Innova का बड़ा भाई Toyota Alphard अब शायद इंडिया आ सकता है!

हाल ही में ये खबर सामने आई थी की सरकार प्रीमियम EVs, कार्स, और मोटरसाइकिल्स के इम्पोर्ट पर ड्यूटी घटाने वाली है. इससे इंडिया में कई हाई-एंड गाड़ियाँ जैसे Toyota Alphard के आने का रास्ता साफ़ हो जाएगा. अभी के नियमों के अनुसार, बिना लोकल टेस्टिंग के सिर्फ उन्हीं कार्स को इम्पोर्ट किया जा सकता है जिनकी कीमत $40,000 (लगभग 27 लाख रूपए) के आसपास हो. इसके चलते Toyota इंडिया में Alphard को लॉन्च नहीं कर पायी है. नियम में इस ढील से Toyota Kirloskar Motor इंडिया में इस हाई-एंड MPV को लॉन्च कर पाएगी. जिन लोगों को पता नहीं है, उन्हें बता दें की Toyota Alphard इसी ब्रांड के Innova Crysta से ज़्यादा बड़ी और प्रीमियम MPV है.

नियम में ढील के साथ Toyota इंडिया में हर साल 2,500 यूनिट्स इम्पोर्ट कर पाएगी. Alphard बेहद पॉपुलर Toyota Innova Crysta का ज्यादा जगहदार और प्रीमियम ऑप्शन है. ये MPV इंडिया में CKD के रास्ते आएगी. इंडिया में Alphard की कीमत 50 लाख रूपए से ज्यादा होगी, जो इसे एक बेहद हाई-एंड ऑफरिंग बनाएगी.

Alphard में 8-सीट्स हैं और इसमें वही 2.5-लीटर पेट्रोल-हाइब्रिड पॉवरट्रेन है जो Camry में भी है. इसका पेट्रोल इंजन Atkinson साइकिल पर चलता है. कुल मिलाकर, ये पेट्रोल-हाइब्रिड पॉवरट्रेन 202 बीएचपी का अधिकतम पॉवर ऑफर करते हैं. इस मोटर में e-CVT लगा हुआ है. Alphard को अपने रिफाइंमेंट और पैसेंजर कम्फर्ट के लोए काफी तारीफ़ मिली है. इसकी केबिन हाई-क्वालिटी मटेरियल से बनी है और इसकी फिट और फिनिश बेहतरीन क्वालिटी की है.

ये पहली बार नहीं है की Toyota Kirloskar Motor इंडिया में एक प्रीमियम MPV लॉन्च करने पर विचार कर रही है. इसके पहले, कंपनी इंडिया में Hiace लाने का भी सोच रही थी. Alphard के जैसे ही Hiace भी एक बड़ी MPV है जो Singapore जैसे मार्केट्स में सफल हुई थी. Hiace इंडिया में CBU के रास्ते आणि थी जिससे इसकी कीमत काफी ज़्यादा हो जाती. Alphard की CKD असेंबली से शायद इसकी कीमतें ज़्यादा ना बढें.

Hiace के उलट Alphard में डीजल इंजन नहीं है. लेकिन, ये एक और भी ज़्यादा मॉडर्न और प्रीमियम गाड़ी है. Alphard के फ़ीचर्स की लम्बी लिस्ट में 12 JBL स्पीकर्स वाला स्पीकर सिस्टम, नेविगेशन सिस्टम, वायरलेस स्मार्टफ़ोन चार्जर, एयरबैग्स, रिवर्स गाइड, nano-e वाला एसी, 3 जोन क्लाइमेट कण्ट्रोल, बैक मॉनिटर जिसमें कॉर्नर सेंसर हैं, फ्रंट सीट वेंटिलेशन, रियर विंडशील्ड के लिए पॉवर सनशेड, पॉवर रीक्लाइन रियर सीट्स, LED हेडलैम्प्स, ऑटो फोल्डिंग, और मेमोरी वाले रिवर्स लिंकड ORVMs, व्हीकल स्टेबिलिटी कण्ट्रोल, और हिल-स्टार्ट असिस्ट कण्ट्रोल शामिल हैं.

ये देखना बेहद रोचक होगा की हाई-एंड MPV कस्टमर्स Toyota की सबसे लक्ज़रीयस MPV पर कैसी प्रतिक्रिया देते हैं.