Bajaj Dominar और Royal Enfield के बीच एक और ऑफ-रोड मुकाबला, Dominar की एक और जीत!

ऐसा लगता है की Bajaj Dominar और Royal Enfield की तुलना जल्दी खत्म नहीं होने वाली. Bajaj का फ्लैगशिप प्रोडक्ट सीधे तौर पर REs को टारगेट करता है और Bajaj ने कुछ प्रचारों में Royal Enfield मोटरसाइकिल्स को खुले तौर पर चैलेंज भी किया है. और दोनों मोटरसाइकिल्स की अपनी खासियतें हैं. लेकिन, कुछ विडियोज़ हैं जो इन दोनों मोटरसाइकिल्स की ऑफ-रोडिंग काबिलियत पर फोकस करती हैं.

दोनों विडियोज़ को Gurgaon के पास Off Road Adventure Zone (ORAZ) में फिल्माया गया है. ये वही जगह है जहां हम अपने अधिकांश ऑफ-रोड ट्रायल करते हैं. इसमें बाधाओं की एक श्रृंखला है जो एक गाड़ी के ऑफ-रोडिंग काबिलियत को परखती हैं. जो विडियो हमारे पास है वो एक जगह Royal Enfield को जूझते हुए दिखाती हैं. आखिरकार वो धक्का देने पर गड्ढे से बाहर निकलने में सफल होती हैं. फिर विडियो इस बाइक को दूसरे जगहों पर जूझते हुए दिखाता है. जल्द ही Royal Enfield का राइडर संतुलन खो कर गिर जाता है. साफतौर पर ऐसे मुश्किल जगह पर राइडर बाइक के वज़न को संभाल नहीं पा रहा है. विडियो में एक और RE है और वो भी ऐसे ही जूझ रही है. इस बाइक को भी गड्ढे से बाहर निकालने के लिए धक्का देना पड़ता है.

दूसरे विडियो में आप एक Bajaj Dominar को उन्हीं बाधाओं से आसानी से पार पाते हुए देख सकते हैं. REs के उलट, Dominar को यहाँ किसी मदद की ज़रुरत नहीं पड़ती. ये बिल्कुल साफ़ है की ये बाइक ऑफ-रोडिंग के दौरान Royal Enfield से बेहतर परफॉर्म कर सकती है. पेश हैं ऐसा होने के पीछे के कुछ कारण –

सस्पेंशन – Bajaj Dominar 400 में सस्पेंशन की ट्यूनिंग ज़्यादा बेहतर है. Dominar खराब जगह पर आसानी से अच्छा परफॉर्म करती है और वो अधिकांश बाधाओं से पार पा लेती है. Royal Enfield भी रोड से इतर अच्छा परफॉर्म करती है लेकिन यहाँ साफ़ है की ऐसे मामलों में D400 का बेहतर सस्पेंशन ज़्यादा अच्छा परफॉर्म करता है.

टायर्स – दोनों बाइक्स में MRF टायर्स फैक्ट्री फिटेड हैं. लेकिन, Dominar के टायर्स ज़्यादा चौड़े हैं. Royal Enfield Classic 500 में आगे में 90/90-स्पेक टायर्स और रियर में 110/90-स्पेक टायर्स हैं. इसकी तुलना में Dominar में फ्रंट टायर्स 110/70-स्पेक और रियर टायर्स 150/60-स्पेक हैं. चौड़े टायर्स की वजह से Dominar चुनौती भरे जगह ज़्यादा बेहतर परफॉर्म करती है. और तो और, Dominar में लगे MRF Revz RE के Nylogrips से ज्यादा अच्छी ग्रिप प्रदान करते हैं.

लो फ्रिक्शन लॉस – अगर आप स्पेक्स की तुलना करें, फिर Dominar 400 साफ तौर पर 500cc RE से ज्यादा पावरफुल है. अगर आप ट्रांसमिशन लॉस को गिन लें तो पॉवर का ये अंतर और बढ़ जाता है. Bajaj Dominar में क्रैंक पर 27.5 बीएचपी मिलता है. मुश्किल बाधाओं से पार पाने में ज़्यादा पॉवर हमेशा काम आता है. इस पेज के दूसरे विडियो में हम देख सकते हैं की Dominar आसानी से सभी बाधाओं को पार कर लेती है. इसकी तुलना में 500cc Royal Enfield में क्रैंक पर सिर्फ 19 बीएचपी मिलता है. यहाँ ट्रांसमिशन लॉस का अंतर बड़ा है. इसलिए काफी सारा टॉर्क बर्बाद हो जाता है.

गियरिंग – Dominar में गियरिंग छोटी है जो ऐसे जगहों पर इसकी और भी मदद करता है. छोटी गियरिंग के चलते Dominar बाधाओं से आसानी से पार पा लेती है.

विडियो – Ride with Urus on Youtube