KTM Duke 390 बनाम Kawasaki Ninja 400: देखिये सिंगल और डबल सिलिंडर में से कौन जीता!

KTM Duke 390 जितनी तेज़ है उतनी ही किफायती भी. इस गठजोड़ ने इसे भारत के सडकों पर बेहद मशहूर बना दिया है. शौकीनों की पहुँच के अन्दर रहने वाली लेटेस्ट एंट्री हाई-परफॉरमेंस मोटरसाइकिल है Kawasaki Ninja 400. इस मोटरसाइकिल को भारत में पिछले साल लॉन्च किया गया था. अब पेश है Duke 390 और Ninja 400 के बीच एक ड्रैग रेस. को क्या Duke को अंत में कड़ी चुनौती मिली है? आइये देखते हैं.

जैसा की विडियो में साफतौर पर देखा जा सकता है, Kawasaki Ninja 400 कई बार KTM Duke 390 को करारी शिकस्त देती है. यहाँ ये भी साफ है की KTM Duke 390 का लो एंड टॉर्क इसे शुरुआत में आगे लेकर जाता है लेकिन कुछ सेकेण्ड के बाद ही Ninja 400 इससे आगे निकल जाती है.

अब बात करते हैं कुछ आंकड़ों की. KTM Duke 390 यहाँ पॉवर और डिस्प्लेसमेंट के मामले में पीछे है. इस बाइक का 373 सीसी, सिंगल सिलिंडर इंजन अधिकतम 43 बीएचपी-35 एनएम का आउटपुट देता है जो Kawasaki Ninja 400 399 सीसी पैरेलल-ट्विन इंजन के 48 बीएचपी-38 एनएम से कम है. जहां Duke 390 अधिकतम टॉर्क आउटपुट 7,000 आरपीएम पर उत्पन्न करती है, Ninja 400 का अधिकतम टॉर्क 8,000 आरपीएम पर आता है.

Ninja Vs Duke

जहां KTM Duke 390 के इंजन का रेव-लिमिटर 10,500 आरपीएम पर काम करना शुरू कर देता है, Kawasaki ने Ninja 400 को 13,000 आरपीएम तक रेव करने के लिए बनाया है. इससे Ninja 400 राइडर एक गियर में ज़्यादा लम्बे समय तक रह सकता है. ये ड्रैग रेस में बेहद ज़रूरी बात होती है क्योंकि यहाँ गियर शिफ्ट का समय बेहद मायने रखता है. लेकिन Duke 390 को एक मुद्दे पर बड़ी बढ़त मिलती है, और वो है इसका हल्का वज़न.

154 किलो है ये बाइक Ninja 400 से लगभग 20 किलो हल्की है. इस ड्रैग रेस में Duke के राइडर के साथ उसका वज़न 220 किलो है वहीँ Ninja 400 के राइडर के साथ उसका वज़न 260 किलो है. तो ये 40 किलो का वज़न Ninja 400 के पॉवर और टॉर्क बढ़त को काफी हद तक बराबर कर देता है.

तो ऐसे में Ninja 400 फिर भी रेस क्यों जीत जाती है?

  1. हाई रेव के चलते एक ही गियर में लम्बे समय तक रहने के कारण Ninja 400 को एक बड़ी बढ़त मिलती है जिससे वो रेस जीत जाती है.
  2. बाइक की उम्र. इस ड्रैग रेस में इस्तेमाल की गयी Kawasaki Ninja 400 बिल्कुल नयी है वहीँ KTM Duke 390 5 साल पुरानी है, जिससे KTM की परफॉरमेंस पर असर पड़ता है. 37 एनएम टॉर्क के साथ नयी Duke 390 असल में Ninja 400 को कड़ी टक्कर दे सकती थी.

सड़क के लिए कौन सी मोटरसाइकिल बेहतर है?

KTM Duke 390. हाँ, Ninja 400 के मुकाबले ये थोड़ी धीमी है और ड्रैग रेस में ये पिछड़ जाती है. लेकिन, सड़क पर टॉप स्पीड नहीं बल्कि हैंडलिंग, हल्का वज़न और तेज़ी से रफ़्तार ग्रहण करना मायने रखता है.

Duke 390 इस मामले में बिल्कुल आगे हैं, और Ninja 400 एक तेज़ रफ़्तार हाईवे बाइक है जो ट्रैक पर भी अच्छा प्रदर्शन करती है. जहां तक कीमत की बात है तो Duke 390 की कीमत 2.43 लाख रूपए है जो Ninja 400 के 4.69 लाख रूपए की कीमत का लगभग आधा है. कीमत देख आपके लिए ये चुनाव और भी आसान होना चाहिए.