यह इलेक्ट्रिक Honda Activa दर्शाती है कि जुगाड़ आखिर चीज़ क्या है

Honda Activa भारत में इस समय सबसे लोकप्रिय स्कूटर है. अब जबकि यह स्कूटर हजारों की संख्या में हर दिन बिक रहे हैं तो किसी भी Activa मालिक के लिए भीड़ में अलग दिखना काफी बड़ी चुनौती हो सकती है. मगर यहाँ Youtuber BLC Biker द्वारा प्रस्तुत किये गए एक विडियो में हमें शायद अब तक की सबसे नायाब Activa नज़र आई. तो आखिर क्या ऐसा ख़ास है इस स्कूटर में. जवाब बहुत आसान है — यह एक इलेक्ट्रिक स्कूटर है.

यह इलेक्ट्रिक Honda Activa स्कूटर दर्शाता है कि दुनियाभर में मशहूर भारतीय जुगाड़ आखिर चीज़ क्या है. यह इलेक्ट्रिक Activa प्रिंस नाम के व्यक्ति ने पठानकोट में विकसित की है. प्रिंस ने इस इलेक्ट्रिक Activa को अपनी ज़रुरत के हिसाब से डिजाईन किया है और इसमें उन्हें कुल खर्चा 56,000 रूपए आया है. इसमें 4,000 रूपए पुरानी Activa की कीमत भी शामिल है. इस पूरी प्रक्रिया में प्रिंस को 5 साल का समय लगता है मगर इसमें से कुछ समय पैसा बचाने में भी लगा.

तो आखिर इस इलेक्ट्रिक स्कूटर में ऐसा क्या ख़ास है कि यह देश की सबसे अनूठी Activa बन गयी है. इस स्कूटर में 800 वाट का मोटर लगा है जो प्राइस ने 20,000 रूपए में मुंबई से खरीदी थी. मगर बाद में चीन या जापान से आयात की गयी नयी मोटर के ज़रिये प्रिंस ने इस स्कूटर में 2.5 किलोवाट की बैटरी इस्तेमाल की है.

यह मोटर इस इलेक्ट्रिक Activa को इतनी पॉवर देती है कि इसकी उच्चतम गति 65 किलोमीटर प्रति घंटे तक पहुँच जाती है. प्रिंस ने इस स्कूटर में एक सुरक्षा फीचर जोड़ा है — यह एक 2-गियर ट्रांसमिशन है जो Activa में मौजूद पुराने इंजन के “चोक” सिस्टम से संचालित किया जाता है. जब आप चोक बटन दबाते हैं तो Activa सुरक्षा मोड में चला जाता है जहाँ इस स्कूटर की उच्चतम गति 35 किलोमीटर प्रति घंटे तक सीमित हो जाती है. मगर अगर आप इस बटन को दो बार दबाते हैं तो यह Activa अपनी उच्चतम गति आसानी से छू सकती है.

इस इलेक्ट्रिक Activa के निर्माता ने अपने स्कूटर में Samsung की लिथियम-आयन बैटरी का इस्तेमाल किया है. उनका दावा है कि एक फुल-चार्ज में यह स्कूटर 85 किलोमीटर तक का सफ़र तय कर सकता है. यह बैटरी एक 3 अम्पीयर का चार्जर इस्तेमाल करई है जो 6 घंटे में इसे पूरा चार्ज कर देता है. मगर प्रिंस का दावा है की एक अधिक पावरफुल चार्जर का इस्तेमाल कर इस समय इस स्कूटर को फ़ास्ट चार्जिंग दी जा सकती है. उदाहरण के लिए वह कहते हैं कि 50 अम्पीयर के चार्जर से आप मात्र डेढ़ घंटे में इस स्कूटर को पूरा चार्ज कर सकते हैं.

अगर उपकरणों की बात करें तो इस Activa में अनेकों बदलाव किये गए हैं. इनमें शामिल है पेट्रोल इंजन और उससे जुड़े सभी यंत्रो को पूर्ण रूप से हटाना. इसके साथ ही स्कूटर में प्रिंस ने अब एक स्विंग-आर्म और रियर व्हील पर डिस्क ब्रेक भी दिया है. स्कूटर की मोटर को यहीं पर फिट किया गया है. जैसा की आप देख सकते हैं, फ्यूल टैंक के स्थान पर इस Activa में अब बैटरी लगायी गयीं हैं.

अंत में प्रिंस ने इस स्कूटर के लुक्स में भी कुछ बदलाव किये हैं. उन्होंने Activa के मूल हेडलैंप और इंडिकेटर को हटा दिया है. इसके स्थान पर अब चौकोर LED हेडलैंप दिया गया है और इंडिकेटर को हैंडलबार के दोनों सिरों पर लगाया गया है. इसके साथ ही इस स्कूटर को शुरू करने के लिए भी एक नयी प्रणाली का इस्तेमाल हुआ है. चालक को चाबी घुमाने के बाद स्कूटर का सीधे हाथ पर मौजूद ब्रेक दबाना पड़ता है.

Honda फ़िलहाल भारत में किसी भी इलेक्ट्रिक स्कूटर का निर्माण नहीं करता मगर पठानकोट का यह अजूबा हमें बताता है कि क्यों Activa का एक इलेक्ट्रिक संस्करण भविष्य में बेमानी नहीं होगा. जहाँ इस काम की कीमत कम नहीं है, वहीँ यह टी है कि आप अपना इलेक्ट्रिक स्कूटर अब खुद भी बना सकते हैं. अब जबकि सरकार का भी सारा जोर इलेक्ट्रिक वाहनों पर है तो प्रिंस जैसे कलाकारों के लिए यह समय वाकई रोचक और अवसरों भरा है.