बर्फ में फँसी यह Mahindra Scorpio बताती है कि आपको ऐसे रास्तों पर क्या करने बचना चाहिए

हिमालय की वादियां पूरे भारत के सैलानियों के लिए सबसे पसंदीदा पर्यटन स्थल बनता जा रहा है. खासकर अब जब आपके लिए किराए पर उपलब्ध हैं ढेर सारी ऐसी कार्स जिन्हें आप खुद ड्राइव कर हिमालय की वादियों के नज़ारे देख सकते हैं. पेश है आपके लिए एक वीडियो जिसमें एक ऐसी ही किराए पर ली गई Mahindra Scorpio 2WD स्पिति घाटी के अप्रत्याशित रास्तों पर सफर के दौरान बुरी तरह से फँस गई.

स्पिति घाटी हिमालय की सबसे अप्रत्याशित इलाकों में से है. यहां सडकों से बर्फ को हटाने का काम कभी-कभार ही किया जाता है जिस वजह से यहां के रास्ते घंटों या कभी-कभी कि दिनों तक बंद पड़े रह सकते हैं. इस वीडियो में दिखाई दे रही Scorpio इस गाड़ी का S4 संस्करण है जो एक 2-व्हील ड्राइव गाड़ी है. बर्फीले रास्तों पर एक 2-व्हील-ड्राइव गाड़ी में सफ़र खतरनाक साबित हो सकता है क्योंकि ऐसी गाड़ियाँ कहीं भी फँस सकती हैं.

इस छोटे से वीडियो में आप हिमस्खलन के कारण बंद पड़े रास्ते को देख सकते हैं. इस वीडियो के अनुसार इस बंद पड़े रस्ते को स्थानीय निवासियों की मदद से खोलने में चार घंटे का वक़्त लगा. जैसा की वीडियो में देखा जा सकता है कि स्थानीय-निवासी बेलचों से बर्फ हटा कर Mahindra Scorpio के लिए रास्ता बना रहे हैं. आप देख सकते हैं कि कैसे यह Mahindra Scorpio बर्फीली सतह पर चलने की कोशिश करती है लेकिन बर्फ में फँस जाती है. यह 2-व्हील ड्राइव Scorpio पॉवर को गाड़ी के पीछे के पहियों को भेजती है जिस वजह से इस गाड़ी के चक्के फिसलन भरी बर्फीली-सतह पर पकड़ बनाने में दिक्कत का सामना करते हैं. फिर स्थानीय निवासी इस गाड़ी के सामने वाले पहियों के पास की बर्फ को हटाने के बाद गाड़ी को धक्का मार कर बाहर निकलते हैं. आप इस वीडियो में एक Maruti Suzuki Gypsy को इसी रास्ते को बिना किसी दिक्कत के पार करते देख सकते हैं.

Scorpio Stuck Snow

इस परिस्थिति से कुछ बातें सीखने के लायक हैं.

गाड़ी को साज़ो-सामान से लैस रखें – अगर आप इस किस्म के सुनसान इलाकों के सफर पर निकले हैं जहाँ मौसम पलक झपकते ही करवट ले लेता है तो आपकी गाड़ी में वो हर सामान मौजूद होना चाहिए जो आपको गाड़ी के फँस जाने की स्थति में उपयोगी हो. फावड़ा-बेलचा, टोचन के लिए हुक और ट्रैक्शन मैट्स (सतह पर पकड़ बनाने के लिए लोहे की चटाई) जैसे साज़ो-सामान ऐसी परिस्थितियों में बेहद उपयोगी साबित होते हैं. साथ ही गाड़ी में पंक्चर लगाने का सामान और हवा-भरने के लिए पंप रखा होना अनिवार्य है. स्पिति घाटी में आबादी के काफी दूर-दूर बसे  होने की वजह से आपको मदद और मोबाइल नेटवर्क के लिए मीलों का सफर तय करना पड़ सकता है.

अपनी गाड़ी को अच्छे से जान लें – 2-व्हील ड्राइव गाड़ियाँ तब काफी सक्षम साबित होती हैं जब इसको चलने वाला व्यक्ति जानता है कि आखिर वो कर क्या रहा/रही है. लेकिन हर श्रेणी की गाड़ियों के साथ उसकी कोई न कोई कमी जुड़ी हुई होती है. अगर आप किसी मुश्किलों-भरे रास्ते पर पहली बार जा रहे हैं तो हमेशा इस बात को सुनिश्चित कर लें की आपकी गाड़ी एक 4-व्हील ड्राइव है. एक बार ऐसे रास्ते और उस पर मिलने वाली चुनौतियों से से परिचित हो जाने के बाद आप अगली बार उस रस्ते दोबारा पर एक 2-व्हील ड्राइव लेकर जाने का जोखिम उठा सकते हैं.

अपनी गाड़ी की कमियों को जान लें – भले ही आपके पास एक 4-व्हील ड्राइव गाड़ी है फिर भी आपको जोखिम भरी परिस्थति में उतरने से परहेज़ करना चाहिए. पहले गाड़ी से उतर कर पैदल ही रास्ते की सतह और उस पर उपलब्ध पकड़ का जायज़ा ले लें. पैदल चलने से आपको रास्ते के बारे में मोटा-मोटा अंदाज़ा हो जाता है जो आपको अपनी गाड़ी को वहां से आसानी से निकाल ले जाने में सहायक होता है.

कोशिश करें कि आप कम-से-कम दो वाहनों के जोड़े में ट्रिप पर निकलें  – हमेशा अपने साथ एक बैक-अप वाहन लेकर चलना सम्भव नहीं हो पता लेकिन इस किस्म की जोखिम भरी परिस्थितियों में यह बेहद मददगार होता है. अगर आपके काफिले में कम-से-कम दो गाड़ियाँ चल रहीं हैं तो एक गाड़ी के रास्ते में फस जाने की स्थिति में दूसरी गाड़ी उसे खीच कर बाहर निकल सकती है. गाड़ी में एक विन्च लगा होना भी काफी उपयोगी साबित होता है लेकीन सामान्य वाहनों में इसका लगा होना काफी दुर्लभ होता है.