KTM RC200 बाढ़ ग्रस्त सड़कों से आराम से जूझ लेती है, लेकिन क्या ये सुरक्षित है? [वीडियो]

इस वर्ष भारत में भारी मानसून ने देश के कई हिस्सों में समस्या उत्पन्न की है. अधिकांश शहरों को डूबी हुई सड़कों से निपटना पड़ा जिससे यातायात थम गया. जहाँ कई लोग इस तरह की सड़कों पर अपने वाहन के इंजनों के हाइड्रो-लॉकिंग के कारण फंसे हुए थे, Kerala की एक वीडियो में लगभग पूरी तरह से डूबी हुई KTM RC 200 को आसानी से आगे बढ़ते हुए दिखाती है.

ऐसा कैसे हो रहा है ?

Posted by BIKERbible on Saturday, 28 July 2018

KTM RC200 एक अंडरबेली एग्जॉस्ट के साथ आती है, जो हम 200 Duke, Bajaj Pulsar 200 NS और पिछली पीढ़ी की KTM 390 ट्विन्स पर भी देखते हैं. वीडियो में दिखाई गई KTM RC 200 लगभग पूरी तरह से पानी में डूबी हुई है जहाँ इसका हेडलैंप बेस बमुश्किल पानी के स्तर से बाहर निकल रहा है.

बाइक पहले से ही चल रही है और बिना किसी समस्या के राइडर को सड़क के इस जलजमाव वाले हिस्से पर बाइक को चलाते देखा जा सकता है. वह पानी में बाइक को पीछे लेकर फिर से आगे की ओर चलाता है. बाइक के अंडरबेली एग्जॉस्ट ने शुरूआत में बहुत आलोचना प्राप्त की थी जब KTM और Bajaj, जिन्होंने संयुक्त रूप से बाइक्स को विकसित किया था, ने एक वीडियो अपलोड किया था जो बाइक की पानी में चलाए जाने की क्षमता दिखाता है.

अंडरबेली एग्जॉस्ट इस तरह से डिजाइन किया गया है कि पानी एग्जॉस्ट में प्रवेश नहीं कर सकता है. यहां तक ​​कि अगर पानी एग्जॉस्ट मफलर में प्रवेश कर भी लेता है, तो बिना किसी परेशानी के मैनीफोल्ड्स सूखा रहता है. यह गहरे पानी के स्तर में सवारी करते समय इंजन को पानी से भरजाने से रोकता है. एग्जॉस्ट का डिज़ाइन पानी को इंजन कम्पार्टमेंट में प्रवेश करने से रोकता है, जो इसे बाजार में उपलब्ध अधिकांश बाइक की तुलना में सुरक्षित और अधिक सक्षम बनाता है.

Bajaj और KTM द्वारा अपलोड किया गया वीडियो दिखाता है कि बाइक 16.5 इंच के पानी के स्तर, जो 419 मिलीमीटर पानी की गहराई से 15 किलोमीटर / घंटे की रफ्तार से गुज़र रही है. यह भारतीय बाजार में उपलब्ध अधिकांश SUVs से अधिक है. बेहतरीन इंजीनियरिंग बाइक को गहरे पानी के स्तर को पार करते समय रोकने से बचाती है. ये वीडियो 30 मिनट के लिए गहरे पानी में पार्क की गई बाइक को बिना किसी समस्या के फिर से स्टार्ट करते हुए दिखाती है. हालांकि, सोशल मीडिया पर अपलोड की गई वीडियो से पता चलता है कि इसमें Bajaj-KTM की वीडियो की तुलना में पानी बहुत अधिक है.

क्या गलत हो सकता है?

जबकि निकास प्रणाली को फूल-प्रूफ तरीके से डिजाइन किया गया है, ये इंटेक सिस्टम है जो चीजों को गलत बना सकता है. पानी एयर-इन्टेक के माध्यम से प्रवेश कर सकता है और एयर फिल्टर को खराब कर सकता है. ये इंजन कूम्पार्टमेन्ट में भी प्रवेश कर सकता है और इंजन को गंभीर नुकसान पहुंचा सकता है. जबकि बाइक जलजमाव सड़कों को पार करने में सक्षम हैं, लकिन ऐसा करना एक अच्छा विचार नहीं है.

इसके अलावा, KTM बाइक्स में ECU समेत बहुत से इलेक्ट्रिकल पुर्ज़े हैं जो बाइक पर बहुत सी चीजों को नियंत्रित करते हैं. यदि ECU पानी से प्रभावित होता है, तो यह उड़ सकता है और बाइक को बेकार बना सकता है. इसके अलावा, बाइक में मौजूद तार और बैटरी जैसे कंपोनेंट्स गहरे पानी में ख़राब हो सकते हैं. यह समझना महत्वपूर्ण है कि ऐसे स्टंट आपकी बाइक को खराब कर सकते हैं और इनसे बचना चाहिए.