LANDI Jeep: ‘ज’ से जाट, ‘ज’ से जीप!

आपने चार पहिया वाहनों के कितने प्रकार देखे हैं? किसी आम इंसान से अगर ये सवाल किया जाए तो उसका जवाब होगा – हैचबैक, सेडान, SUVs. लेकिन एक इंसान जो शिकार का शौक़ीन हो, जिसे अपनी गाड़ी सड़क की हालत की परवाह किए बिना चलाने की आदत हो, जो ऐसे रास्तो से अपनी गाड़ी को निकाल ले जहाँ बड़ी-बड़ी कार्स के पसीने निकल जाएँ और सड़क पर चलते लोग घबराकर रास्ता देने लग जाएं, जो पानी पत्थर रेत या कीचड़ को बिना किसी समस्या के पार कर ले, ऐसे शक्स का जवाब शुरू ही होगा ‘ज़ीप शब्द से और फिर हैचबैक, सेडान, SUVs जैसे अन्य प्रकार.

भारतीय सड़कों पर Jeep उतनी ही पुरानी है जितना भारत का संविधान, बल्कि शायद उसे भी ज़्यादा. फिर चाहे वो 1966 से पहले की Willy Jeep हो या बाद की Mahindra उत्पादित Jeep हो.

एक युग था जब Jeeps सबसे लोकप्रिय ही नहीं बल्कि एक मात्र एक बार निवेश किए जाने वाली गाड़ी थी. जहाँ Ford Jeep से शुरू हुई अमर चित्र कथा, Willy के CJ2 A, CJ3 A मॉडल्स से होती हुई Mahindra की CJ 500 D, Major, Commander, Classic, Marshal, MM 540/550, Armada पर पहुँचकर, लम्बे समय तक भारतीय बाज़ार में अनुपस्तिथि रही थी. फिलहाल बाज़ार में  Mahindra Thar और Mahindra Bolero के साथ ये सेगमेंट फिर जाग उठा है और लाखों Jeep शौकीनों के सोए हुए शैतान को जगा रही हैं. आज भी Jeep युवाओं के दिल की धड़कने तेज़ कर देती है. फिर चाहे वो पंजाब – हरयाणा का ‘गेडी’ रिवाज हो या राजस्थान के रजवाड़ों और बनाओं के लिए गर्व और प्रबलता का प्रतीक, ये विरासती वाहन सड़क चलतों का ध्यान आकर्षित करने में किसी भी विदेशी लक्ज़री कार को कड़ा मुकाबला दे सकती है.

पंजाबी भाषा में ‘लांडी जीप’ के नाम से मशहूर गाड़ी को एक विशेष चुनिंदा शोरूम से खरीदा जा सकता है – मोगा मंडी (पंजाब), दबवाली (हरयाणा). इसे खरीदने के लिए इसके इंजन और चेसिस को असेम्ब्ल करना पड़ता है. मैग-एलॉय व्हील्स के साथ लो-बोनट और स्पलिट विंडस्क्रीन वाली  Mahindra classic की बॉडी, Toyota 2C इंजन के साथ 5-स्पीड गियरबॉक्स, Bucket सीट्स, JK Tornado टायर्स, Maruti Gypsy के डिस्क ब्रेक्स, वुडेन गियर नॉब, विशाल बम्पर, विशाल स्पॉट-लाइट्स, फेंडर पर ब्लैक-आउट-लाइट्स और आपकी लंडी जीप कुछ हद तक तैयार होती नज़र आ रही है.

https://youtu.be/ftcgqWXmoU4?list=RDQM0-lCUWqcdPU

Jeep के एक्सटीरियर में फिट किया गया एक फावड़ा, कुल्हाड़ी और पीतल के हैंडल वाला पिक-एक्स जिसे विंडस्क्रीन के ठीक लगे जाता है और ड्राइवर साइड में एक राइफल होल्डर जैसे उपकरण भी इन Jeeps की टफ लुक्स को और सवारने के लिए लगवाए जा सकते हैं. इसके अलावा Fire extinguisher, टो-हुक्स, जैसे अन्य सजावटी उपकरणों के साथ आप अब किसी भी जंग पर जाने के लिए त्यार हैं. लंडी Jeep की कीमतें लगभग 1.5 – 4 लाख रूपए तक होती है जो इस बात पर निर्भर करता है कि आपने अपनी थाल में घी कितना परोसने को बोला है. ये इस लेहाज़ से फिर भी सस्ती है कि इसे खरीदने के बाद आप अपने शहर की चर्चा का मुख्य विषय होंगे.

तो अब इस लेख को पढ़ने के बाद अगर आपके जीन, आपके मस्तिष्क को ‘दबवाली’ या ‘मोगा’ की ओर यात्रा करने का निर्देश देते हैं, तो आप गर्व से कह सकते हैं कि आपके सभी हार्मोन्स ‘पंजाबी’ हैं.