Mahindra ने ठहराया Jeep की Roxor वाली शिकायत को बेबुनियाद

इटालियन-अमेरिकन ऑटोमोटिव समूह Fiat Chrysler के यूनाइटेड स्टेट्स International Trade Commission (ITC) में Roxor SUV के अमेरिका में इम्पोर्ट के प्रतिबन्ध की शिकायत पर इंडियन SUV निर्माता Mahindra ने कड़ा जवाब दिया है.

ITC में Fiat Chrysler Automobiles (FCA) की शिकायत इस बात का दावा करती है की Roxor Jeep ब्रांड के आइकोनिक बॉक्सी डिजाईन की नक़ल करती है. FCA ने ये आरोप भी लगाए हैं की Mahindra Roxor अमेरिका में उसकी साख और व्यापार को नुक्सान पहुंचाएगा क्योंकि Mahindra अमेरिका में Roxor को Completely Knocked Down (CKD) यूनिट्स के रूप में इम्पोर्ट करती है. इन यूनिट्स को इंडिया में बनाया जाता है जिससे इंडियन कार निर्माता अमेरिका में बनने वाली Jeeps के मुकाबले अपनी कीमत बेहद कम रख सकता है.

FCA द्वारा ITC में लगाए गए आरोपों पर प्रतिक्रिया देते हुए Mahindra ने एक बयान जारी किया है जो कहता है “हमें जानकारी है की FCA ने यूनाइटेड स्टेट्स International Trade Commission (ITC) में Mahindra के खिलाफ एक शिकायत की है. Mahindra को अभी तक ये शिकायत आधिकारिक रूप से प्राप्त नहीं हुई है और हम इस फसाद पर अभी टिपण्णी नहीं करना चाहेंगे. लेकिन, हमने FCA की फाइलिंग देखी है और हमें वो बिल्कुल बेबुनियाद लगी.”

यूटिलिटी गाड़ियों के लिए फेमस Mahindra ये भी दावा करती है की Willys ब्रांड के उसका लम्बा नाता रहा है. दूसरे विश्वयुद्ध के बाद, Mahindra ने Willys के साथ करार के तहत इंडियन मार्केट के लिए Willys Jeep पर आधारित यूटिलिटी गाड़ियाँ बनाना शुरू किया.

Mahindra ने इस समय के दौरान Willys ब्रांड के ओनर्स के साथ और भी करार किये हैं जिसके तहत वो इस आइकोनिक डिजाईन पर UVs बना सकती है. इनमें इंडियन ऑफ-रोडिंग कम्युनिटी की पसंदीदा Mahindra Thar भी शामिल है. Mahindra और Willys ब्रांड के ओनर्स के बीच आखिरी करार 2009 में तब हुआ था जब Willys की मालिक Chrysler Group LLC थी. Chrysler Group के 2009 में दिवालिया घोषित होने के बाद Fiat ने Chrysler को खरीद लिया और 2014 में FCA बनाया.

Mahindra ये भी दावा करती है की वो दुनियाभर में कई मार्केट्स FCA ग्रुप की मौजूदगी में शान्ति से काम कर रही है जिसमें इंडिया भी शामिल है. Mahindra ये भी दावा करती है की FCA की अमेरिका में Roxor के इम्पोर्ट पर प्रतिबन्ध लगाने की शिकायत इसलिए बेबुनियाद है क्योंकि ये SUV असल में Mahindra के उन गाड़ियों से प्रेरित जो उसी मार्केट्स में बेचे जाते हैं जहां FCA की गाड़ियाँ भी बेचीं जाती हैं.