Indians Do Not Like Using Seatbelts; Here Are 5 Reasons Why भारतीयों को सीटबेल्ट लगाना नहीं है पसंद; और ये हैं इसके 5 प्रमुख कारण

भारतीयों को सीटबेल्ट लगाना नहीं है पसंद; और ये हैं इसके 5 प्रमुख कारण

आमतौर पर लोग मानते हैं की कार में सीटबेल्ट्स का उतना काम नहीं होता लेकिन एक्सीडेंट के दौरान सीटबेल्ट ही आपके ज़िन्दगी और मौत के बीच की दीवार बन सकती है. सीटबेल्ट्स ना केवल आगे के पैसेंजर्स के लिए बल्कि पीछे बैठे पैसेंजर्स के लिए भी ज़रूरी होते हैं. लेकिन, कई कारणों से भारतीयों को सीटबेल्ट पहनना अच्छा नहीं लगता और वो इसके लिए कई बहाने बनाते हैं. भारत की सबसे बड़ी कार निर्माता Maruti Suzuki ने ऐसे ही कुछ लोगों का एक सर्वे कराया और उसमें लोगों से सीटबेल्ट नहीं पहनने का कारण पूछा गया. पेश हैं इस सर्वे में सामने आये 5 सबसे प्रमुख कारण जो बताते हैं की भारत में लोग सीटबेल्ट पहनना क्यों नहीं पसंद करते हैं.

क़ानून ऐसा नहीं कहता

Indian Police 1

आपको मुश्किल से गाड़ी के पीछे वाले सीट पर बैठा कोई पैसेंजर मिलेगा जो सीटबेल्ट पहने हुए होगा. क्यों? क्योंकि ऐसा कोई नियम नहीं है जो पीछे की सीट पर बैठे लोगों के लिए सीटबेल्ट पहनना अनिवार्य करे. इंडियन क़ानून के हिसाब से सिर्फ ड्राईवर और को-ड्राईवर के लिए सीटबेल्ट पहनना अनिवार्य है. ऐसे लोग जो पीछे बैठे होते हैं, उन्हें कानूनन सीटबेल्ट पहनना ज़रूरी नहीं है. एक्सीडेंट के दौरान, रियर पैसेंजर फ्रंट सीट से टकरा सकते हैं और इससे काफी खतरनाक नुक्सान हो सकता है.

अच्छा नहीं दिखता!

Driving Without 2

हाँ! लोग सोचते हैं की सीटबेल्ट पहनने से आपकी मर्दानगी कम होती है. सर्वे में हिस्सा लेने वाले 40% लोगों ने कहा की पीछे बैठकर सीटबेल्ट पहनने से वो डरपोक दिखते हैं. उनका ये भी कहना है की अगर वो सीटबेल्ट पहनने लगे तो उनके साथ बैठे पैसेंजर उन्हें कायर बुलायेंगे.

जागरूकता की कमी

लगभग 34% लोगों ने कहा की उन्हें नहीं लगता की दुर्घटना में बचने के लिए सीटबेल्ट पहनना ज़रूरी होता है. कई पैसेंजर्स को ये नहीं पता की सीटबेल्ट असल में काम कैसे करते हैं और कई ऐसा सोचते हैं की रियर सीटबेल्ट उन्हें एक्सीडेंट में नहीं बचा पायेंगे.

लाइफस्टाइल या बड़ी उम्र

Booster 3

युवा अक्सर सीटबेल्ट नहीं लगाते. सर्वे के युवाओं ने कहा की वो सीटबेल्ट के बारे में फ़िक्र नहीं करते. 80% अविवाहितों ने कहा की वो सीटबेल्ट नहीं लगाते वहीँ 66% विवाहित एवं 50% विवाहित जोड़े जिनके बच्चे नहीं हैं उन्होंने ने भी ऐसा कहा.

कपड़े

Seat Belt 4

सर्वे के 32% लोगों ने कहा की सीटबेल्ट से उनके कपड़े खराब हो जाते हैं और इसी कारण से वो कपड़े नहीं पहनते. अगर आपके लिए सीटबेल्ट से कपड़े खराब होना एक दिक्कत है, तो आप मार्केट में उपलब्ध सीटबेल्ट कुशन खरीद सकते हैं.

×

Subscibe our Newsletter