अपने इंटरनल कम्बस्शन इंजनों को हाइब्रिडाइज कर के इम्प्रूव कर रहे हैं.” Honda Cars India के एमडी ने भी उन्हीं की बात दोहराते हुए कहा, “नॉर्म्स को मीट करने के लिए हाइब्रिड कार्स लांच करना ज़रूरी होगा. शुरू में कुछ कंपोनेंट्स इम्पोर्ट करने पड़ सकते हैं लेकिन हम लोकली बनाये गए पार्ट्स को मैक्सिमाइज़ करना चाहते हैं.”

Suzuki-Toyota पार्टनरशिप की इंडिया में क्रिएट की गयी सिनर्जीज़ से Maruti के लाभान्वित होने की उम्मीद है. Toyota-ओन्ड कार पार्ट्स मेकर Denso Suzuki के साथ कोलैबोरेशन में बनाएगी इंडिया में लिथियम-आयन बैटरीज. उम्मीद है की इससे हाइब्रिड्स Maruti के लिए काफी सस्ती हो जाएँगी. हाइब्रिड सिस्टम के लिए ज़रूरी दूसरे सिस्टम भी लोकलाइज़ किये जायेंगे पेट्रोल-हाइब्रिड कार्स को डीज़ल हाइब्रिड कार्स जितना सस्ता बनाने के लिए. इससे हाइब्रिड कार्स इंडिया के खरीददारों में काफी एक्सेप्टेबल हो सकती हैं.

Honda भी इंडिया में फ्यूचर मार्केट के लिए अपनाएगी एक हाइली लोकलाइज्ड पेट्रोल-हाइब्रिड कार पालिसी. हालाँकि, हाइब्रिड कार की ड्राइव के लिहाज़ से जापानी कार मेकर अलग रुख अपना सकती है. Honda इस्तेमाल कर सकती है Intelligent Multi-Mode Drive (i-MMD) या रेंज एक्सटेंडर सिस्टम जहाँ ये पेट्रोल इंजन इस्तेमाल कर सकती है या तो इलेक्ट्रिक जेनेरेटर को बैटरी को पॉवर करने के लिए या व्हील्स के लिए डायरेक्ट सोर्स ऑफ़ प्रोपल्शन के लिए. इस एप्रोच पर और डिटेल्स पता चलेंगी Honda पेट्रोल-हाइब्रिड कार्स के लांच के क़रीब.

News Source: Autocar

×

Subscibe our Newsletter