Maruti Dzire बनी नवम्बर में सबसे ज्यादा बिकने वाली Sedan, Tata Tigor ने Ford Aspire को दी पटखनी

Maruti Dzire का भारतीय बाज़ार में शानदार प्रदर्शन निरंतर जारी है. नवम्बर 2018 में Maruti Dzire ने अपनी 21,037 इकाइयां बेच कर अपनी बादशाहत कायम रखी है. बाज़ार में दूसरी सबसे अधिक बिकने वाली कार तो इस आंकड़े के आसपास भी नहीं फटक पाई. Honda अपनी Amaze की केवल 4,854 इकाइयां ही बेच पाई जो इस कार के लॉन्च के चंद महीनों बाद के बिक्री के 9,000 इकाइयों के आंकड़े से एक तीव्र गिरावट है. Compact sedan सेगमेंट में जिन गाड़ियों ने बिक्री के मामले निम्न-स्तरीय प्रदर्शन किया वो हैं हाल ही में लॉन्च की गईं Ford Figo Aspire और Volkswagen Ameo.

जहाँ एक ओर Ameo अपनी केवल 506 इकाइयाँ ही बेच पाई वहीं Ford Figo Aspire को अपनी 1,583 इकाइयों की बिक्री से संतुष्टि करनी पड़ी. ये आंकड़ा एक बेहद उपयुक्त दाम वाली हाल ही में फेसलिफ्ट के साथ लॉन्च की गई कार के लिए काफी निम्न-स्तरीय है. जिन्हें बेहद किफायती दामों पर एक सही में मज़ेदार कार की चाहत है, Ford Figo Aspire को ख़ास उन्हीं के लिए बनाया गया है.

Maruti Dzire 740x740

Tata Tigor जिसके सबसे उच्च स्तरीय-संस्करण को हाल ही में लाया गया है ने भी एक औसत दर्जे का प्रदर्शन करते हुए अपनी 2,156 इकाइयाँ ही बेचीं हैं जो महिना-दर-महिना 35 प्रतिशत की गिरावट है. Tata Tigor को दूसरी compact sedan कार्स और अपनी ही Tiago hatchback के कारण नुकसान उठाना पड़ा है.

अपने जीवन काल के आखिरी पड़ाव पर खड़ी Hyundai Xcent की इस दौरान 2,495 इकाइयां बेचीं गईं हैं जिसका एक हिस्सा टैक्सी सेगमेंट को जाता है. एक और compact sedan जिसकी बिक्री का एक बड़ा हिस्सा टैक्सी सेगमेंट को जाता है वो है Tata Zest जिसकी नवम्बर 2018 में 1,208 इकाइयाँ बिकी हैं. जैसा की बिक्री के आकड़े दर्शाते हैं, compact sedan बाज़ार पर Maruti Dzire का पूरा-पूरा कब्ज़ा है और साथ ही यह गाड़ी एक बहुत बड़ी बढ़त के साथ देश की सबसे अधिक बिकने वाली sedan भी है.

Swift Rs Hybrid

Maruti Dzire को केवल निजी इस्तेमाल के लिए ही नहीं बल्कि टैक्सी संचालकों द्वारा भी भारी मात्रा में खरीदा जाता है. असल में इस गाड़ी का ऐप-आधारित टैक्सी संचालक कंपनियों में भी अच्छा-खासा बोलबाला है. Uber और Ola जैसी ऐप-आधारित टैक्सी संचालक कंपनियों द्वारा इस कार को एक बड़ी संख्या में खरीदे जाने की वजह से Dzire की आने वाले महीनों में भी बढ़िया बिक्री लगातार जारी रहेगी. निजी कार ग्राहक भी इस कार को अनेकों कारणों से खरीद रहे हैं.

पहले तो Maruti Dzire भारत में एक जांचा-परखा ब्रैंड है और इस गाड़ी की तीसरी पीढ़ी भी परफॉरमेंस के मामले में दमदार है. इस गाड़ी की कीमतें काफी सही निर्धारित की गईं हैं और इसकी माइलेज भी बढ़िया है. साथ ही यह गाड़ी ग्राहकों को चुनने के लिए अपने विभिन्न संस्करणों की एक बड़ी श्रृंखला उपलब्ध कराती है. इस गाड़ी की री-सेल वैल्यू, विश्वसनीयता, और आफ्टर-सेल सर्विस काफी शानदार हैं. Dzire खरीदने और रख-रखाव के मामले में आज भी एक किफायती कार है. यही वजह है कि यह कार टैक्सी संचालक कंपनियों में इतनी लोकप्रिय है.

Dzire

अगर हम Dzire में लगे इंजन के विकल्पों की बात करें तो इसके पेट्रोल संस्करण में एक 1.2 लीटर मोटर मौजूद है जो 82 एचपी पॉवर और 113 एनएम टॉर्क पैदा करता है. इस गाड़ी में एक 1.3  लीटर टर्बोचार्ज्ड डीज़ल इंजन का भी  विकल्प आता है जो 74 बीएचपी पॉवर और 190 एनएम टॉर्क उत्पन्न करता है. इन दोनों इंजनों के साथ 5-स्पीड मैन्युअल और AMT (ऑटोमेटेड-मैन्युअल ट्रांसमिशन) गियरबॉक्स का विकल्प दिया जा रहा है. यह दोनों इंजन माइलेज के मामले में भी अपने सेगमेंट में सबसे किफायती हैं. अब Dzire के सभी संस्करणों में ABS (एंटी-लॉक बेकिंग सिस्टम) और ट्विन एयरबैग्स स्टैण्डर्ड आते हैं. इस कार की दिल्ली में एक्स-शोरूम कीमतें 5.6 लाख रूपए से शुरू होती हैं और इसके कुछ चुनिन्दा मॉडल्स पर 50,000 रूपए तक का डिस्काउंट भी मिल रहा है.

Dzire का भारत में एक बेहद सफल बंधू है जिसे Swift नाम से जाना जाता है. Swift और Dzire में एक जैसे इंजन, गियरबॉक्स, और फीचर्स उपलब्ध कराये जाते हैं. इन दोनों के इंटीरियर्स का रंग और बाहर की ओर गाड़ी पर लगीं कुछ चीज़ें एक दुसरे से अलग हैं. बताते चलें कि Swift कार Dzire से कुछ हज़ार रूपए सस्ती है और इसकी प्रति माह 20,000 इकाइयाँ बेचीं जा रहीं हैं.