Hyundai Santro को टक्कर देने के लिए नयी Maruti Celerio को दिए जा सकते हैं प्रीमियम फीचर्स

नई Hyundai Santro की लॉन्च के बाद से Maruti Suzuki की बेचैनी बढ़ गई है. इस सेगमेंट में नई Santro की सीधी प्रतिस्पर्धा Celerio और WagonR से है जो काफी दिनों से बाज़ार में मौजूद हैं. अब ऐसी खबरें आ रही हैं कि Maruti अपनी इन दोनों ही कार्स के जल्द ही नए मॉडल लॉन्च कर सकती है.

Celerio

Renault Kwid से कड़ी चुनौती में विजय पाने के बाद Celerio के लिए सबसे बड़ा ख़तरा बनी Tata Tiago लेकिन नयी Hyundai Santro ने फीचर्स ने इस संदर्भ में प्रतिस्पर्धा को और बढ़ा दिया है. इस सब के बावजूद Celerio अभी भी सितंबर महीने में अपने सेगमेंट में सबसे ज्यादा — 9,208 यूनिट — बिकने वाली कार है. मगर Maruti Suzuki अपने इस नेतृत्व को बनाए रखने के लिए अगली पीढ़ी की Celerio लॉन्च करने के बारे में विचार कर रही है.

मौजूदा पीढ़ी की Celerio के बेस मॉडल की कीमत 4.21 लाख रुपये से शुरू होती है और टॉप मॉडल दिल्ली में 5.40 लाख रुपये (एक्स-शोरूम) में खरीदा जा सकता है. इस कार का Celerio X नामक एक मसल वैरिएंट भी है जिसे कंपनी ने शहरी ऑफ-रोड क्रॉसओवर के रूप में पेश किया है. Maruti Suzuki कार की अगली पीढ़ी के मॉडल के लिए कई नए फीचर्स पर काम कर रही है ताकि प्रतियोगिता में बनी रह सके. नयी Celerio में स्पोर्टी इक्स्टीरीअर और फीचर्स से भरपूर, अपमार्केट इंटरियर्स उपलब्ध कराये जा सकते हैं.

अगली-पीढ़ी की Celerio में Apple CarPlay और Android Auto से लैस टचस्क्रीन इंफोटेनमेंट सिस्टम और उन्नत सुरक्षा सुविधाओं के साथ सहित कई कनेक्टिविटी विकल्प हो सकते हैं जैसा कि नई Santro और बाकी प्रतियोगी कार्स में हैं.  इसके अलावा अंदर स्पेस बढ़ने की उम्मीद है. Celerio पहले से ही एक अच्छी माइलेज वाली कार है जिसमें 1.0 लीटर K10B DOHC पेट्रोल इंजन मौजूद है जो ARAI से प्रमाणित 23.1 किलोमीटर प्रति लीटर का माइलेज देता है. यह इंजन 3,500 आरपीएम पर 67 बीएचपी पॉवर और 90 एनएम टॉर्क उत्पन्न करता है. इस कार का एक सीएनजी विकल्प भी मौजूद हो जो कम पॉवरफुल है लेकिन 31.79 किलोमीटर प्रति लीटर का उच्च माइलेज देता है. कार 5-स्पीड मैनुअल और 5-स्पीड AMT (ऑटोमेटेड-मैन्युअल ट्रांसमिशन) गियरबॉक्स विकल्पों के साथ आती है.

हालांकि Maruti के इसका इंजन बदलने की बहुत कम संभावना है लेकिन Celerio का एक इलेक्ट्रिक संस्करण आ सकता है, खासकर जब सरकार इलेक्ट्रिक के वाहनों के विकास को प्रोत्साहित कर रही है. इलेक्ट्रिक ड्राइवट्रेन सिस्टम को WagonR से लिया जा सकता है जिसका पहले से ही भारत में परीक्षण किया जा रहा है.

Source