Lamborghini Gallardo से डरी महिला पुलिस, आगे की कार्यवाही में ये हुआ…

सुपर कार चलाना कोई आसान बात नहीं होती, खासकर भारत में ऐसी कार्स चलाना यहाँ की सड़कों पर होने वाली भीड़ के चलते और भी मुश्किल हो जाता है. एक ऐसी ही घटना सामने आई है जहां Lamborghini Gallardo चला रहे एक इंसान को गाड़ी को तेज़ रफ़्तार चलाने, आक्रामक रूप से ड्राइविंग, और बिना सीटब्लेट की ड्राइविंग के लिए पकड़ लिया गया.

यहाँ क्या हुआ?

Lambo Scare 1

36 साल के K Ramesh चेन्नई के एक बड़े बिल्डर की Gallardo Spyder चला रहे थे. वो Marina Beach रोड पर चल रहे थे जब उन्होंने गाड़ी की स्पीड थोड़ी सी बढ़ाई. जहां उन्होंने बीच रोड पर अपनी स्पीड बढ़ाई, वो स्कूटर पर चल रहीं दो महिला पुलिसकर्मियों से जाकर लगभग टकरा गए.

पुलिसकर्मी कार के एग्जॉस्ट की आवाज़ सुनकर डर गयीं और अगले सिग्नल पर खड़े पुलिसकर्मियों को इस Gallardo को रोकने को कहा. पुलिस ने आगे बैरिकेड लगा रखे थे और गाड़ी को आते देख उन्होंने उसे रोक लिया.

रोकने के बाद पुलिस ने ड्राईवर से बात की और ये तय किया की वो गाड़ी को किसी प्रकार के नशे में नहीं चला रहा था. लेकिन, वो स्पीड लिमिट से तेज़ ज़रूर चल रहा था. उस ड्राईवर पर तेज़ रफ़्तार चलने, आक्रामक रूप से ड्राइविंग, और बिना सीटब्लेट की ड्राइविंग के लिए 1,200 रूपए का जुर्माना लगा.

फिर वहां से गाड़ी को Triplicane पुलिस थाने तक टो कर के ले जाया गया और वहां से ही गाड़ी को उसके मालिक को सौंपा गया.

Lambo Scare 2

पुलिस ने ये भी कहा की गाड़ी का एग्जॉस्ट काफी तेज़ आवाज़ वाला और स्पोर्टी थे जिससे सड़क पर चल रहे बाकी लोगों को भी दिक्कत आई.

एक महिला पुलिसकर्मी जो स्कूटी पर थीं और जिनसे Gallardo लगभग टकरा गयी थी, उन्होंने ये कहा:

व्यस्त सड़क पर ओवरटेकिंग नहीं करनी चाहिए. साथ ही तेज़ आवाज़ से सड़क पर चल रहे बाकी लोग आसानी से डर सकते हैं. इससे वो अपनी गाड़ी का संतुलन भी खो सकते हैं.

ये सच है की स्पोर्ट्स कार्स और सुपर कार्स के एग्जॉस्ट की आवाज़ बहुत तेज़ होती है. लेकिन जब उन्हें आराम से चलाया जाता है तो वो ज़्यादा आवाज़ नहीं करते. उन्हें ज़्यादा रेव करने पर ही कुछ लोगों को दिक्कत आने लगती है.

वाया — TOI