जंगली तेंदुए ने रोका Maruti Swift, Dzire, और Baleno का इंजन प्रोडक्शन

जंगली तेंदुए ने रोका मारुती स्विफ्ट, डिजायर, और बलेनो का इंजन प्रोडक्शन

Maruti Suzuki की मानेसर फैक्ट्री में एक तेंदुआ छुपा हुआ है | कहा जा रहा है की ये तेंदुआ Suzuki Powertrain — जो की मारुती की इंजन मैन्युफैक्चरिंग इकाई है — में आज तड़के सुबह करीब 4 बजे घुस आया था | उसे CCTV कैमरा पर देख लिया गया | अभी कोशिश जारी है कि उसे ढूंढ कर जंगल में छोड़ दिया जाए | मगर फारेस्ट डिपार्टमेंट के अधिकारी अभी तक तेंदुए को ढूंढ नहीं पाए हैं | इस वजह से फैक्ट्री का प्रोडक्शन प्रभावित हुआ है | इस फैक्ट्री में Swift, Dzire, और Baleno जैसी कारों का 1.3 लीटर डीज़ल इंजन बनाया जाता है |

 

 

सुबह की शिफ्ट रद्द कर दी गयी है | जिस समय जानवर फैक्ट्री में घुसा, वहां को प्रोडक्शन वर्कर नहीं था | केवल सिक्यूरिटी अधिकारी और ट्रांसपोर्ट डिपार्टमेंट स्टाफ उस समय मजूद था | अफसर CCTV फुटेज का इस्तेमाल कर तेंदुए द्वारा अपनाये गए रूट का पता लगा कर उसे बचाने की कोशिश कर रहे हैं | Maruti ने अभी तक कोई टिपण्णी नहीं दी है | मानेसर के डीसीपी अशोक बक्शी ने इस बारे में एक वक्तव्य जारी किया है |

जैसे ही हमको खबर मिली, पुलिस को फैक्ट्री भेजा गया | परिसर को तुरंत खाली कराया गया और इलाके को सील कर दिया गया | बचाव अभियान जारी है और इलाके में 100 से अधिक पुलिसवालों को तैनात किया गया है | तेंदुए को पकड़ने के लिए फारेस्ट डिपार्टमेंट, पुलिस, और वाइल्डलाइफ की टीम्स को बुलाया गया है | हमने प्लांट को घेर लिया है और तेंदुए को पकड़ने के लिए खोज अभियान ज़ारी है | मगर हम अभी तक उसका पता नहीं लगा सके हैं |

कार फैक्ट्री में प्रति घंटे प्रोडक्शन ठप रहने से करोड़ों रुपयों का नुकसान होता है | Maruti प्रोडक्शन के लिए जापानी तकनीक का इस्तमाल करती है जिसे जस्ट-इन-टाइम या जेईटी कहा जाता है | इस प्रोडक्शन तकनीक में पार्ट्स की आपूर्ति और प्रोडक्शन में गहरा जुड़ाव होता है |

 

फैक्ट्री के काम में एक मिनट की देरी से भी प्रोडक्शन शेड्यूल में बड़ा उलटफेर हो जाता है | हमारा अंदाज़ा है की मारुती को इस तेंदुए की वजह से कम से कम 500 इंजन प्रोडक्शन का नुक्सान हुआ है |

×

Subscibe our Newsletter