Mahindra का बड़ा वेंचर: Mahindra PF-Zero इलेक्ट्रिक सुपरकार विद Pininfarina!

Mahindra and Mahindra प्लान कर रहे हैं इटालियन् डिजाईन फर्म Pininfarina (जिसके ये खुद ही मालिक है) के साथ एक हाई-परफॉरमेंस व्हीकल का डेवलपमेंट. कोलैबोरेशन में दोनों ने एक नयी इलेक्ट्रिक कार पर काम करना शुरू किया है जो आकर्षित करेगी पूरी दुनिया का ध्यान. शुरू में इसे जाना जाता था Project Montana के नाम से और इस कोलैबोरेशन का सबसे एक्साइटिंग रिजल्ट होगी एक इलेक्ट्रिक हाइपरकार. PF-Zero, जो है इसका मौजूदा नाम, एक लिमिटेड एडिशन रन होगी और कम्पीट करेगी Bugatti Chiron जैसी हाइपरकार्स के साथ.

नयी गाड़ी को डेवेलप किया जा रहा है इलेक्ट्रिक कार एरीना में एक धमाके के साथ एंट्री के लिए. इसलिए PF-Zero हाइपरकार की सेल्स से ज्यादा फर्क नहीं पड़ेगा क्योंकि प्रोडक्शन रन सिर्फ 20 यूनिट्स का प्लांड है.

Mahindra और Pininfarina काम कर रहे हैं हाई-एन्ड इलेक्ट्रिक स्पोर्ट्स कार्स और SUVs पर. नए प्रोजेक्ट में शुरू में 4 गाड़ियाँ डेवेलप की जाएँगी. और ये लो-वॉल्यूम, हाई-परफॉरमेंस स्पोर्ट्स कार्स होंगी वो गाड़ियाँ जो दुनिया में स्पोर्ट्स कार्स और SUVs की सबसे तेज़ ब्रीड को देंगी टक्कर. Audi India के पूर्व बॉस माइकल पेर्श्च्के को इस प्रोजेक्ट को असलियत बनाने का काम सौंपा गया.

ACI के मुताबिक, Project Montana को Mahindra से $100 मिलियन का शुरूआती इन्वेस्टमेंट मिला है और अब ये वेंचर बाहरी निवेश की भी तलाश करेगा. नए वेंचर को कोई आधिकारिक नाम नहीं दिया गया है लेकिन इसका नाम Automobili Pininfarina हो सकता है. आने वाली EV के सारे डिजाईन और स्टाइलिंग आस्पेक्ट्स डिजाईन फर्म खुद ही करेगी. नयी कार्स को दिया जायेगा Pininfarina मोनिकर.

टॉप-स्पेक इलेक्ट्रिक कार होगी एक इलेक्ट्रिक हाइपरकार जो टक्कर देगी 1,500 बीएचपी Bugatti Chiron को.

इलेक्ट्रिक SUVs की रेंज भी बनायी जाएगी. Lamborghini Urus जैसी गाड़ियों को टक्कर देने के लिए ये SUVs बनायीं जाएँगी और इनके हाइपरकार्स से ज्यादा यूनिट्स प्रोड्यूस किये जायेंगे. इसे अंदरूनी तौर पर PF1 का नाम दिया गया है. Mahindra दो और SUVs बना रही है जो टक्कर देंगी Porsche Cayenne और Porsche Macan जैसी गाड़ियों को.

फुली-इलेक्ट्रिक SUV, PF1, को दिया जायेगा एक मोडुलर प्लेटफार्म जिसे मिलता है एक 140 kwh बैटरी पैक और 700 kW (940 बीएचपी) का भारी भरकम आउटपुट. कंपनी टारगेट कर रही है 0-100 km/h 3 सेकंड के अन्दर. Mahindra ने गाड़ियों की डेवलपमेंट के लिए Rimac को भी रोप-इन किया है. Rimac जानी जाती है अपनी इलेक्ट्रिक हाइपरकार्स Concept One (जो रिचर्ड हैमंड ने क्रैश की थी) और हाल में अनावरित की गयी Concept C-Two के लिए. कांसेप्ट डेवेलप करती है मैक्सिमम 1,915 बीएचपी और 0-100 km/h टच कर सकती है मात्र 1.85 सेकंड में. Rimac Aston Martin-Red Bull Racing की AM-RB 001 हाइपरकार और Koenigsegg Regera के लिए बैटरी सिस्टम भी डेवेलप करती है.

दिलचस्प बात ये है की Mahindra के पास एक Formula E टीम भी है जो नयी इलेक्ट्रिक व्हीकल्स की डेवलपमेंट के दौरान मदद और इनपुट्स देगी. शुरूआती धन परफॉरमेंस SUV और इलेक्ट्रिक हाइपरकार के डेवलपमेंट पर खर्च होगा. ब्रांड से पहली गाड़ियाँ 2020 तक सेल पर जाने की उम्मीद है.

ये डेवलपमेंट Mahindra को बड़े और जाने माने लीडर्स के साथ ग्लोबल स्टेज पर लाकर खड़ा कर देगा. इलेक्ट्रिक व्हीकल्स वाले भविष्य के जल्द आने के आसार के साथ ये मार्केट में बड़ा क़दम रखने के लिए एक अच्छा तरीका होगा.

Via: ACI