इंडिया की पहली हाइपरकार में जेट इंजन और इलेक्ट्रिक मोटर, दोनों हैं!

DC Design वो पहला देसी ब्रांड था जिसने इंडियन मार्केट में स्पोर्ट्स कार लॉन्च की थी. इस किफायती स्पोर्ट्स कार को इंडियन रोड्स के हिसाब से बनाया गया था जिसमें ऊंचा ग्राउंड क्लीयरेंस, और किफायती प्राइस टैग शामिल है. पेश है Vazirani Automotive, इंडिया का दूसरा ऐसा निर्माता जिसने Goodwood Festival of Speed में इंडिया की पहली कार डिस्प्ले की थी.

क्या बना रहे हैं ये?

Vazirani Shul एक टरबाइन-एक्लेक्ट्रिक हाइपरकार है जिसमें जेट टरबाइन-इलेक्ट्रिक पॉवरट्रेन है. ये एक बेहद उन्नत ड्राइवट्रेन है जो गाड़ी की रेंज कम किये बिना इसे हाई परफॉरमेंस देता है. कंपनी के मुख्य डिज़ाइनर Chunky Vazirani ने इस हाइपरकार को डिजाईन किया है और उनके पास Jaguar Land Rover एवं Rolls-Royce जैसे ब्रांड्स के साथ काम करने का अनुभव भी है.

Chunky Vazirani खुद एक शौक़ीन हैं और वो एक ऐसी गाड़ी बनाना चाहते थे जो मार्केट में मौजूद आम इलेक्ट्रिक कार्स से ज़्यादा भावनात्मक हो. इस इंडियन कंपनी ने टरबाइन विकसित करने के लिए UK की एक कंपनी के साथ काम किया है. इसमें आम पेट्रोल ही इस्तेमाल होगा जिससे ओनर प्रोपेलर के लिए आसानी से फ्यूल ढूंढ पायेंगे.

Vazirani Shul में 4 अलग-अलग इलेक्ट्रिक मोटर हैं जो हर चक्के के किनारे हैं. अलग इलेक्ट्रिक मोटर्स के चलते चक्कों की टॉर्क वेक्टरिंग स्वतंत्र हप जाती है जिससे गाड़ी काफी स्टेबल बन जाती है. मोटर चक्कों तक पॉवर को सिंगल राशन गियरबॉक्स के ज़रिये भेजता है क्योंकि इलेक्ट्रिक मोटर्स काफी पॉवर प्रदान करते हैं.

हालांकि अभी तक आंकड़े सामने नहीं आये हैं, ये हाइपरकार ज़्यादा कार्बन फाइबर के उपयोग के चलते बेहद हल्की होगी. गाड़ी का टब कार्बन फाइबर का बना है और इसके बॉडी पैनल्स में भी इसका इस्तेमाल किया गया है. गाड़ी के बैटरी का भी वज़न मात्र 300 किलो है और इसे गाड़ी के चलते वक़्त भी चार्ज किया जा सकता है. इसमें रीजेनेरेटिव ब्रेकिंग टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल किया गया है जो ब्रेक्स लगाने पर पॉवर को बैटरी तक पहुंचा देता है.

Vazirani के ये भी कहना है की इस गाड़ी को 0-100 किमी/घंटे के आंकड़े की लड़ाई के लिए नहीं बल्कि बेहतरीन हैंडलिंग और स्पोर्ट्स जैसे रिस्पांस के लिए विकसित किया गया है. Michelin ने इसके कांसेप्ट मॉडल के विकास के दौरान इनपुट भी दिए थे. हलांकि कार इंडिया से जुडी हुई है, Vazirani कहते हैं की ये इंडिया में नहीं बन पाएगी. इसका उत्पाद अमेरिका में होगा लेकिन इसके लॉन्च के लिए अभी कोई टाइमलाइन नहीं दी गयी है.

सोर्स