क्यों Kishtwar-Killar ‘The Cliffhanger’ दुनिया की सबसे खतरनाक रोड है? विडियो डिटेल्स…

Kishtwar-Killar रोड अमूमन Cliffhanger रोड भी कही जाती है. ये खतरनाक और डरावनी रोड Jammu के Kishtwar डिस्ट्रिक्ट के पूर्वी हिस्से में है. 114 किलोमीटर लम्बी Kishtwar-Killar रोड, बेहद पतली और तेज़ पहाड़ी हवाओं वाली रोड है. इसे दुनिया की सबसे खतरनाक सड़क भी कहा जाता है.

पेश है कार के डैश-बोर्ड पर लगाए कैमरे की फुटेज. जैसा की इस विडियो में साफ़ तौर पर देखा जा सकता है की इस कच्ची संकीर्ण सड़क के एक तरफ निहायत ही गहरी खाई और दूसरी तरफ भयभीत करने वाले पहाड़ हैं. ये गहरी खाई बड़े-बड़े बहादुरों के रोंगटे खड़े कर देती है. इस रास्ते में एक छोटी सी भूल पलक झपकते ही 100-मीटर गहरी खाई को मौत का कारण बना सकती है. ये सिंगल-लेन रोड छोटे-बड़े पत्थर, बजरी और रेत से बनी है. इस रोड पर कहीं कोई साइड-रेलिंग नहीं लगी है और अधिकतर जगहों पर बाहर निकलती चट्टानें आनेवाले वाहनों का विज़न अवरूद्ध करती हैं. ये रोड बेहद अनुभवी ड्राईवरों के लिए है. इस रोड पर ड्राइव करने के लिए लोहे का जिगर चाहिए.

ये रोड 6451 मीटर ऊँचे Kishtwar Kailash पहाड़ के बेस कैम्प तक जाती है. Cliffhanger पहुँचने के लिए आपको Manali के बाद Rohtang Pass से Chenab Valley और Darlang Valley होते हुए सफ़र करना होगा. इस मुश्किल रास्ते को और मुश्किल बनाने के लिए यहाँ अक्सर पर्याप्त ऑक्सीजन की कमी रहती है. इस रोड का आखिरी 50 किलोमीटर का हिस्सा सबसे चुनौतीपूर्ण है. कई लोगों ने तो इसे  ‘Almost Killer’ रोड का नाम भी दिया है. ये Killar-Kishtwar रोड Himachal Pradesh के Lahaul Spiti डिस्ट्रिक्ट (2524 मीटर एलिवेशन) से शुरू होकर Jammu के Kishtwar छेत्र (समुद्र तल से 1,638 मीटर की ऊंचाई) तक जाती है. बरसात के दौरान ये और भी खतरनाक हो जाती है. ऐसे ख़राब मौसम में ये सफ़र 4X4 व्हील ड्राइव वाहन से भी तय करना लगभग नामुमकिन हो जाता है.

जैसा की आप विडियो में देख सकते हैं इस रोड के कई हिस्से एक साथ दो गाड़ियों के निकलने के लिए नहीं हैं. एक ग़लत कदम और आप कई हज़ार फीट की खाई में गिर कर चेनाब का हिस्सा बन जाएंगे. जो लोग ऊँचाई से डरते हैं या पहाड़ो पर कार में बैठने पर बेचैन महसूस करते हैं, उन्हें  एहतियात के तौर पर इस रोड पर नहीं ही जाना चाहिए. वहीँ इस रोड पर जा रहे ड्राइवर्स को पहाड़ों की चुनौती देनेवाली रोड पर चलने का पर्याप्त अनुभव होना चाहिए. अक्सर सामने से आ रहे वाहन को रास्ता देने के लिए पर्याप्त जगह न होने के कारण ड्राईवर्स को कई किलोमीटर के लिए रिवर्स ड्राइव करने की आवश्यकता पड़ती है. इसलिए, इस रोड पर चलने के लिए रिवर्स ड्राइविंग तो आनी ही चाहिए. यहाँ कई मोड़ों पर सामने से आ रहा ट्रैफिक कतई नज़र नही आता और छोटी सी चूक भी काफी खतरनाक साबित हो सकती है. यहाँ तक की सिर्फ इस विडियो को देखने से ही हमारे रोंगटे खड़े हो गए. आपका क्या कहना है?

 

विडियो – Suyash Tripathi on Youtube;

फोटो – Newscrunch.in