India's First Maruti 800 is Finally Getting a New Life भारत की पहली Maruti 800 को आखिरकार रीस्टोर किया जा रहा है!

भारत की पहली Maruti 800 को आखिरकार रीस्टोर किया जा रहा है!

DIA 6479 एक आइकोनिक नम्बर प्लेट है. ये भारत में बेचीं जाने वाली पहली Maruti 800 थी. और किसी ने नहीं बल्कि भारत की तब की प्रधानमंत्री Indira Gandhi ने पहली Maruti 800 की चाबी Harpal Singh को दी थी, और वो कई दशकों तक इस कार के मालिक रहे.

Harpal Singh Maruti 800 1

2010 में उनके निधन के बाद ये कार सड़क पर छोड़ दी गयी और काफी बुरे हालत में थी. इसे आखिरी बार दिल्ली के ग्रीन पार्क में Singh परिवार के घर के बाहर ज़ंग खाते हुए देखा गया था.

Harpal Singh Maruti 800 2

लेकिन अब इस कार के अच्छे दिन आने वाले हैं. इसे एक Maruti सर्विस सेण्टर पर रीस्टोर किया जा रहा है और पेश हैं भारत के पहले Maruti 800 की कुछ तस्वीरें. इसे फैक्ट्री में पार्ट-पार्ट का रिस्टोर किया जा रहा है. एक बार खत्म हो जाने पर हम इसके और भी डिटेल्स आपके सामने लेकर आयेंगे.

Harpal Singh Maruti 800 3

Maruti 800 को SS80 के नाम से भी जाना जाता था और ये वो पहली गाड़ी थी जिसे भारत की मौजूदा सबसे बड़ी कार निर्माता Maruti Suzuki (तब Maruti Udyog) ने बनाया था.

Harpal Singh Maruti 800 4

इस कार को Hindustan Ambassador और Premier Padmini जैसी कार्स का बेहतर, किफायती और ज़्यादा माइलेज वाले विकल्प के रूप में बनाया गया था. Maruti 800 तुरंत ही बहुत बड़ी हिट बन गयी और इसे लगभग 30 वर्षों तक उत्पादन में रखा गया.

Harpal Singh Maruti 800 5

फोटो Team-BHP

Maruti 800 में सबसे पहले एक 796 सीसी, 3 सिलिंडर F8D पेट्रोल इंजन था जो हमें आजतक Alto 800 और Omni जैसी Maruti कार्स में देखने को मिलता है. ये इंजन इतना भरोसेमंद और कम मेंटेनेंस वाला है की ये भारत में बिकने वाले सबसे ज़्यादा कार्स में इस्तेमाल किया गया है. Maruti 800 के साथ इस इंजन को कई ट्यूनिंग के साथ ऑफर किया जाता था.

पहले जनरेशन में 35 बीएचपी से लेकर 5 स्पीड-MPFI मॉडल में 45 बीएचपी तक, ये इंजन इन सालों में पावरफुल होता चला गया. Maruti Alto 800 में अपने वर्तमान रूप में F8D इंजन का रिवाइज्ड वर्शन अब 47 बीएचपी-69 एनएम उत्पन्न करता है. इन सालों में इस पेट्रोल इंजन के LPG-पेट्रोल और CNG-पेट्रोल वैरिएंट लाये गए हैं. इस इंजन को शुरू में एक 4 स्पीड मैन्युअल गियरबॉक्स के साथ भेजा जाता था और 800 के अंतिम वर्षों में इसे 5 स्पीड मैन्युअल गियरबॉक्स के साथ ऑफर किया जाता था और यही कॉम्बिनेशन Maruti Alto में दिया जाने लगा.

Maruti 800 को उत्सर्जन नहीं इसी कंपनी के प्रतिद्वंदियों ने बंद कराया

Maruti Alto

हाँ, Maruti 800 एक समय पर Alto से ज़्यादा बिका करती थी. सस्ती Maruti 800 का ब्रांड अपील काफी ज़्यादा था और छोटे शहरों एवं गाँव के इलाकों में इस डिमांड काफी ज़्यादा थी. पर Alto ज़्यादा पावरफुल थी इसके लुक्स और फ़ीचर्स भी ज़्यादा मॉडर्न थे.

Alto के लाये जाने के बाद भी Maruti 800 की प्रसिद्धी के चलते कंपनी ने Alto की मशहूर करने के लिए 800 की सेल्स को बढ़ावा दिया. इसलिए 2010 में Maruti ने 800 का निर्माण बंद कर दिया और अंत में Alto ने भारत की सबसे ज़्यादा बिकने वाली कार का तमगा हासिल कर लिया, वो तमगा जो कई सालों तक 800 के पास था.

अब आगे क्या?

Maruti Future S Concept

अपने अभी वाले रूप में Maruti Alto 800 ज़्यादा दिन तक नहीं टिकी रहेगी क्योंकि सख्त होते सुरक्षा नियमों के चलते इस कार में काफी कुछ बदलना होगा. 2018 Auto Expo में पेश किया गया Future S Concept नयी Alto की जगह ले सकता है.

Maruti फिलहाल भारतीय मार्केट के लिए नयी Alto हैचबैक पर काम कर रही है और हमारे अनुसार इसमें F8D पेट्रोल इंजन ही इस्तेमाल किया जाएगा लेकिन ये Bharat Stage 6 उत्सर्जन नियमों का पालन करेगा. इसलिए भले ही Maruti 800 लम्बे समय पहले बंद कर दी गयी हो, इसका एक अंश — F8D इंजन — तब तक जिंदा रहेगा जब तक ऑल-इलेक्ट्रिक पॉवरट्रेन मार्केट पर छा नहीं जाते.

×

Subscibe our Newsletter