Maruti Baleno और Hyundai Verna को इंडिया में टक्कर देंगी Kia की नयी गाड़ियाँ

दक्षिण कोरियाई कार निर्माता Kia Motors इंडियन मार्केट के लिए एक हैचबैक और एक मिड-साइज़ सेडान विकसित कर रही है ताकि वो Maruti Suzuki और Hyundai जैसे स्थापित ब्रांड्स से टक्कर ले सके. एक LiveMint रिपोर्ट के मुताबिक़, Auto Expo में पेश किये गए अपने SP Concept पर आधारित SUV के लॉन्च के एक साल के भीतर जी Kia इंडिया में नयी हैचबैक और सेडान लॉन्च करने वाली है.

Kia Rio India

दक्षिण कोरिया में अपने हेडक्वार्टर से स्वीकृति के बाद, ये कार निर्माता अपने वेंडर्स से डेवलपमेंट प्लान पर बात कर रही है. Kia के कोडनेम KP1 और KP2 वाली हैचबैक और सेडान के साथ इंडिया में 2020 तक 2 नयी कार्स आएँगी.

Kia ने फ़रवरी में 2018 Auto Expo में अपने कार्स के पूरे लाइन-अप को डिस्प्ले किया था. इसमें Kia Rio हैचबैक शामिल थी जो लगभग Hyundai i20 और Maruti Suzuki Baleno के आकार की है. अंतर्राष्ट्रीय बाज़ारों में Kia Rio में 3 पेट्रोल (1.0-टर्बो, 1.4 और 1.6-लीटर) और एक डीजल इंजन (1.4-लीटर) ऑफर किया जाता है. अगर कंपनी इंडिया में Rio प्रीमियम हैचबैक लेकर आएगी, ज़्यादा उम्मीद है इसमें 1.6-लीटर पेट्रोल इंजन लगा होगा, पर वो कीमत कम रखने के लिए i20 का 1.2-लीटर पेट्रोल इंजन भी ला सकते हैं.

Kia इंडिया में Cerato भी टेस्ट कर रही है और ये इस सेडान को Maruti Ciaz, Honda City और Hyundai Verna से टक्कर लेने के लिए भी ला सकती है. कुछ मार्केट्स में Forte के नाम से भी जाने जानी वाली Cerato में दो इंजन ऑप्शन मिलते हैं, एक 1.6-लीटर जो 121 बीएचपी उत्पन्न करता है और एक 2.0-लीटर पेट्रोल जो 147 बीएचपी उत्पन्न करता है. अगर Cerato इंडिया आई तो इसमें 1.6-लीटर इंजन मिल सकता है क्योंकि इंडियन मार्केट में लोग माइलेज और खर्चे की ज़्यादा परवाह करते हैं.

Kia Cerato India

लेकिन, इसके पहले की इंडिया में दोनों में से कोई भी एक कार आये, Kia इंडिया में SP Concept पर आधारित प्रोडक्शन-स्पेक SUV लाएगी.

SP-पर आधारित SUV में Creta का प्लेटफार्म इस्तेमाल होगा लेकिन ये Hyundai SUV से थोड़ी महंगी होगी. 2020 के दूसरे छःमाहि में आने वाली इस कार की कीमत 11 लाख रूपए के आसपास से शुरू हो सकती है.

तीनों Kia मॉडल्स को कार निर्माता के आंध्र प्रदेश वाले फैक्ट्री में बनाई जायेंगी, अगले साल तक बन कर तैयार हो जाने पर ये फैक्ट्री हर साल 3 लाख कार्स बनाने की क्षमता रखेगी.