नवम्बर में Maruti Alto की बिक्री में आई गिरावट: क्या Hyundai Santro है इसकी जिम्मेदार?

Maruti Suzuki ने नवंबर 2018 में भारत में कुल 143,890 कार्स बेचीं जिससे यह एक बार फिर बाजार में अग्रणी ऑटो कंपनी बन कर उभरी है. हालांकि इस त्यौहार के मौसम में मांग में मंदी के चलते यह संख्या थोड़ी कम है लेकिन अन्य प्रतिस्पर्धियों की तुलना में यह एक अच्छा प्रदर्शन है. इस सबके बावजूद Maruti की एक कार की बिक्री में कमी भी देखी गई. हम यहाँ Maruti Suzuki Alto की बात कर रहे हैं जिसकी हमेशा अच्छी बिक्री रहती है लेकिन इस बार वह प्रतियोगिता से बहार रही है.

New Maruti Suzuki Alto K10 India 2

Maruti ने नवम्बर में 18,643 Alto की बिक्री की जो अक्टूबर के 22,180 आंकड़े के मुकाबले काफी कम है. हालाँकि 18,000 हजार से अधिक यूनिट की बिक्री किसी भी कार के लिए एक अच्छा आंकड़ा है और Alto लम्बे समय से सबसे ज्यादा खरीदी जाने वाली कार रही है. इस नवम्बर के बिक्री चार्ट में यह चौथे स्थान पर रही जो Alto के इतिहास में पहली बार हुआ है. कड़ी प्रतिस्पर्धा और त्यौहार के मौसम के दौरान कम रुचि इस कार की कम बिक्री के मुख्य कारण रहे हैं.

बाजार में चल रही प्रतिस्पर्धा की बात की जाए तो इस स्थित में Alto अन्य मजबूत प्रतिद्वंद्वियों से पिछड़ सकती है. Renault Kwid लॉन्च के समय से ही अच्छा प्रदर्शन कर रही हैं और बहुत अच्छे बिक्री के आंकडे दे रही है. बेहतरीन माइलेज, SUV-जैसा लुक, और अच्छे फीचर्स कुछ ऐसे कारक हैं जिन्होंने इस कार को सफलता की नयी कहानी लिखने में मदद की है. दूसरी तरफ Tata की Tiago ने भी बिक्री के मामले में सराहनीय प्रदर्शन किया है और इसके लिए इसके शानदार मूल्य को श्रेय दिया जा सकता है जो कीमत के हिसाब से इसे बेहतर पैकेज बनाता है. यह कार पेट्रोल और डीजल इंजन के साथ आती है और दोनों इंजनों में ऑटोमैटिक गियरबॉक्स भी मौजूद है.

Santro 5

प्रतिद्वंद्वियों की सूची में नवीनतम Hyundai Santro भी शामिल है जो पहले ही सबसे ज्यादा बिकने वाली शीर्ष 10 कार्स की सूची में अपनी जगह बना चुकी है. हालांकि Alto की तुलना में यह काफी महंगी है लेकिन नई Santro एक अच्छा पैकेज है जो Alto को नुक्सान पहुंचा रही है. इस बात का अंदाजा इससे लगाया जा सकता है कि यह कार नवंबर में भारत की दसवीं सबसे ज्यादा बिकने वाली कार रही. यह तथ्य इसे लॉन्च के साथ सबसे तेज़ बिक्री वाली कार बनाता है. यह Alto से अधिक शक्तिशाली (मामूली रूप से) और बड़ी होने के साथ-साथ सेगमेंट में इंटीरियर्स और फीचर्स के मामले में भी सबसे अग्रणी है.

Celerio पहले ही अपने प्रतिद्वंद्वियों — विशेष रूप से Santro — से पिछड़ चुकी है और अब Maruti Suzuki निश्चित रूप से भारत में अपने रुतबे को बचाना चाहेगी. इस नवंबर बिक्री के मामले में Celerio देशभर में 11वें स्थान पर रही जबकि यह पहले शीर्ष 5 कार्स में से एक थी. इसका गिरावट के मुख्य कारणों में से एक Santro है. Tata और Hyundai एंट्री-लेवल कार्स पर बड़े आक्रामक तरीके से काम कर रहे हैं. ऐसे में यह देखना दिलचस्प होगा कि Maruti इस बार अपने उत्पादों को कैसे संभालती है.

वैसे बताते चलें कि एक नई Maruti Alto का निर्माण किया जा रहा है और यह कार अगले साल बाद में लॉन्च की जाएगी. इस कार को पूर्ण रूप से री-डिज़ाइन किया जायेगा और इसके अधिक सुरक्षित होने की उम्मीद है. नई Alto के भारत सरकार द्वारा जल्द लागू होने वाले उत्सर्जन मानदंडों के अनुरूप होने की भी उम्मीद है.